संस्करणों

महात्मा गाँधी पर ई-बुक टैबलेट पढ़ाएगा गुजराती और हिन्दी में किताबें

YS TEAM
14th Jun 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

महात्मा गांधी पर लिखी गयी किताबों को लोकप्रिय बनाने और लोगों के पढ़ने के बदलते तरीकों के साथ चलने का प्रयास करते हुए शहर के एक न्यास ने अपना टैबलेट बाजार में लाने का फैसला लिया है, जिसकी मदद से लोग राष्ट्रपिता के बारे में गुजराती और हिन्दी भाषाओं में पढ़ सकेंगे।

image


नवजीवन न्यास किंडल जैसा ई-बुक टैबलेट लाने की योजना बना रहा है। इसमें महात्मा गांधी पर लिखी 170 किताबें होंगी जिन्हें लोग गुजराती और हिन्दी भाषा में पढ़ सकेंगे। नवजीवन न्यास के प्रबंध न्यासी विवेक देसाई ने आज गांधीजी द्वारा 1909 में लिखी पुस्तक ‘हिन्द स्वराज’ के चार ई-बुक संस्करणों सहित किताब के 10 संस्करणों का विमोचन करते हुए यह घोषणा की।

गांधीजी द्वारा 1919 में स्थापित नवजीवन न्यास अभी तक उनकी 170 पुस्तकों का 10,500 ऑनलाइन संस्करण बेच चुका है।देसाई ने कहा कि इन्हीं आंकड़ों को देखते हुए न्यास ने किंडल की भांति विशेष टैबलेट लांच करने की योजना बनायी है। (पीटीआई) 

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags