संस्करणों
विविध

अमेजन से महंगे फोन मंगाकर 54 लाख का चूना लगाने वाला युवक पकड़ा गया

12th Oct 2017
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

उत्तर पश्चिमी दिल्ली के त्रिनगर इलाके से गिरफ्तार किए गए शिवम ने अप्रैल से मई के बीच ये शॉपिंग की थी। वह गिफ्ट कार्ड से पेमेंट करता था और फोन रिसीव करने के बाद कंपनी से कहता था कि उसे खाली डिब्बा मिला।

सांकेतिक तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

सांकेतिक तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)


शिवम ने बाद में पुलिस को बताया कि वह इन महंगे फोनों को गफ्फार मार्केट और करोल बाग जैसी जगहों पर बेच देता था और उसने कुछ फोन ओएलएक्स पर भी बेचे।

पुलिस ने उसके नंबर को सर्विलांस के जरिए ट्रेस किया और धरपकड़ कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से 19 मोबाइल, 12 लाख रुपए नकद और 40 बैंक पासबुक को जब्त कर लिया है। 

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के एक ऐसे युवक को पकड़ा है जो अमेजन जैसी बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी से ठगी करता था। शिवम चोपड़ा नाम के इस आरोपी ने फर्जी सिम से लगभग 200 से भी ज्यादा फोन ऑर्डर किए और कंपनी से कहा कि उसे फोन नहीं मिले। शिवम ने ये ऑर्डर अलग-अलग फर्जी सिम और नामों से किए। कंपनी को जब शक हुआ तो आंतरिक जांच बिठाई गई और बाद में ये सामने निकलकर आया कि इन ऑर्डरों में काफी समानता है। कंपनी ने इसके बारे में पुलिस से मदद ली और आखिरकार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि शिवम ने अमेजन से 166 बार रिफंड लिया था।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली के त्रिनगर इलाके से गिरफ्तार किए गए शिवम ने अप्रैल से मई के बीच ये शॉपिंग की थी। वह गिफ्ट कार्ड से पेमेंट करता था और फोन रिसीव करने के बाद कंपनी से कहता था कि उसे खाली डिब्बा मिला। इस तरह से उसने लगभग 225 ऑर्डर किए लेकिन कंपनी से उसे सिर्फ 166 ऑर्डर के रिफंड मिले। इस तरह से उसने लगभग 54 लाख का रिफंड मुफ्त में ले लिया। शिवम ने बाद में पुलिस को बताया कि वह इन महंगे फोनों को गफ्फार मार्केट और करोल बाग जैसी जगहों पर बेच देता था और उसने कुछ फोन ओएलएक्स पर भी बेचे।

आरोपी ने सिम लेने के लिए सचिन जैन नाम के आदमी से मदद ली थी जो 150 रुपये में प्री ऐक्टिवेटेड सिम उपलब्ध करवा देता था। आपको जानकर हैरानी होगी कि शिवम की उम्र सिर्फ 21 साल है और वह होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहा है। पुलिस ने उसकी मदद करने वाले सचिन को भी गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल ये सारे फोन अमेजन के एक ही वेयरहाउस के थे। इस वजह से कंपनी को एक ही जगह से लगातार रिफंड की रिक्वेस्ट मिलने से धोखाधड़ी का शक हुआ जिसके बाद कंपनी ने आंतरिक जांच की और पुलिस के साथ मिलकर खुलासा कर दिया।

शिवम इन फोनों को ऑर्डर करने के बाद कोरियर के डिलिवरी बॉय को किसी अलग जगह पर बुलाता था ताकि वह पकड़ा न जा सके। इसके लिए वह हर बार अलग-अलग नंबरों का इस्तेमाल करता था। पुलिस ने उसके नंबर को सर्विलांस के जरिए ट्रेस किया और धरपकड़ कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से 19 मोबाइल, 12 लाख रुपए नकद और 40 बैंक पासबुक को जब्त कर लिया है। अमेजन इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, 'हम दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे और इस मामले में जांच करने के लिए दिल्ली पुलिस का धन्यवाद करते हैं।'

यह भी पढे़ं: केरल की नई आरक्षण नीति के तहत पुजारी बने पहले दलित यदु कृष्ण

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें