संस्करणों
विविध

कैश की कमी एक हफ्ते और रहेगी

एक खुफिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई है, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटों के बदल जाने की प्रक्रिया के चलते भारतीय जनता को एक हफ्ते थोड़ा और संघर्ष करना पड़ सकता है, उसके बाद सब पहले की तरह सामान्य हो जायेगा।

PTI Bhasha
16th Nov 2016
Add to
Shares
5
Comments
Share This
Add to
Shares
5
Comments
Share

बैंकों और एटीएमों में नकदी का संकट कम से कम एक सप्ताह और रहने की संभावना है। एक खुफिया रिपोर्ट में यह बात कही गई है। रिपोर्ट में इसकी वजह नोटों की मांग और आपूर्ति में भारी अंतर को बताया गया है।

image


खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार पर गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि विनिमय में पर्याप्त धनराशि नहीं आयी है। लोग छोटे नोट जमा करके रख रहे हैं। वे 100-100 रुपये के नोट खर्च नहीं कर रहे हैं, जो वे 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों को बदलकर या फिर एटीएमों से हासिल कर रहे हैं।

अधिकारियों ने बताया कि नोटों की मांग और आपूर्ति में भारी अंतर के चलते नकद की कमी कम से कम एक हफ्ते और बनी रहेगी।

अधिकारियों कहना है कि दरअसल 100 और 500 रुपये के नये नोट पर्याप्त संख्या में विनिमय में नहीं आए हैं, जिससे लोगों को असुविधा हो रही है। यह समस्या दिल्ली और कुछ अन्य बड़े शहरी केंद्र पर अधिक है क्योंकि पर्याप्त एटीएम काम नहीं कर रहे हैं तथा उनमें पैसा भरने की गति बहुत धीमी है। 

जब तक एटीएम यथाशीघ्र काम नहीं करने लग जाते, बैंकों के बाहर लंबी लाइनें इसी तरह लगती रहेंगी।
Add to
Shares
5
Comments
Share This
Add to
Shares
5
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags