संस्करणों

मानवरहित क्रॉसिंग पर दुर्घटना रोकने के लिए नई कोशिशें

मानवरहित क्रॉसिंग पर ट्रेन ड्राइवरों को सतर्क करने वाला तंत्र जल्द शुरू होगा : प्रधानमंत्री

9th Sep 2015
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

पीटीआई


image


मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर होने वाली दुर्घटनाओं को कम करने की कोशिशें तेज हो गई हैं। इन दुर्घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिंता जताई है। उनका कहना है ऐसी दुर्घटनाओं को खत्म करने के लिए कोशिशें जारी हैं। उन्होंने ये भी कहा कि ट्रेन ड्राइवरों को मानवरहित रेलवे क्रॉसिंगों के बारे में सतर्क करने वाले एक तंत्र की शुरूआत बहुत जल्द की जाएगी।

image


उन्होंने कहा कि उन्हीं की सलाह पर वाराणसी स्थित डीजल लोकोमोटिव कारखाने के इंजीनियरों ने यह प्रौद्योगिकी ईजाद की है ।

मोदी ने वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मानवरहित क्रॉसिंगों के कई समाधान हैं । क्या उपग्रह से मानवरहित क्रॉसिंगों से जुड़ी समस्या का हल निकल सकता है ?’’ वाराणसी स्थित लोको शेड के अपने दौरे को याद करते हुए मोदी ने कहा कि उन्होंने इंजीनियरों को एक प्रौद्योगिकी ईजाद करने का सुझाव दिया था ताकि इंजन ड्राइवरों को लेवल क्रॉसिंगों के बारे में सतर्क किया जा सके ।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस प्रौद्योगिकी की शुरूआत जल्द ही की जाएगी । उन्होंने कहा कि यह विमानों की तर्ज पर होगा जिसमें पायलट को बादलों वगैरह के बारे में पहले ही सूचना मिल जाती है ।

गौरतलब है कि मानवरहित क्रॉसिंग से कई हादसे होते हैं जिसमें हर साल बहुत लोग मारे जाते हैं।

आम लोगों के फायदे के लिए अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल में कोई कसर न छोड़ने का आह्वान करते हुए मोदी ने कहा कि वैज्ञानिक समुदाय को प्रशासन की सहायता के लिए नवोन्मेषी समाधान विकसित करना चाहिए ।

‘रोजमर्रा के प्रशासन में अंतरिक्ष अनुप्रयोगों का इस्तेमाल’ विषय पर अलग-अलग मंत्रालयों और राज्य सरकारों के शीर्ष अधिकारियों के एक राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने प्रशासन के सभी क्षेत्रों में नई पहलों की जरूरत पर जोर दिया ।

उन्होंने सभी विभागों से कहा कि वे अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के जरिए सुलझाए जा सकने वाले मुद्दों की पहचान करें और नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए समर्पित प्रकोष्ठ स्थापित करें ।

प्रधानमंत्री ने महान अंतरिक्ष वैज्ञानिक विक्रम साराभाई को एक ‘‘दूरदृष्टा’’ के तौर पर याद किया ।

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags