संस्करणों
प्रेरणा

‘देश के विकास के लिए ज़रूरी है स्टार्ट अप और स्टैंड अप इंडिया’

नए स्टार्ट अप के लिए खुशखबरीप्रधानमंत्री मोदी ने किया ऐलानबैंकों की सवा लाख शाखाएं नए स्टार्ट अप को लोने देगी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति को प्रमुखता दी जाएगीमहिलाओं को भी दी जाएगी प्रमुखता

योरस्टोरी टीम हिन्दी
15th Aug 2015
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on

अगर युवा मजबूत हैं, उनके पास ताक़त है और उनमें आगे बढ़ने का सामर्थ्य है तो देश विकास के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ सकता है। दुनिया भर में सबसे ज्यादा युवा हमारे देश में हैं। अगर इन युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए, उनकी ऊर्जा को एक सही मंज़िल दिखाने के लिए नीतियां बनाई जाती हैं तो तय है युवाओं के साथ साथ देश का भविष्य उज्ज्वल है।


image


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं के लिए नारा दिया है स्टार्ट अप इंडिया और स्टैंड अप इंडिया का। प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से स्‍वतंत्रता दिवस के अपने दूसरे भाषण में कहा कि वित्तीय सहयोग और जनभागीदारी से देश के विकास का पिरामिड मजबूत होगा। मोदी ने कहा कि ‘देश के विकास के लिए ज़रूरी है स्टार्ट अप और स्टैंड अप इंडिया और आने वाले दिनों में देश में स्‍टार्ट अप का जाल बिछेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ आने वाले दिनों में स्टार्ट अप इंडिया, देश के भविष्य के लिए स्टैंड अप इंडिया होगा।’’ उन्होंने कहा कि हमारे देश में जो उद्योग अधिक से अधिक रोजगार देने का काम करेंगे, उनके लिए अलग से आर्थिक पैकेज होगा।


image


देश में कुल सवा लाख बैंकों की शाखाएं हैं और ये शाखाएं नए स्टार्ट अप के लिए लोन देगी। इनमें खास तौर से अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति को प्रमुखता दी जाएगी। इसके साथ ही महिला उद्यमियों को भी स्टार्ट अप के रूप में तैयार किया जाएगा। हर बैंक ब्रांच के पास जिम्मेदारी होगी कि वह कम से कम उम्र के व्यक्ति को स्टार्ट अप के रूप में लोन दे।

  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Report an issue
Authors

Related Tags