संस्करणों

“सूप्स एंड स्लास्ड्स”, स्वादिष्ट खाना और स्वस्थ जीवन का लक्ष्य

हैदराबाद की कम्पनी भोजन के साथ स्वास्थ्य के प्रति भी लोगों को करती है जागरूक

9th Jul 2015
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

कभी-कभी या कई बार तो कुछ दिनों में ही हमारा मन अच्छे सलाद और सूप का करता है। हम अपने खाने को लेकर ज्यादा ध्यान नहीं देते और जब भूख लगती है, तो ये नहीं सोचते कि यह भोजन स्वास्थ्य के लिए कितना हानिकारक होगा। यह जानते हुए भी कि जंक फ़ूड है, हम स्टेक्स, बर्गर और पिज्ज़ा खाने से परहेज नहीं कर पाते। सूप और सलाद स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद रहता है और यह भोजन की जगह भी उपयुक्त होता है।

image


बहुत से स्वस्थ लोग की तो पसंद सूप और सलाद ही होती है। सूप्स एंड स्लास्ड्स की संस्थापक सौजन्या ओबुलापू स्वस्थ भोजन के बारे में बताते हुए कहती हैं, “स्वस्थ भोजन की मांग फ़ूड मार्किट में तेजी से उभर रही है। बहुत से लोग ताज़ा प्राकृतिक भोजन को चुनकर, अपने रोजाना के भोजन से फैट को कम से कम करना चाहते हैं।”

सूप्स एंड स्लास्ड्स?

2013 में शुरू हुआ सूप्स एंड स्लास्ड्स ‘झट-पट सेवा देना वाला फाइन-डाइनिंग रेस्तरां’ है। यह सूप्स, स्लास्ड्स, व्रैपस, डेसर्टस, वर्जिन ड्रिंक्सस, स्मूथीज और प्रोटीन जैसे स्वस्थ भोजन की सेवा देता है। उनके सभी भोजन या तो पके रहते हैं या ग्रिल्ड रहते हैं और वे अपने व्यंजनों में जमे हुए खाने का इस्तेमाल नही करते हैं। सौजन्या बताती है “हमारे पास करीब 100 ऑर्डर रोज़ आते हैं और हम ग्राहक की जरूरतों के अनुसार ऑर्डर तैयार करते हैं। हम अपने हर ग्राहक के लिए अलग और विशेष ताज़ी सामग्री का इस्तेमाल करते हैं। यह हमारी सेवा और दूसरों की सेवा में बहुत फर्क डाल देता है।”

image


सौजन्या?

सौजन्या हैदराबाद में अपनी दुकान का सेट-अप रखने से पहले, अमेरिका में आईटी-विश्लेषक (एनालिस्ट) के तौर पे california Culinary Academy में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा चुकी है। सौजन्या अपने विचार साझा करते हुए कहती है, “हम अपने खाने के माध्यम से स्वस्थ जीवन शैली को बढ़ाना चाहते हैं। स्वास्थ और शरीर की फ़िक्र करने वाले ग्राहकों को हम अपनी सुविधाएं देना चाहते हैं। हमारा आखिरी लक्ष्य भारत में स्वस्थ जीवन शैली का पर्याय बनना है।”

हमारे द्वारा उपयोग की जाने वाली सारी सामाग्री स्थानीय बाज़ार से ही लायी जाती है। हर बदलते मौसम के साथ सूप्स एंड स्लास्ड्स का मेन्यू भी बदल जाता है। जिससे ग्राहकों को भी भोजन चुनने के लिए विविधता मिल जाती है। आजकल यहाँ मानसून मेन्यू परोसा जा रहा है।

मार्केटिंग

सौजन्या आंकड़े देते हुए कहती है, “हमारी ज्यादातर मार्केटिंग लोगों की मुंहजुबानी और Zomato,Burrp जैसे पोर्टलों पर रिव्यु से होती है। हमारे फेसबुक पेज की रेटिंग 5.0/4.6 है।” इसके अलावा उन्होंने लोगों का ध्यान स्वस्थ खाने के प्रति खींचने के लिए, फूडी मीट्स-अप, फ़ूड टेस्टिंग इवेंट्स, बड़े और बच्चों के लिए कुकिंग क्लास जैसे इवेंट भी आयोजित किये हैं।

image


विस्तार

एक प्रमुख जगह पर सूप्स एंड स्लास्ड्स का शुरूआती निवेश 50 लाख के करीब है। सूप्स एंड स्लास्ड्स की टीम हैदराबाद और शेष भारत में कॉर्पोरेट शाखा खोलने की ओर बढ़ रही है। इसके अतिरिक्त अगले तीन सालों में बहुत से नगरों में भी ब्रांच खोलने के लिए कम्पनी मौके देख रही है।

चुनौतियां

सौजन्या कहती है हमारी शुरूआती चुनौती लोगों को स्वस्थ खाने के प्रति शिक्षित करना है। हम लोगों को रोजाना अपने सोशल मीडिया पेजों पर नयी-नयी जानकारी देते रहते हैं। इसके अलावा हम मेन्यू में भी स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी देते रहते हैं। साथ ही भोजन के बढ़ते दाम भी एक चुनौती।”


सीख

एक रेस्तरां चलाते हुए तीन बातों का ख्याल रखें।

  1. कमर्चारी संतुष्टी- अच्छी ग्राहक सेवा चलाने के लिए कर्मचारी को संतुष्ट रखें।
  2. अच्छी क्वालिटी की ताजे फल-सब्जी उपलब्ध कराने वाले विक्रेता को खोजें।
  3. कम्पनी के लक्ष्य और मूल्यों के लिए, कुशल स्टाफ होना बहुत जरूरी है।

कृपया अपना कमेन्ट नीचे दें।

यह कहानी “F&bB Entrepreneures” की एक कड़ी है, जिसके प्रस्तुतकर्ता हैं ‘Chilli Paneer- A DBS Production.’

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags