संस्करणों
विविध

खाने के बाद अगर आपको भी होती है चाय की तलब, तो हो जायें सावधान!

क्या आपको भी खाना खाने के बाद महसूस होती चाय की तलब?

19th Jul 2017
Add to
Shares
228
Comments
Share This
Add to
Shares
228
Comments
Share

कुछ लोगों को चाय की इतनी ज्यादा आदत होती है कि उन्हें हर समय चाय की ललक लगी रहती है। ऐसे में कई लोगों को सुबह के नाश्ते, दोपहर के लंच और रात के डिनर के बाद भी चाय पीने की आदत होती है। यदि आपको भी ऐसी आदत है तो हम आपको बता दें कि राष्ट्रीय पोषण संस्थान द्वारा जारी खानपान की गाइडलाइन के मुताबित ये आदत आपके स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक हानिकारक हो सकती हैं।

image


राष्ट्रीय पोषण संस्थान ने हाल ही में भारतीयों के खानपान से संबंधित गाइडलाइन जारी की है,जिसमें कहा गया है कि सुबह नाश्ते के समय हमारे शरीर को सबसे ज्यादा पोषण की आवश्यकता होती है। लेकिन नाश्ते के एक घंटे के भीतर ही चाय या कॉफी का सेवन करना गंभीर बीमारियों को बुलावा है।

पोषण संबंधी मसौदा तैयार करने वाली आहार मार्गदर्शक समिति के संयोजक डॉ. डी रघुनाथ राव के मुताबिक, नाश्ते या भोजन के एक घंटे तक चाय और कॉफी से दूरी बनाए रखनी चाहिए।

कुछ लोगों को चाय की इतनी ज्यादा आदत होती है, कि उन्हें हर समय चाय की ललक लगी रहती है। ऐसे में कई लोगों को सुबह के नाश्ते, दोपहर के लंच और रात के डिनर के बाद भी चाय पीने की आदत होती है। यदि आपको भी ऐसी आदत है, तो हम आपको बता दें कि राष्ट्रीय पोषण संस्थान द्वारा जारी खानपान की गाइडलाइन के मुताबित ये आदत आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती है। राष्ट्रीय पोषण संस्थान ने हाल ही में भारतीयों के खानपान से संबंधित गाइडलाइन जारी की है। इसमें कहा गया है कि सुबह नाश्ते के समय हमारे शरीर को सबसे ज्यादा पोषण की आवश्यकता होती है, लेकिन नाश्ते के एक घंटे के भीतर चाय या कॉफी का सेवन करना गंभीर बीमारियों को बुलावा है। इससे शरीर में आयरन की अवशोषण क्षमता घटती है और पोषण के बावजूद व्यक्ति एनिमिया का शिकार हो जाता है।

भोजन और चाय का एक साथ सेवन करने से पाचन पर भी असर पड़ता है। पोषण संबंधी मसौदा तैयार करने वाली आहार मार्गदर्शक समिति के संयोजक डॉ. डी रघुनाथ राव के मुताबिक, नाश्ते या भोजन के एक घंटे तक चाय और कॉफी से दूरी बनाए रखनी चाहिए। गाइडलाइन में बताया गया है कि हृदय संबंधी बीमारियों से पीड़ित लोगों को कॉफी का उपयोग नहीं करना चाहिए या बहुत कम करना चाहिए। कॉफी पीने के बाद शरीर में रक्तचाप बढ़ता है जो हृदय की धड़कन को अनियमित बनाता है।

खाने के बाद चाय की चुस्की, न बाबा न

चाय की चुस्की दिनभर की सारी थकान को दूर कर देती है और यह दिन की ताजगी भरी शुरुआत का भी एक हिस्सा होती है। खाना खाने के बाद चाय पीना अधिकतर लोगों की आदत में शामिल होता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी ये आदत आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाती है। कुछ लोग कहते हैं कि वे खाना खाने के तुरंत बाद चाय पीने की आदत रखते हैं, खासतौर पर सर्दियों में तो हमेशा उन्हें खाने के बाद चाय चाहिये ही होती है।

भोजन करने के तुरंत बाद चाय पीना सेहत के लिए कतई अच्छी बात नहीं हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि चाय की पत्ती में एसिडिक गुण होते हैं और जब वो भोजन के प्रोटीन के साथ मिलते हैं तो प्रोटीन सख्त हो जाता है, जिस वजह से उसे पचाने में मुश्किल होती है। इसलिए चाय का सेवन खाना खाने के तुरंत बाद ना ही करें तो अच्छा होता है। इसके अलावा चाय में कैफीन होता है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ाता है। साथ ही कैफीन की मात्रा शरीर में कोर्टिसोल यानी कि स्टेरॉयड हार्मोंस को बढ़ा देती है, जिससे शरीर को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

यदि आप चाय या कॉफी के बिना रह ही नहीं सकते हैं तो कम से कम भोजन के एक घंटे बाद इनका सेवन करें और इन बीमारियों से खुद को बचाएं-

एनीमिया

चाय या कॉफी में ‘टैनिन’ रसायन होता है, जो आयरन के अवशोषण को बाधित करता है। इससे मानसिक और शारीरिक थकान लगती है। जिन महिलाओं को आयरन, कैल्शियम की कमी होती है, उन्हें खाने के बाद चाय बिल्कुल नहीं पीना चाहिए। खाने के तुरंत बाद चाय पीने से खाने में मौजूद आयरन अब्जॉर्व नहीं होता और आयरन की कमी हो सकती है।

डायबिटीज

चाय में मौजूद कैफीन की मात्रा शरीर में कॉर्टिसोल अर्थात स्टेरॉयड हार्मोंस को बढ़ाती है, जिससे शरीर को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इनमें दिल से संबंधित समस्याएं, डायबिटीज और वजन बढ़ना शामिल है।

पाचन पर असर

चाय की पत्ती में अम्लीय गुण होते हैं, जो भोजन के प्रोटीन के साथ मिलकर उसे सख्त बना देते हैं। इससे प्रोटीन को पचाने में मुश्किल होती है और पाचन पर असर पड़ता है।

और भी कई गंभीर दुष्प्रभाव

खाने के बाद चाय पीने से प्रोटीन का अब्जार्बशन पूरी तरह से नहीं होता, जिससे भरपूर प्रोटीन लेने के बाद भी मसल्स कमजोर होने लगेगे। चाय में पाया जाने वाला टैनिन पेट में मौजूद एसिड से मिलकर पेप्टिक अल्सर संभावना को बढ़ा सकता है। इसलिए खाने के तुरंत बाद चाय पीने की गलती न करें। चाय में साइनोजन होता है, अगर आप खाना खाने के तुरंत बाद चाय पीते हैं तो पेरालिसिस होने की संभावना बढ़ जाती है।

ये भी पढ़ें,

क्यों करते हैं लोग आत्महत्या?

Add to
Shares
228
Comments
Share This
Add to
Shares
228
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags