संस्करणों
विविध

भारती एयरटेल ने बनाई देश की पहली विश्वस्तरीय टीआईपी कम्युनिटी लैब

17th Nov 2017
Add to
Shares
82
Comments
Share This
Add to
Shares
82
Comments
Share

सुनील मित्तल संचालित भारती एयरटेल ने भारत की पहली दूरसंचार इन्फ्रा परियोजना (टीआईपी) समुदाय प्रयोगशाला शुरू की। इसी के साथ वह इस विश्वव्यापी पहल के प्रारंभिक सदस्य बन गए हैं। एक बयान में गुरुग्राम आधारित इस दूरसंचार कंपनी ने कहा, एयरटेल टीआईपी के शुरुआती सदस्यों में से एक है।

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर


एक वैश्विक पहल जो कि फेसबुक, ड्यूच टेलीकॉम, इंटेल, नोकिया और एसके टेलीकॉम द्वारा स्थापित की गई है, जो कि दूरसंचार नेटवर्क के बुनियादी ढांचे के निर्माण और तैनाती के लिए एक नया दृष्टिकोण तैयार करती है।

 समुदाय का सामूहिक उद्देश्य नई प्रौद्योगिकियों पर सहयोग करना, नए व्यावसायिक दृष्टिकोणों की जांच करना और दूरसंचार क्षेत्र में नए निवेश को प्रोत्साहित करना है। फरवरी 2016 में स्थापित, टीआईपी एक इंजीनियरिंग-केंद्रित पहल है जो ऑपरेटरों, आपूर्तिकर्ता, एकीकृतकर्ताओं द्वारा संचालित है और पारंपरिक नेटवर्क परिनियोजन दृष्टिकोण को अलग करने के लिए शुरूआती है।

सुनील मित्तल संचालित भारती एयरटेल ने भारत की पहली दूरसंचार इन्फ्रा परियोजना (टीआईपी) समुदाय प्रयोगशाला शुरू की। इसी के साथ वह इस विश्वव्यापी पहल के प्रारंभिक सदस्य बन गए हैं। एक बयान में गुरुग्राम आधारित इस दूरसंचार कंपनी ने कहा, एयरटेल टीआईपी के शुरुआती सदस्यों में से एक है। एक वैश्विक पहल जो कि फेसबुक, ड्यूच टेलीकॉम, इंटेल, नोकिया और एसके टेलीकॉम द्वारा स्थापित की गई है, जो कि दूरसंचार नेटवर्क के बुनियादी ढांचे के निर्माण और तैनाती के लिए एक नया दृष्टिकोण तैयार करती है। समुदाय का सामूहिक उद्देश्य नई प्रौद्योगिकियों पर सहयोग करना, नए व्यावसायिक दृष्टिकोणों की जांच करना और दूरसंचार क्षेत्र में नए निवेश को प्रोत्साहित करना है। फरवरी 2016 में स्थापित, टीआईपी एक इंजीनियरिंग-केंद्रित पहल है जो ऑपरेटरों, आपूर्तिकर्ता, एकीकृतकर्ताओं द्वारा संचालित है और पारंपरिक नेटवर्क परिनियोजन दृष्टिकोण को अलग करने के लिए शुरूआती है।

क्या है 'टीआईपी कम्युनिटी लैब' पहल-

टीआईपी यानि कि टेलीकॉम इंफ्रा प्रोजेक्ट, कम्युनिटी लैब तेजी से वास्तविक दुनिया के पायलटों को सक्षम करते हैं। जो स्केल पर नए समाधानों को अपनाने की आशा करते हैं। टीआईपी समुदाय लैब टिप परियोजना समूहों और परियोजना के अध्यक्षों के लिए एक संसाधन है। यह एक उपकरण है। टीआईपी प्रोजेक्ट से समूह उनके समुदाय-आधारित सहयोग को गति देने के लिए लाभ उठा सकते हैं। टीआईपी की वेबसाइट के मुताबिक, प्रयोगशालाओं के साथ हम प्रोजेक्ट समूह के लिए ऑपरेटर के अनुरूप तकनीकी समाधान विकसित करने के लिए एक स्वस्थ वातावरण प्रदान करना चाहते हैं। एक टीआईपी समुदाय लैब का इस्तेमाल अवधारणा के प्रमाण (पीओसी) या संदर्भ के कार्यान्वयन के लिए सहयोग के स्थान के रूप में किया जा सकता है। या विशिष्ट प्रकार के सेवा प्रदाता उपयोग के मामलों को संबोधित करने के लिए डिजाइन किए गए अन्य प्रकार के सहयोग के लिए किया जा सकता है।

क्या है भारती एयरटेल का योगदान-

भारती एयरटेल के निदेशक-नेटवर्क (भारत और दक्षिण एशिया) अभय सावरगांवकर के मुताबिक, भारत की दूरसंचार क्रांति में सबसे आगे रहने के बाद, एयरटेल अपने नेटवर्क के नवाचार सुविधाओं को बढ़ते हुए टीपी समुदाय लैब कार्यक्रम में विस्तारित करने के लिए उत्साहित है। टीआईपी एक इंजीनियरिंग-केंद्रित पहल है जिसे ऑपरेटरों, आपूर्तिकर्ताओं, एकीकृतकर्ताओं और स्टार्टअप द्वारा संचालित किया जाता है, जो कि पारंपरिक नेटवर्क परिनियोजन दृष्टिकोण को अलग करने के लिए 2016 में स्थापित किया गया था।

भारती के मार्केट लीडर के मुताबिक, भविष्य के लिए अभिनव नेटवर्क बुनियादी ढांचे के समाधान के लिए अन्य टीआईपी सदस्यों के साथ मिलकर काम करना है और रोमांचक और विघटनकारी समाधानों के साथ ग्राहकों को सेवा देने के लिए जल्दी और लागत प्रभावी रूप से अपने नेटवर्क की पहुंच का विस्तार करना है। एयरटेल हरियाणा के गुड़गांव के पास मानेसर में नेटवर्क उत्कृष्टता के लिए अपने इंजीनियरिंग केंद्र के एक हिस्से को परिवर्तित करके टीआईपी के प्रयासों के प्रति अपनी वचनबद्धता का प्रदर्शन कर रहा है और इसका लक्ष्य टीआईपी परियोजना समूह के सदस्यों द्वारा दूरसंचार नेटवर्क के लिए नवीन समाधान बनाने के लिए करना है।

टेक्नोलॉजी इनोवेशन के टीआईप अध्यक्ष और उपाध्यक्ष एक्सल क्लेबुर्ग के मुताबिक, हम मानेसर में पहली टीआईपी कम्युनिटी लैब स्थापित करने के लिए एयरटेल के साथ काम करने की आशा करते हैं। हमारा समुदाय हर जगह नेटवर्क परिनियोजन के लिए पारंपरिक दृष्टिकोणों का पुन: कल्पना कर रहा है, और यह प्रयोगशाला इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अभिनव समाधानों के विकास में तेजी ला सकती है।

एयरटेल नेटवर्क (भारत और दक्षिण एशिया) अभय सावरगांवकर के मुताबिक, हम भविष्य के लिए नए नेटवर्क बुनियादी ढांचा समाधान तैयार करने में अन्य टीआईपी सदस्यों के साथ मिलकर सहयोग करने की आशा रखते हैं, और रोमांचक और विघटनकारी समाधान वाले ग्राहकों को सेवा देने के लिए जल्दी और लागत प्रभावी रूप से हमारे नेटवर्क की पहुंच का विस्तार करते हैं। 

ये भी पढ़ें: पहले खरीदें बाद में दें पैसे, पेटीएम ने ICICI बैंक के साथ मिलकर शुरू की पोस्टपेड सेवा

Add to
Shares
82
Comments
Share This
Add to
Shares
82
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags