संस्करणों

बटन दबाओ, एक मिनट में रोटी पाओ, आटा गूंथने के झंझट से भी मुक्ति पाओ...

सिंगापुर में ईजाद हुई Rotimatic कंपनी को मिल रहा है अनुदानआटा-पानी मिलाने का झंझट नहीं

7th Jul 2015
Add to
Shares
3
Comments
Share This
Add to
Shares
3
Comments
Share

रोटी, उत्तर भारत के खाने का एक प्रमुख हिस्सा है। इस रोटी को यहां जितने चाव से खाया जाता है उसे बनाने में उतनी मेहनत भी लगती है। रोटी बनाने में इसी मेहनत को बचाने के लिए Rotimatic मशीन को ईजाद किया गया है जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति सिर्फ एक बटन दबा कर मशीन से गरमा गरम फुलके हासिल कर सकता है। इस मशीन को बनाया है Zimplistic ने। जो सिंगापुर की कंपनी है और इस कंपनी के मालिक हैं प्रनोती नागरकर।

image


इस मशीन का इस्तेमाल कोई भी आम आदमी कर सकता है भले ही उसे रोटी बनाना आता हो या नहीं। मशीन में आटा और पानी के लिए अलग अलग डिब्बे होते हैं जिनमें सिर्फ रोटी बनाने लायक आटा और पानी डालना होता है। ये मात्रा कितनी हो इसको नापने की कोई जरूरत भी नहीं होती ये खुद आपस में घुल जाते हैं और रोटी एक मिनट के अंदर तैयार होकर मशीन से बाहर आ जाती है।

सिंगापुर में Zimplistic का शुमार उन 15 कंपनियों में होता है जिनको स्प्रिंग सिंगापुर योजना के तहत 6 मिलियन डॉलर का अनुदान मिल रहा है। इसके अलावा कंपनी के सदस्य काफी तजुर्बेकार हैं जो इसको निरंतर नई ऊंचाइयों में ले जा रहे हैं। रोटी बनाने वाली इस मशीन की खासी मांग है। तभी तो ये विदेशों में रहने वाले आप्रवासियों भारतीयों और दक्षिण एशिया में रहने वाले लोग इस मशीन की काफी डिमांड कर रहे हैं।

ऑटोमेटिक तरीके से रोटी बनाने के इस कारोबार में कई और दूसरी कंपनियां भी हैं लेकिन उनका निर्माण और वितरण स्थानीय स्तर पर ही होता है। Rotimatic इस क्षेत्र में ऐसी पहली है जिसने इसका निर्माण ना सिर्फ बड़े पैमाने पर किया बल्कि इस कारोबार को बढ़ाने के लिये इंटनेट को प्राथमिक साधन के तौर पर इस्तेमाल भी किया।

Add to
Shares
3
Comments
Share This
Add to
Shares
3
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags