संस्करणों
विविध

बाजार में मैगी फिर से छाई

एक लंबी जद्दोजहद के बाद मैगी फिर से उसी मुकाम पर पहुंच गई है, जहां पर उसे प्रतिबंधित कर दिया गया था।

20th Oct 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

 वैश्विक खाद्य एवं पोषण फर्म नेस्ले ने आज कहा कि उसके उत्पाद मैगी नूडल्स ने भारतीय बाजार में फिर पकड़ बनाई है। उल्लेखनीय है कि 2015 में पांच महीने के प्रतिबंध के बाद मैगी नूडल्स को लगभग एक साल पहले भारतीय बाजार में दोबारा पेश किया गया था।

image


मैगी नूड्ल्स कारोबार ने बाजार हिस्सेदारी वापस हासिल की है जिससे भारत में मैगी का कारोबार बढ़ा है। 

भारतीय बाजार में मैगी नूडल्स में सतत सुधार उत्साहित करने वाला है। किटकैट की अगुवाई में चाकलेट उत्पादों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। 

image


इस समय भारत में इंस्टेंट नूडल्स बाजार में नेस्ले की 57 प्रतिशत हिस्सेदारी है जबकि विवाद और प्रतिबंध से पहले यह 75 प्रतिशत थी। 

भारत में इंस्टेंट नूडल्स बाजार अनुमानित 2,000 करोड़ रूपये का है, जिसमें आईटीसी का यिप्पी, नेपाल के चौधरी समूह का वाइवाइ तथा पंतजलि नूडल्स अन्य प्रमुख उत्पाद हैं।

एफएसएसएआई ने जून 2015 में मैगी नूडल्स पर रोक लगाई थी।

पांच महीने के प्रतिबंध के बाद पिछले साल नवंबर में नेस्ले इंडिया ने मैगी फिर भारतीय बाजार में पेश की। 

इसी साल नेस्ले इंडिया ने 25 नये उत्पाद पेश किए थे।

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags