संस्करणों
प्रेरणा

ट्रैकइन्वेस्ट ने बनाया वर्चुअल ट्रेडिंग को आसान

एक हफ्ते में 12 हज़ार रिसर्च रिपोर्ट्स

14th Jul 2015
Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share

बॉबी भाटिया एक खर्चीला छात्र था। भारत में जन्मा और कुवैत में पला-बढ़ा, 16 साल की उम्र में उसने स्टैनफोर्ड में यंग स्कॉलर प्रोग्राम में हिस्सा लिया और इसके बाद ड्यूक विश्वविद्यालय से बैचलर डिग्री हासिल की। उसने 19 साल की उम्र में कॉलेज पूरा कर लिया। इतनी छोटी उम्र में ये उपलब्धि उसे प्रेरित और महात्वाकांक्षी व्यक्ति बनाती है।

हमारे साथ एक बातचीत में बॉबी ने अपनी अविश्वसनीय यात्रा की कहानी साझा की।

बातचीत के संपादित अंश-

मेरे करियर का रेखाचित्र

मैंने अमेरिका में 2 साल के लिए ऑप्शन्स ट्रेडिंग में काम किया और इसके बाद 1995 में हॉन्गकॉन्ग चला गया। 1998 में, मुझे एशिया के पहले लेवरेज बाईआउट फंड चेज़ कैपिटल पार्टनर्स एशिया ( जेपी मॉर्गन पार्टनर्स) का संस्थापक सदस्य बनने का मौका मिला और साथ ही इस क्षेत्र के कई देशों की यात्रा और इनके बीच लेन-देन का विशेषाधिकार भी।

6 सालों बाद, जेपी मॉर्गन पार्टनर्स के साथ हासिल किए गए अनुभव ने मुझे एआईजी में प्रबंध निदेशक और प्रमुख निवेश के मुखिया के तौर पर स्थापित कर दिया।

मैं जानता था कि मैं अपने करियर में एक मुकाम हासिल करना चाहता हूं और महात्वाकांक्षा मेरे डीएनए में थी। मैं बहुत ज्यादा भाग्यशाली रहा, जो मेरे शुरुआती करियर में काफी वरिष्ठ मार्गदर्शकों ने मुझ पर भरोसा जताया। अपने मां-बाप के साथ कुवैत जाने से पहले भारत के कई अलग-अलग राज्यों में, और फिर अमेरिका में रह चुका था, जिसके चलते विभिन्न संस्कृतियों के संपर्क ने मुझे गहराई से प्रभावित किया और एक सांचे में ढाला।

image


आगे बढ़ते रहना

कई सालों तक, मैं ऐसी जगह पर था जहां मैं कंपनियों और उद्यमियों को सलाह देता था। हालांकि, ये काम मैं अच्छी तरह कर रहा था, लेकिन मेरे अंदर से हमेशा एक आवाज़ आती थी कि मैं एक अच्छा संचालक भी साबित हो सकता हूं। इसलिए, कहीं-न-कहीं मैं ये छोड़कर अपनी खुद की कंपनी शुरू करना चाहता था।

ट्रैकइन्वेस्ट का जन्म

जब मैं फायनेंस में था, उस वक्त काफी पढ़ता था। मुझे अपनी ज़रूरत की सभी सूचनाओं को जुटाने के लिए बहुत सारे अलग-अलग मंचों पर जाना होता था। ये सूचना एक वहन करने योग्य कीमत में पाना क़रीब-क़रीब असंभव होता था। मेरे लिए ये बड़ा सरदर्द था। मैंने सोचा, क्यों न मैं एक ऐसा टूल बनाऊं, जहां अपनी ज़रूरत की सारी सूचनाएं एक ही जगह पर हासिल कर सकूं। बहुत सारे छात्र और ग्राहक जिन्हें मैं सलाह देता था, वो भी इन्हीं दिक्कतों का सामना कर रहे थे। मैं अपने छात्रों की तरफ से कई लोगों से संपर्क करता था। मैं उनसे काम की सच्चाई और असली प्रदर्शन रिकॉर्ड के बारे में बातचीत करता और छात्रों की इंटर्नशिप के लिए गुजारिश करता था।

इस तरह, ट्रैकइन्वेस्ट का बीज मेरे दिमाग के अंदर पड़ा और तब मैंने सोचा, इस सूचना मंच के साथ क्यों न मैं एक वर्चुअल गेमिंग प्लेटफॉर्म तैयार करूं जहां लोग ट्रेड करें और स्कोर पा सकें। ये प्लेटफॉर्म टैलेंट पहचानने का एक प्लेटफॉर्म हो सकता था। इस तरह ट्रैकइन्वेस्ट की शुरुआत हुई थी।

ट्रैकइन्वेस्ट क्या है ?

सामाजिक निवेश एक नया चलन है। ट्रैकइन्वेस्ट सोशल मीडिया का बेहतरीन और बड़े ट्रेडर्स का अनुसरण, दोनों को जोड़ता है। ट्रैकइन्वेस्ट के जरिए, आप वर्चुअल ट्रेडिंग कर सकते हैं और अलग-अलग सेक्टर्स में प्रभाव को पहचान सकते हैं।

आप उस प्लेटफॉर्म पर बेनामी नहीं रह सकते जो आपको पहचान उजागर करने के लिए मजबूर करता है और सबसे अच्छा प्रदर्शन करता है। यूजर कंपनियों और अपने बराबरवालों को प्लेटफॉर्म पर पहचान सकते हैं। आप इसमें हर हफ्ते 12 हज़ार रिसर्च रिपोर्ट्स देख सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म पर भारत, यूएस, सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग, चीन और ऑस्ट्रेलिया समेत सभी मुख्य बाजारों की विस्तृत कवरेज होती है। जैसे-जैसे ज्यादा लोग इसका इस्तेमाल शुरू करेंगे, हमारा विश्वास है कि हम उभरते बाज़ारों में ट्रेडिंग के तरीकों में बदलाव करेंगे। मॉडल खरीद-फरोख्त की जटिलता से सरलता की तरफ स्थानांतरित हो जाएगा।

नए यूआई के साथ नवंबर में लॉन्च किया गया प्लेटफॉर्म

उपयोगकर्ताओं को साइन अप करने के लिए अब मंच खुला है। वेबसाइट मुफ्त है, वहीं ये निमंत्रण पर आधारित है। योरस्टोरी के पाठक नीचे दिए गए लिंक का इस्तेमाल पोर्टल तक पहुंचने के लिए कर सकते हैं। मेरा मानना है कि इस वेबसाइट के इस्तेमाल का सबसे बड़ा फायदा रियल टाइम स्टॉक मार्केट एन्वॉयर्नमेंट को बाहर ले आना है, जिससे वेबसाइट का इस्तेमाल करके आप अपनी ट्रेडिंग एक्टिविटी रियल टाइम बेसिस पर अपने चुने हुए नेटवर्क, दोस्तों या ग्राहकों के साथ साझा कर सकते हैं। हमारा मौजूदा फोकस ग्रैजुएट कर रहे या फिर नौकरी ढूंढ़ रहे छात्रों को अपनी स्थिति का फायदा उठाने का मौका देना है। इस प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल से वो स्टॉक मार्केट को समझने के साथ-साथ संभावित कर्मचारियों का ध्यान खींच सकते हैं। हमारी इंटर्नशिप प्रतियोगिता में हिस्सा लेकर छात्र अपने पोर्टफोलियो के प्रदर्शन, खोजबीन और डिस्कशन के आधार पर चुने जा सकते हैं।

मुझे विश्वास है कि बहुत सारे लोग एक अच्छा ट्रेडर बनने की क्षमता रखते हैं। वास्तव में, हमारे मौजूदा टॉप ट्रेडर साबित करते हैं कि कैसे विभिन्न पृष्ठभूमि से प्रतिभा सामने आ सकती है। हमारे पास 12 फीसदी रिटर्न के साथ भारत की एक घरेलू महिला हैं, वहीं एलेक्स डिकू, एक पॉलिश छात्र हैं जिन्होंने हाल ही एक इंटर्नशिप जीती है।

हमें कोरिया की स्पार्क लैब्स के साथ मध्य एशिया और भारत के कुछ जाने-माने लोगों और परिवारों का समर्थन है।

हमारा अगले 24 महीनों में दस लाख से ज्यादा एक्टिव यूजर्स बनाने का लक्ष्य है। लेकिन, असली मील का पत्थर हमें तब हासिल होगा, जब हमें हमारी पीढ़ी का अगला महान निवेशक मिलेगा।

Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags