संस्करणों
प्रेरणा

'SearchAround', अपने आस-पास को जानने का इससे अच्छा ज़रिया नहीं

“अपने परिचालन के तीन महीने में ही, 'SearchAround' वेबसाइट के 300 से अधिक आगंतुक और 100 से अधिक पंजीकृत उपयोगकर्ता है.”

Prakash Bhushan Singh
18th Aug 2015
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

क्या यह अति स्थानीय स्टार्टअप का युग है? भारत जैसे देश में शायद हम यही सोचेंगें. हमारे यहाँ खुदरा बाजार अत्यंत बिखरा हुआ और असंगठित है.

image


अब जब कि ई-कॉमर्स क्षेत्र ने दृश्यता और कनेक्टिविटी सुनिश्चित किया गया है, वहीं wWhere, Andnrby, HereNow, Qyk, UrbanClap और HouseJoy जैसे अति स्थानीय प्लेटफार्म ने सदियों पुरानी और पारंपरिक खुदरा विक्रेताओं, घर सहायकों और मनोरंजन वर्गों पर अधिक ध्यान केंद्रित किया है.

इस क्षेत्र में प्रवेश करने वाली ‘SearchAround’, जयपुर, राजस्थान स्थित एक अति स्थानीय स्टार्टअप है. इसके सह- संस्थापक, आदित्य कुमार के अनुसार, उन्होंने किसी भी उपयोगकर्ता के आसपास के इलाके में स्थानों और सेवाओं को खोजने की समस्या का समाधन का प्रयास किया है. आदित्य कहते है -

"स्थानों और सेवाओं के साथ लोगों को जोड़ने के क्रम में, हम ने ‘SearchAround’ शुरू करने का फैसला किया."

टीम और विकास

सिंहगड कॉलेज, पुणे से आदित्य कुमार, रौनक माथुर, JECRC कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के कपिल यादव और शुभांग शर्मा जैसे इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्र इनकी टीम के हिस्सा है. साथ ही एमएनआईटी जयपुर के पूर्व छात्र, शुभम जायसवाल, हेमराज, और दिनेश और एनआईटी जमशेदपुर से तरुण केडिया भी इनकी कोर टीम का हिस्सा रहे हैं.

अपनी स्थापना से लेकर अभी तक, इस टीम को अनेक उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ा है. आदित्य कहते हैं कि अपने शुरुआती दिनों में, कोर टीम के सदस्य दुकान के मालिक से डाटा एकत्रित कर के, उनकी तस्वीरें ले कर, और व्यक्तिगत रूप से इस मंच का हिस्सा बनने के लिए विक्रेताओं को समझाने के लिए जगह जगह जाकर प्रयास करते थे.

"अगर हमारा दिन सड़क पर गुजरता था, तो शाम और रात एकत्रित आकड़ों की पुष्टि और जाँच करने और प्रत्येक दुकान का एकदम सही नक्शा और स्थान जोड़ने में बीतता था. छूट के साथ अपनी सेवाओं के लिए मालिकों को समझाना भी हमारी टीम के लिए एक जटिल कार्य था."

संकर्षण

अपने परिचालन के तीन महीने में ही, वेबसाइट के 300 से अधिक आगंतुक और 100 से अधिक पंजीकृत उपयोगकर्ता है. उपयोगकर्ता दो श्रेणियों, नि:शुल्क सदस्यता योजना और प्रीमियम सदस्यता के अंतर्गत आते हैं. प्रीमियम सदस्यता की श्रेणी विशिष्ट क्षेत्रों को लक्षित करती है, जबकि निःशुल्क सदस्यता के तहत, ‘SearchAround’, सूचनाओं की फेहरिस्त प्रदान करता है. “SearchAround’ ग्राहकों को कुछ सेवाओं पर छूट भी प्रदान करता है”आदित्य बताते हैं.

"इस प्रकार, लाभ उठाने के लिए इच्छित विभिन्न सेवाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने के अलावा, ‘SearchAround’ से आपको कीमतों और छूट की पेशकश के बारे में भी जानकारी मिलती है. इसके अतिरिक्त टीम ग्राहकों की संतुष्टि, नैतिकता, विश्वास और ईमानदारी जैसे बुनियादी मूल्यों पर भी ध्यान केंद्रित करती है" वो आगे बताते हैं.

टीम विशेष रूप से किसी भी जनसांख्यिकीय समूह या क्षेत्र को लक्ष्य नहीं कर रही है. हर आयु वर्ग के लोगों को ‘SearchAround’ से लाभ होगा. आदित्य का विश्वास है कि इंटरनेट क्रांति का ‘SearchAround’ की वृद्धि और विकास में बड़ा योगदान रहा है.

अति स्थानीय बाजार

वर्तमान में, चीन और अमेरिका के बाद भारत इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या के मामले में तीसरा सबसे बड़ा देश है. और संभावना है कि भारत 2015 के अंत तक अमेरिका से आगे निकल जाएगा. इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या में अभूतपूर्व वृद्धि ने देश के डिजिटलीकरण के लिए कई अवसर पैदा कर दिए है.

आज, कई अति स्थानीय मंचो के अलावा आसपास की पारिवारिक दुकाने भी नियमित रूप से देश के डिजिटल विकास का एक हिस्सा हैं. साल 2020 तक खुदरा बाजार की कूल पूँजी के 1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुँच जाने की उम्मीद है. एक रिपोर्ट यह भी बताती है कि भारतीय खुदरा क्षेत्र में 98 प्रतिशत के करीब पारंपरिक खिलाड़ियों का ही बोलबाला है.

वर्तमान में ‘SearchAround’ जयपुर में कार्य कर रही है. लेकिन उनकी योजना जल्द ही महानगरों और द्वितीय और तृतीय श्रेणी के शहरों को लक्ष्य करने की है.अपने विस्तार के पहले चरण में, टीम राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, पुणे, औरंगाबाद, बेंगलुरू, वाराणसी, पटना, रांची, जमशेदपुर, और अहमदाबाद को शामिल कर रही है.

छात्रों द्वारा संचालित, ‘SearchAround’ वर्तमान में स्वयं सहायतित ही है लेकिन टीम अन्य निवेश के लिए भी प्रयास कर रही है.

Website

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें