संस्करणों

अब 'मेडीसिन बॉक्स' के जरिए मिलेगी गरीबों को मुफ्त दवा

- प्रिया एंटरटेनमेंट प्राईवेट लिमिटिड ने गरीबों तो दवाएं मुफ्त दिलाने के मकसद से किया 'मेडीसिन बॉक्स' की शुरूआत- 'मेडीसिन बॉक्स' एक प्रयास है जिसका फायदा देश भर के गरीबों को हो रहा है।- प्रिया एंटरटेनमेंट प्राईवेट लिमिटिड विभिन्न एनजीओ के साथ मिलकर कर दे रहा है गरीबों को दवाएं

Ashutosh khantwal
18th Aug 2015
Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share

एक समृद्ध देश के लिए बेहद जरूरी है कि उसका हर नागरिक स्वस्थ हो क्योंकि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का विकास होता है जब आपका शरीर और मस्तिष्क स्वस्थ होता है तब आपके दिमाग में नए विचारों व सोच का जन्म होता है जो मनुष्य के विकास के लिए बेहद जरूरी है इसलिए किसी भी देश के लिए जरूरी है कि उसका हर नागरिक स्वस्थ हो। भारत की बात की जाए तो यहां पर भी कई प्रयास हुए जिससे देश के नागरिकों को सेहत के प्रति जागरूक किया जा सके व इस कार्य में उनकी हरसंभव मदद की जाए। इनमें से कई प्रयास सरकार के द्वारा किये गए तो कई प्रयासों को कई संगठनों ने भी शुरू किया। लेकिन अभी भी देश में कई और ऐसे प्रयासों की जरूरत है। भारत के कई इलाकों में बेहद गरीबी है लोगों के पास इतना पैसा नहीं है कि वे सही से अपना इलाज करवा पाएं व दवाइयां खरीद पाएं ।

ऐसे में प्रिया एंटरटेनमेंट प्राईवेट लिमिटिड ने अपने एक छोटे से प्रयास से कई गरीब लोगों को मुफ्त में दवाइयां मुहैया करवाई। प्रिया एंटरटेनमेंट प्राईवेट लिमिटिड एक मीडिया हाउज है जिसके पश्चिम बंगाल औऱ त्रिपुरा में कई सिनेमाघर हैं। इस प्रयास का नाम उन्होंने 'मेडीसिन बॉक्स' रखा है। इस आइडिया के पीछे प्रोमिला दत्ता हैं जो कि कंपनी के एमडी अर्जित दत्ता की माता हैं और कंपनी की चेयरपर्सन हैं। प्रिया एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटिड यानी पीईपीएल ने अपने 11 केन्द्रों में बॉक्स रखे हैं तथा वे लोगों से आग्रह करते हैं कि जिन भी दवाओं की एक्सपाइरी डेट नहीं निकली वो उसे दान कर दें ताकि वे उन दवाओं को गरीबों तक पहुंचा सकें। पीईपीएल फिल्म शुरू करने से पहले लोगों को इस बात का संदेश भी देता है ताकि लोग प्रोत्साहित होकर इस नेक काम में अपना सहयोग दें। पिछले कुछ समय में उनके इस प्रयास का काफी सकारात्कर असर भी देखने को मिला है और लोग बढ़ चढ़कर दवाओं का दान कर रहे हैं। ये ऐसा दान है जो गरीब लोगों की सीधे तौर पर मदद करता है । गरीब लोग जो महंगी दवाएं नहीं खरीद पाते वो अब इस प्रयास के कारण दवाएं प्राप्त कर सकते हैं। पीईपीएल ने कई एनजीओ से संपर्क किया हुआ है जो कि उनके द्वारा इकट्ठा हुई दवाओं को सही जगह और सही लोगों तक पहुंचाते हैं ये वे एनजीओ व संस्थाएं हैं जो पिछले काफी समय से स्वास्थ क्षेत्र में लोगों की मदद कर रही हैं। इन संस्थाओं को किस इलाके में किन दवाओं की ज्यादा जरूरत है वो सब इन्हें पता है तथा इन संस्थाओं के साथ कई डॉक्टर्स भी काम करते हैं जो दवा की पहचान वगैरा में मदद करते हैं।

अर्जित दत्ता

अर्जित दत्ता


शेख आलम पश्चिम बंगाल में रहने वाले एक गरीब किसान हैं जो रात दिन की मेहनत करके थोड़ा बहुत पैसा कमाते हैं लेकिन वो पिछले कई सालों से छाती में संकुलन की परेशानी को झेल रहे थे किसी ने उन्हें बताया कि वे बालका मेंं जाएं ये एक एनजीओ था जो कि उसी इलाके में गरीब लोगों के लिए काम कर रहा था। वहां शेख को पूरे इलाज की दवाएं मुफ्त में दी गईं औऱ अब वे काफी राहत महसूस करते हैं। ऐसी और भी कई कहानियां हैं जिससे गरीब लोगों का काफी भला हुआ है।

मेडीसिन बॉक्स काफी सकारात्मक प्रयास है ये इससे गरीबों को काफी फादया पहुंचा है और इससे उस गरीब के केवल एक परिवार को ही फायदा नहीं हुआ कहीं न कहीं किसी न किसी तरह इनके इस प्रयास ने देश को भी फायदा पहुंचाया है। आने वाले समय में अगर ऐसे ही कुछ औऱ प्रयास होते हैं तो देश को अवश्य काफी फायदा होगा।

Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

    Latest Stories

    हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें