संस्करणों
विविध

दिल्ली के रेस्टोरेंट्स और सिनेमाहॉल में लगने लगीं हवा साफ करने की मशीनें

19th Nov 2018
Add to
Shares
242
Comments
Share This
Add to
Shares
242
Comments
Share

देश की राजधानी दिल्ली धुएं और प्रदूषण से इतनी भर चुकी है कि अब अच्छी हवा में सांस लेना भी यहां लग्जरी माना जाने लगा है। ऐसी हालत में अब शहर के सिनेमाहॉल और रेस्टोरेंट अपने यहां 'साफ हवा' उपलब्ध कराकर ग्राहकों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं।

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर


जब लोग अपने घरों में एयर प्यूरिफायर लगा रहे हैं तो उनकी उम्मीद होती है कि वे जिस रेस्टोरेंट या सिनेमा में जाएं वहां भी एयर प्यूरिफायर लगे हों।

देश की राजधानी दिल्ली धुएं और प्रदूषण से इतनी भर चुकी है कि अब अच्छी हवा में सांस लेना भी यहां लग्जरी माना जाने लगा है। ऐसी हालत में अब शहर के सिनेमाहॉल और रेस्टोरेंट अपने यहां 'साफ हवा' उपलब्ध कराकर ग्राहकों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं। वैसे तो शहर में 7-8 रेस्टोरेंट्स में एयर प्यूरिफायर लग चुके हैं, लेकिन एक रेस्टोरेंट में हवा को साफ करने के लिए सेंट्रल एयर प्यूरिफिकेशन सिस्टम लगाया गया है। अब इन रेस्टोरेंट्स में हवा की क्वॉलिटी मेनटेन करना खाने की क्वॉलिटी को मेनटेन करने जैसा ही है। ये रेस्टोंरेंट अब अपने मेन्यू में साफ हवा को भी जोड़ चुके हैं।

हालांकि रेस्टोरेंट्स में एयर प्यूरिफायर लगाने की शुरुआत पिछले साल ही शुरू हो गई थी, लेकिन इस बार इसमें बढ़ोत्तरी होती दिख रही है। इंडिया टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में 'एक बार' नाम के रेस्टोरेंट में एयर प्यूरिफिकेशन सिस्टम लगाया गया है। रेस्टोरेंट को मैनेज करने वाले शाज महमूद बताते हैं, 'पिछले दो सालों में दिल्ली-एनसीआर में एयर प्यूरिफायर लगाना जरूरी सा लगने लगा है। हमें अपने ग्राहकों से इस पर अच्छा फीडबैक भी मिल रहा है।'

वैसे एयर प्यूरीफायर लगाना ज्यादा महंगा नहीं है और इससे ग्राहकों को लुभाने में भी मदद मिलती है। जब लोग अपने घरों में एयर प्यूरिफायर लगा रहे हैं तो उनकी उम्मीद होती है कि वे जिस रेस्टोरेंट या सिनेमा में जाएं वहां भी एयर प्यूरिफायर लगे हों। दरअसल बीते कुछ सालों में दिल्ली की हवा जहरीली हो चुकी है। ऐसे में लोग घरों से बाहर निकलने से पहले कई बार सोचते हैं। अगर रेस्टोरेंट्स या सिनेमाहॉल में एयर प्यूरिफायर लगे हों तो वहां लोग जाना ज्यादा पसंद करते हैं।

शाज बताते हैं कि कुछ दो साल पहले तक एयर प्यूरिफायर लगाने पर लोग हैरत भरी निगाहों से देखते थे। लोग सोचते थे कि ये उनके लिए है जिन्हें सांस संबंधी दिक्कत है। लेकिन अब लोगों को ये एसी, टीवी और फ्रिज जैसी ही जरूरी चीज लग रही है। कनॉट प्लेस में रेस्टोरेंट चलाने वाले दिनेश अरोड़ा बताते हैं कि दिल्ली की खराब हवा को देखते हुए उन्होंने अपने सभी रेस्टोरेंट्स के लिए एयर प्यूरिफायर ऑर्डर कर दिए हैं। हालांकि वे यह भी कहते हैं कि एयर प्यूरिफायर होने से ग्राहकों की संख्या में कोई खास बढ़ोत्तरी नहीं होगी, लेकिन ये एक तरह का प्लस पॉइंट होगा।

यह भी पढ़ें: हिंदी मीडियम से कैसे बना जा सकता है IAS, बता रहे हैं UPSC टॉपर IAS निशांत जैन

Add to
Shares
242
Comments
Share This
Add to
Shares
242
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags