संस्करणों

प्रेमजी और नाडार ने फोब्र्स के 100 सम्राटों में पायी जगह

12th Aug 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी और एचसीएल के सह-संस्थापक शिव नाडार भारत के मात्र दो अरबपति हैं जो फोब्र्स के प्रौद्योगिकी क्षेत्र के 100 सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल हैं और उन्होंने गूगल प्रमुख एरिख श्मिट और उबर के मुख्य कार्यकारी ट्रैविस कैलानिक से पहले शीर्ष 20 उद्योगपतियों में जगह बनाई है।

प्रौद्योगिक क्षेत्र के इन 100 सबसे अमीर उद्योगपयितों की सूची में शीर्ष स्थान पर माइक्रोसाफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स हैं जिनके पास अनुमानित संपत्ति 78 अरब डालर है।

image


इस सूची में प्रेमजी का स्थान 13वां है जिनका निवल मूल्य 16 अरब डालर है और नाडार 11.6 अरब डालर के निवल मूल्य के साथ 17वें स्थान पर रहे। दो भारतीय अमेरिकी प्रौद्योगिकी सम्राट - सिंफनी टेक्नोलाजी समूह के मुख्य कार्यकारी रोमेश वाधवानी और सूचना प्रौद्योगिकी परामर्शक तथा आउटसोर्सिंग कंपनी सिंटेल के संस्थापक भरत देसाई एवं उनकी पत्नी नीरजा सेठी भी इस सूची में हैं।

फोब्र्स ने कहा कि भारत की तीसरी सबसे बड़ी आउटसोर्सिंग कंपनी, विप्रो के प्रमुख प्रेमजी पिछले साल अधिग्रहण की प्रक्रिया में रहे ताकि वृद्धि को प्रोत्साहित किया जा सके। प्रेमजी के पुत्र रिशद जो निदेशक मंडल में हैं और रणनीति प्रमुख हैं, वह विप्रो के 10 करोड़ डालर के उद्यम पूंजी कोष की भी निगरानी करते हैं।

फोब्र्स ने कहा कि नाडार एचसीएल के सह-संस्थापक हैं। कंपनी अमेरिका में सूचीबद्ध होने पर विचार कर रही है। नाडार की एक इकाई एचसीएल टेलेंट केयर है जो कौशल विकास कंपनी और नए स्नातकों को प्रशिक्षण प्रदान करती है। उनका ताजा उद्यम है 50 करोड़ का कोष जो स्टार्टअप एवं अमेरिकी स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी कंपनियों में निवेश करता है।

वाधवानी तीन अरब डालर के निवल मूल्य के साथ 67वें स्थान पर हैं। फोब्र्स ने कहा कि शेयर बाजार के लिए उतार-चढ़ाव भरा वर्ष होने के बावजूद प्रौद्योगिकी क्षेत्र के अरबपतियों के लिए यह अच्छा समय रहा। फोब्र्स की दूसरी सालाना सूची में प्रौद्योगिकी क्षेत्र के सबसे अमीर लोगों का निवल मूल्य 892 अरब डालर रहा जो पिछले साल के मुकाबले छह प्रतिशत अधिक है। उक्त 100 सबसे अमीर प्रौद्योगिकी अरबपतियों में से 50 प्रतिशत से अधिक अमेरिका के हैं। इस सूची में शामिल 10 अरबपतियों में से आठ अमेरिका के हैं।

प्रौद्योगिकी क्षेत्र के अमीरों के लिहाज से चीन दूसरे नंबर पर रहा जहां के 19 अरबपति इसमें शामिल हैं और इनका संयुक्त निवल मूल्य 132.7 अरब डालर है। चीन के सबसे अमीर उद्योगपतियों में अलीबाबा के संस्थापक जैक मा हैं जो 25.8 अरब डालर के निवल मूल्य के साथ आठवें नंबर पर है। इस सूची में कनाडा के पांच प्रौद्योगिकी अरबपति और जर्मनी के चार अरबपति शामिल हैं।

फोब्र्स ने कहा कि दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति आमेजन के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी जेफ बेजोस रहे जो इस साल की सूची में सबसे अधिक लाभ दर्ज करने वाले उद्योगपति रहे। इनके पास 66.2 अरब डालर की संपत्ति है जो पिछले साल के मुकाबले 18.4 अरब डालर अधिक है। इस तरह वह ओरैकल के चेयरमैन लैरी एलिसन से आगे रहे जो चौथे स्थान पर रहे। फेसबुक के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी मार्क जुकरबर्ग कंपनी के शेयरों में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

विश्व की 100 सबसे अमीर प्रौद्योगिकी उद्योगतियों की इस सूची में सिर्फ पांच महिलाएं हैं जिनमें जू कुनफेइ 33वें स्थान पर रहीं। वह लेंस प्रौद्योगिकी के आईपीओ के बाद 2015 में अरबपति बनीं और उनका निवल मूल्य 6.4 अरब डालर रहा।-पीटीआई

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags