संस्करणों
विविध

यूरोपीय संघ छोड़ सकता है अंग्रेज़ी भाषा का इस्तेमाल

YS TEAM
29th Jun 2016
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

यूरोपीय संघ के 28 देशों में ब्रिटेन के अलावा किसी भी देश ने अंग्रेजी भाषा को प्राथमिक भाषा के रूप में नहीं रखा है। अब ‘ब्रेग्जिट’ के चलते ईयू से अंग्रेज़ी भाषा की विदाई हो सकती है। अंग्रेज़ी यूरोपीय संघ के संस्थानों के लिए शीर्ष पसंद रही है, लेकिन ईयू से बाहर होने के लिए पिछले हफ्ते ब्रिटेन के वोट डालने से इसके इस्तेमाल पर प्रतिबंध लग सकता है।

image


यूरोपीय संसद की संविधान मामलों की समिति का नेतृत्व करने वाली यूरोपीय संसद में पोलैंड की सदस्य दानुता हबनर ने कहा, ‘‘हमारा यह नियम है कि प्रत्येक ईयू देश के पास यह अधिकार है कि वह एक आधिकारिक भाषा को अधिसूचित करे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आयरिश ने गेइलिक को और माल्टीज ने माल्टीज को अपनाया है, इस तरह सिर्फ ब्रिटेन ने अंग्रेज़ी अपनायी है।’’ ‘द टाइम्स’ की खबर के मुताबिक हबनर ने कहा कि ईयू नौकरशाहों और यूरोपीय संसद सदस्यों द्वारा प्रभावशाली भाषा अंग्रेज़ी का इस्तेमाल किए जाने के बावजूद यदि आपके पास ब्रिटेन नहीं है तो आपके पास अंग्रेज़ी नहीं है।

इस भाषा को कायम रखने के लिए नियमों में बदलाव करना होगा, जिसके लिए शेष 27 सदस्यों द्वारा आमराय बनाने की जरूरत है। ईयू की 24 आधिकारिक भाषाएँ हैं, लेकिन रोज़ाना के कामकाज के लिए यूरोपीय आयोग और परिषद के मंत्री अंग्रेजी, फ्रेंच और जर्मन भाषाओं का इस्तेमाल करते हैं।

ईयू के दस्तावेज़ और कानूनी कागज़ात का संगठन के 24 आधिकारिक भाषाओं में अनुवाद होता है। यदि अंग्रेज़ी यह दर्जा खो देती है तो ब्रिटेनवासियों को खुद से अनुवाद करना होगा। (पीटीआई)

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें