संस्करणों
प्रेरणा

'चुनौती अभियान' जोड़ेगा बचे हुए लोगों को आधार से

106 लोगों के आधारा कार्ज जारी

14th Oct 2016
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 100 प्रतिशत व्यस्कों की आधार संख्या सुनिश्चित करने के लिए ‘चुनौती अभियान’ शुरू किया है।

प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि यह अभियान 15 अक्तूबर से एक महीने तक चलेगा।

image


 अभी देशभर में 106.69 करोड़ आधार संख्याएं जारी की जा चुकी हैं।

इस ताजा अभियान का लक्ष्य इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में घटती-बढ़ती जनसंख्या या बचे हुए निवासियों को आधार से जोड़ना है। अभी आंकड़ों के हिसाब से व्यस्कों को पूर्ण रूप से आधार संख्या जारी किए जाने वाले राज्यों में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली और पंजाब शामिल हैं।

इस अभियान का लक्ष्य एक भी बचे हुए व्यक्ति को आधार से जोड़ना है। प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडे ने कहा, कि यह देशभर के लोगों को आधार से पूरी तरह जोड़ने का हमारा एक प्रयास है।

उधर दूसरी तरफ, रेलवे, सब्सिडी की सुविधा के दुरपयोग को रोकने के लिए रियायती टिकटों की बुकिंग के साथ आधार संख्या को जोड़ने के लिए यूआईडीएआई के साथ चर्चा करेगा। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्रालय ने रेलवे समेत विभिन्न मंत्रालयों से उन क्षेत्रों की पहचान करने के लिए कहा है जहां आधार कार्ड को जोड़ा जा सकता है।

एलपीजी सेवा और पासपोर्ट सेवा के साथ आधार कार्ड को सफल तरीके से जोड़ने के बाद सरकार ने अब रेलवे टिकट की बुकिंग पर ध्यान केंद्रित कर लिया है। रेलवे में वरिष्ठ नागरिक, रोगियों, प्रख्यात कलाकारों और खिलाड़ियों समेत विभिन्न श्रेणियों के लोग रियायती किराये की सुविधा का लाभ उठाने के पात्र हैं।

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें