संस्करणों
विविध

फ्लिपकार्ट और अमेजन से पेटीएम की सीधी टक्कर, ढाई अरब डॉलर का होगा इन्वेस्टमेंट

yourstory हिन्दी
5th Dec 2017
Add to
Shares
8
Comments
Share This
Add to
Shares
8
Comments
Share

कंपनी फ्लिपकार्ट और अमेजन को पीछे छोड़कर ई-कॉमर्स क्षेत्र में शीर्ष स्थान हासिल करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने यह जानकारी दी।

विजय शेखर शर्मा (फाइल फोटो)

विजय शेखर शर्मा (फाइल फोटो)


विजय शेखर शर्मा ने विश्वास जताया कि पेटीएम की ई-कॉमर्स यूनिट पेटीएम मॉल ने अच्छी प्रगति की है। हालांकि यह क्षेत्र दीर्घकाल में फायदा देने वाला है लेकिन हम इसमें शीर्ष पर पहुंच रहे हैं।

कंपनी ने बीते महीने ही अपने पेमेंट बैंक को लॉन्च किया है, जो कि सभी तरह के ऑनलाइन लेनदेन पर कोई भी शुल्क नहीं लेता है। साथ ही इसमें खाते में मिनिमम बैलेंस रखने को कोई अनिवार्यता भी नहीं रहती है। 

देश की सबसे बड़ी डिजिटल वॉलेट कंपन पेटीएम अब ईकॉमर्स क्षेत्र में खुद को पूरी तरह से झोंक देने की तैयारी में है। सॉफ्टबैंक से निवेश प्राप्त करने वाली ई-कॉमर्स कंपनी पेटीएम की योजना अगले तीन से पांच साल में ढाई अरब डॉलर का इन्वेस्टमेंट करने की है। कंपनी फ्लिपकार्ट और अमेजन को पीछे छोड़कर ई-कॉमर्स क्षेत्र में शीर्ष स्थान हासिल करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि यह दो या तीन वर्ष का संघर्ष नहीं है। शीर्ष कंपनी बनने की यह जीएमवी (ग्रॉस मर्केंडाइज वैल्यू) दौड़ अदूरदर्शी भी है। इस लंबे सफर (अगले 10 वर्ष) के खेल में हम शीर्ष पायदान के लिए खेल रहे हैं और इसके अलावा कुछ नहीं है। सॉफ्टबैंक जैसा निवेशक जुडऩे से हमें काफी मदद मिली है। इससे हमें वित्तीय, उधारी और बीमा संस्थानों तक पहुंच बनाने में मदद मिली है। यह समय है जब ऐसी पहुंच अहम होती है और बड़ा बदलाव लाने में सक्षम होती है।

पेटीएम ई-कॉमर्स प्राइवेट लिमिटेड डिजिटल और अन्य सामानों के ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल का परिचालन करती है। इसने हाल ही में ई-कॉमर्स क्षेत्र में प्रवेश किया है जहां उसकी प्रतिस्पर्धी अमेजन और फ्लिपकार्ट बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए पहले से अरबों डॉलर का निवेश कर रही हैं। विजय शेखर शर्मा ने विश्वास जताया कि पेटीएम की ई-वाणिज्य इकाई पेटीएम मॉल ने अच्छी प्रगति की है। हालांकि यह क्षेत्र दीर्घकाल में फायदा देने वाला है लेकिन हम इसमें शीर्ष पर पहुंच रहे हैं।

कंपनी ने बीते महीने ही अपने पेमेंट बैंक को लॉन्च किया है, जो कि सभी तरह के ऑनलाइन लेनदेन पर कोई भी शुल्क नहीं लेता है। साथ ही इसमें खाते में मिनिमम बैलेंस रखने को कोई अनिवार्यता भी नहीं रहती है। इसके साथ ही पेटीएम बैंक अब अपने विस्तार की योजना बना रहा है। इस योजना के तहत वह आने वाले तीन सालों में 3000 करोड़ रुपए का निवेश करेगा ताकि वो अपने ऑफलाइन-वितरण नेटवर्क का विस्तार कर पाए।

उन्होंने कहा, यह एक मैराथन है। यह एक महीने की अगले महीने से तुलना करने वाला कारोबार नहीं है। शर्मा ई-वाणिज्य क्षेत्र में विस्तार की संभावनाओं को देखते हैं। उन्होंने कहा कि हमने मात्र छह माह पहले ई-कॉमर्स क्षेत्र में प्रवेश किया और आज हम बड़ी कंपनियों के करीब आधे के बराबर पहुंच चुके हैं। इसने बहुत अच्छी प्रगति की है और हमें लगता है कि अगले तीन-पांच साल में हम इस क्षेत्र में शीर्ष पर होंगे।

यह भी पढ़ें: कैब और बाइक के बाद अब साइकिल की सवारी करवाएगा ओला, आईआईटी कानपुर से हुई शुरुआत

Add to
Shares
8
Comments
Share This
Add to
Shares
8
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें