संस्करणों

कुछ एक्ट्रा हो जाए 'getextrabux' के साथ

- अच्छी-अच्छी डील्स पाएं गेट एक्ट्रा बक्स डॉटकॉम पर। - कंपनी का फोकस ग्राहकों को ज्यादा से ज्यादा संतुष्ट करना। - 200 से ज्यादा कंपनियां जुड़ चुकी हैं गेट एक्ट्रा बक्स के साथ।

Ashutosh khantwal
16th Jun 2015
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on

लोगों को कैश बैक ऑफर बहुत आकर्षित करते रहे हैं। इसकी मुख्य वजह यह होती है कि कैश बैक में पैसा वापस अकाउंट में आ जाता है जोकि ग्राहकों को एक अलग तरह की संतुष्टि और खुशी देता है।

कैश बैक की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए बहुत सारी कंपनियां इस स्कीम को अपने यहां लागू कर चुकी हैं और बहुत सारी लॉच करने की तैयारी में हैं। यह स्कीम बहुत आसान तरीके से काम करती है। इसके लिए आपके पास बस एक क्रेडिट कार्ड होना चाहिए और जब आप क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करते हैं तो यह कैश बैक आपके अकाउंट में उसी समय वापस आ जाता है। इसी कड़ी में एक नई कंपनी गेट एक्ट्रा बज्स डॉट कॉम ने भी कदम रखा है।

इस समय गेट एक्ट्रा बक्स से 200 से अधिक रिटेल्र्स जुड़े हैं। यहां भी कूपन्स और डिस्काउंट डील्स दी जाती हैं। यह वेबसाइट बहुत ही यूज़र फ्रैंडली है। लेकिन बाकी साइटों से अलग आप यहां प्राइज़ को कम्पेयर कर सकते हैं। जो साइट्स कैश बैक देती हैं वहां अमूमन प्राइज कम्पेरिज़न का विकल्प नहीं दिया जाता। ग्राहक सीधे-सीधे प्राइज़ कम्पेरिज़न पेज से कीमतों को कम्पेयर करके उसी समय डील फाइनल करके कैश बैक ले सकता है। इस साइट को खुले अभी दो साल भी पूरे नहीं हुए हैं और इन्होंने मार्केंटिंग बहुत कम पैसा लगाया है। यह लोग अभी तकनीक में ज्यादा फोकस कर रहे हैं। और यदि इन्हें एक बार थोड़ा सही फंड मिल जाए तो इनका इरादा अग्रेसिव मार्केंटिंग का भी है।

image


इनका मुख्य बिजनेस फ्लिप कार्ड, मयंत्रा और एमाजॉन से आता है। लगभग 15 सौ से ज्यादा विजि़टर यहां रोज आते हैं और शॉपिंग करते हैं। इनका टारगेट ऑडियसं कॉलेज के छात्र और आईटी क्षेत्र में काम करने वाले युवा हैं। कंपनी ने कुछ कॉलेज फेस्टिवल को स्पॉसर भी किया है। जिससे इन्हें खूब पब्लिसिटी मिली। इसके अलावा कंपनी अपने प्रचार के लिए कुछ और क्रिएटिव काम करना चाहती है।

के आर मुर्ले जोकि कंपनी के सहसंस्थापक हैं वे बताते हैं कि कम फंड में काम करना बहुत मुश्किल होता है। आप खुलकर पैसा खर्च नहीं कर सकते और आपको सीमित संसाधनों को ध्यान में रखकर ही प्लान बनाने होते हैं। फिलहाल कंपनी का प्लान और टारगेट प्रतिदिन 10 हजार ट्रॉजेक्शन का है। कंपनी इसके अलावा और भी कई चीज़ों पर ध्यान दे रही है। जैसे साइट में प्राइज़ कम्पेरिज़न देना। स्मार्ट लॉगिंन फीचर देना। साइट को और अधिक यूज़र फ्रैंडली बनाना।

कंपनी ने सिंगापुर, मलेशिया और इंडोनेशिया में भी काम शुरु कर दिया है। ये लोग सिंगापुर की एलीट कैशबैक वेबसाइट हैं।

रेडमार्ट डॉट कॉम, क्यू ओ ओ 10 डॉट कॉम, फूड पांडा डॉट एचजी कुछ सिंगापुर की वेबसाइट हैं जिनके साथ इनकी पार्टनरशिप है।

कंपनी जिस तेजी से उभरी है उससे साफ जाहिर होता है कि कंपनी से जुड़े लोगों ने दिन रात काफी मेहनत की है। उन्होंने नई चीज़ों को स्वीकार करने में संकोच नहीं किया। और ग्राहकों को सुविधा देना अपनी प्राथमिकता में रखा।

  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Report an issue
Authors

Related Tags

    Latest Stories

    हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें