संस्करणों
विविध

प्रजनन दर में कमी के बावजूद 2053 में 10 अरब हो जाएगी दुनिया की आबादी

29th Aug 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

पॉपुलेशन रेफरेंस ब्यूरो (पीआरबी) की ताजा रिपोर्ट में आकलन किया गया है कि साल 2050 में दुनिया की आबादी 9.9 अरब होगी जिसमें फिलहाल की करीब 7.4 आबादी में 33 प्रतिशत का इजाफा होगा।

image


पीआरबी की वैश्विक जनसंख्या डाटाशीट में किये गये 2050 के पूर्वानुमानों के अनुसार इसके बाद के सालों में आबादी का पूर्वानुमान लगाएं तो 2053 में दुनिया की जनसंख्या 10 अरब होगी और एशिया की आबादी में 90 करोड़ की वृद्धि के साथ यह 5.3 अरब पर पहुंच सकती है।

पीआरबी के सीईओ और अध्यक्ष जेफरी जॉर्डन के मुताबिक, ‘‘दुनियाभर में प्रजनन दर में कमी आने के बावजूद हम संभावना व्यक्त करते हैं कि जनसंख्या में काफी बढ़ोतरी होगी और दुनिया की आबादी 10 अरब तक पहुंच जाएगी।’’ 

जेफरी जॉर्डन ने कहा, ‘‘हालांकि महत्वपूर्ण क्षेत्रीय भेद बरकरार रहेंगे। उदाहरण के लिए यूरोप में बहुत कम जन्म दर के चलते जनसंख्या कम होगी वहीं अफ्रीका का आबादी दोगुनी हो सकती है।’’ पीआरबी के पूर्वानुमानों के मुताबिक साल 2050 तक अफ्रीका की जनसंख्या ढाई अरब होगी, वहीं अमेरिका महाद्वीप में केवल 22.3 करोड़ का इजाफा होगा और यह आबादी 1.2 अरब होगी।- पीटीआई

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags