संस्करणों

लौंड्री, स्टोरेज और रसोई जैसे रोजमर्रा के उत्पाद एक जगह 'बोनिता' की वजह से

6th Nov 2015
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

हममें से अधिकतर लौंड्री, स्टोरेज और रसोई के सामान जैसे रोजमर्रा के उत्पादों को खरीदने के क्रम में कई अलग-अलग दुकानों और सुपरमार्केट के चक्कर काटते रहते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि चक्कर काटने का यह दौर कई दिनों तक चलता है और आपको रोजमर्रा की जरूरतों के इस सामान को पाने के लिये विभिन्न स्थानों पर भी जाना पड़ता है। आप न सिर्फ इस बात को लेकर अनिश्चितता में रहते हैं कि कौन से ब्रांड किस क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ हैं बल्कि आपको अधिकतर स्टोर मैनेजर की पसंद या चुनाव पर ही निर्भर होना पड़ता है।

इन्हीं सब चुनौतियों को देखते हुए उमंग श्रीवास्तव और नीरज मित्तल ने विनीता मित्तल और चारू श्रीवास्तव के साथ मिलकर बोनिता (Bonita) प्रारंभ करने का फैसला किया।

image


उत्पाद श्रृंखला और चुनौतियां

बोनिता में पास उपलब्ध उत्पादों की श्रृंखला में माइक्रोवेव सुरक्षित स्टेनलेस स्टील के बर्तन, इस्त्री करने के बोर्ड और चटाई, कपड़े सुखाने के स्टैंड, सिलिकाॅन पैड जैसे कपड़े सुखाने के सामान, कपड़ों की खूंटियां और टोकरी, वैक्यूम बैग, तह होने वाली अल्मारियां, जूतों की रैक, सीढि़यां, और इसी प्रकार के अन्य सामान शामिल हैं।

इनके सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने लिये ऐसे साझीदारों को तलाशना था जिनकी सोच इनके जैसी होने के अलावा वे इनके नैतिक मानक पर भी खरे उतरते हों। इस टीम ने अपने पुराने सहयोगियों का रुख किया। उमंग कहते हैं, ‘‘हमारी आॅनलाइन वितरण का काम देखने वाली कंपनी एक ऐसे उद्यमी के द्वारा प्रारंभ की गई है जो कभी आर्ट डी‘आईनाॅक्स में मेरी टीम के सदस्य थे।’’

इससे अगली चुनौती एक सही आपूर्ति श्रृंखला को तैयार करना था। इस क्षेत्र में भी उन्होंने ऐसे पेशेवरों का सहारा लिया जो पूर्व में इसी क्षेत्र में काम करने का अनुभव रखते हैं और इसी टीम के साथ किसी न किसी प्रकार से जुड़े रहे हैं। वे कहते हैं, ‘‘हमनें उन्हें ऐसे कारखाने स्थापित करने में मदद की जो पूरी तरह से सिर्फ बोनिता के प्रति समर्पित हों और इस प्रकार हमनें उन्हें स्वयं को उद्यमी के रूप में ढ़ालने में मदद की।’’

विकास और व्यवसाय

वित्तीय वर्ष 2014-15 में कंपनी अपने एक वर्ष पुराने संघर्ष के दौर से बाहर निकलने में सफल रही और अब इनका दावा है कि ये 300 प्रतिशत सालाना की दर से वृद्धि कर रहे हैं।

उमंग कहते हैं, ‘‘बोनिता भारत में अपनी पहुंच बढ़ाने के अलावा दुनियाभर के 35 देशों में संचालन कर रही होगी। फिलहाल हमें यूरोप के उपभोक्ताओं से पुष्टि और समर्थन मिल चुका है और अक्टूबर के अंत तक बोनिता 20 देशों में बिक्री कर रही होगी।’’

बोनिता के पास भारत के 45 शहरों में वितरकों और 1000 स्वतंत्र घरेलू माल भंडारों का अपना नेटवर्क है। इसके अलावा इन्होंने स्नैपडील, अमेजन, पेपरफ्राई, पेटीएम, ई-बे, होम शाॅप18, शाॅपर स्टाॅप सहित कई अन्य आॅनलाइन पेार्टलों के साथ करार किया है। इसके अलावा बोनिता ने विभिन्न वेबसाइटों के माध्यम से दुनियाभर के कई क्षेत्रों में अपनी आॅनलाइन उपस्थिति दर्ज करवाने में भी सफलता हासिल की है। अमरीका में बोनिता वेफेयर, अमेजन, ज़ूलीलि, बेड बाथ एंड बियाॅन्ड वेबसाइट के माध्यम से, यूरोप में वेस्टविंग और लिमांग के माध्यम से और दुबई और यूएई में वाईसाडा और सौक्य के अलावा आॅस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में भी ये अपनी आॅनलाइन उपस्थिति बनाने में सफल रहे हैं।

उमंग कहते हैं, ‘‘हम लगभग 500 मिलियन से लेकर 1 बिलियन डाॅलर के बीच के एक वैश्विक बाजार में क्रियशील हैं। यह बाजार सालाना 10 प्रतिशत की दर से वृद्धि कर रहा है। हम अपना अधिक ध्यान मुख्यतः भारतख्, आॅस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, यूएसए, यूरोप, दक्षिणी अमरीका और यूएई पर केंद्रित कर रहे हैं। सिर्फ अमरीका में ही घरेलू बाजार की श्रृेणियों का बाजार 500 मिलियन डाॅलर से भी अधिक का है।’’

मुख्य टीम

बोनिता के वैश्विक व्यापार के विकास और ब्रांडिंग के लिये जिम्मेदार उमंग को मार्केटिंग और रणनीति के क्षेत्र का 20 वर्ष से भी अधिक का अनुभव है और वे ट्राइडेंट और जिंदल स्टेनलेस की आर्ट डी‘आईनाॅक्स जैसी कंपनियों में वरिष्ठ पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

नीरज मुख्यतः बोनिता की आपूर्ति श्रृंखला के विकास और प्रबंधन के लिये जिम्मेदार हैं। उन्हें आपूर्ति श्रृंखाला प्रबंधन के क्षेत्र में 25 वर्षों से भी अधिक का अनुभव है और वे फोर्ड ट्रेक्टर्स, डेंसो और आईकेईए जैसी विभिन्न बहुराष्ट्रीय कंपनियों में महत्वपूर्ण और वरिष्ठ प्रबंधन पदों पर काम कर चुके हैं।

विनीता के जिम्मे बोनिता का ब्रांडिंग और रचनात्मक कार्य आता है। उन्हें रचनात्मकता और उत्पाद विकास के क्षेत्र में 15 वर्षों से भी अधिक का अनुभव है। वहीं चारु वित्त और एचआर विभाग की जिम्मेदारियों का निर्वहन करती हैं। उन्हें बैंकिंग और वित्त के क्षेत्र में काम करने का 15 वर्षों का अनुभव है और वे ट्राइडेंट, आईसीआईसीआई बैंक और राॅयल बैंक आॅफ स्काॅटलैंड जैसी कंपनियों के साथ काम कर चुकी हैं।

इनकी टीम के अन्य सदस्यों में उत्पाद विकास और एससीएम का जिम्मा संभालने वाले राजकुमार, यूएसए में बोनिता के संचालन का प्रबंधन करने वाले विनय गुप्ता, न्यूयाॅर्क में रहने वाले और सेल्स के वीपी हार्वे लेविंसन और चेक गणराज्य के पराग्वे में रहने वाले हेलन जुबिरस्का जो यूरोप में बिक्री और संचालन के लिये जिम्मेदार हैं शामिल हैं।

निवेश और भविष्य की योजनाएं

बोनिता अपनी एटीएल और बीटीएल गतिविधयों, नए उत्पादों के विकास के साथ नए उत्पादों की लांचिंग, आईटी से संबंधित बुनियादी सुविधाओं के निर्माण और टीम के विस्तार के लिये करीब 30 करोड़ रुपये का प्रबंधन करने के सक्रिय प्रयासों में लगा है। इसके अलावा यह टीम अपने भौगोलिक आधार को बढ़ाकर अपनी पहुंच को 50 देशों में विस्तार देना चाहती है।

वेबसाइट

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags