संस्करणों
प्रेरणा

'पीपल हेल्थ' पर जाएं, अक्ल लगाएं और अच्छी स्वास्थ्य सेवा पाएं...

 स्वास्थ्य सेवाओं में आमूल-चूल परिवर्तन का नाम- पीपल हेल्थ देश की पहली ऑनलाइन चिकित्सा पोर्टल साइट या चिकित्सा बाज़ार 2004 में पीपल हेल्थ की शुरुआतपीपल हेल्थ पर चिकित्सा सेवाओं के बीच तुलना करें पूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद अपने लिए उचित चिकित्सकीय निर्णय लें

15th Jun 2015
Add to
Shares
4
Comments
Share This
Add to
Shares
4
Comments
Share

अगर आप ऑनलाइन जाँच-पड़ताल करके, देख-भाल के, तुलना करके कंप्यूटर खरीद सकते हैं तो आपको चिकित्सा सेवाएँ खरीदते समय भी यही आज़ादी और यही सुविधा प्राप्त होनी चाहिए। इस महाद्वीप के दूसरे पड़ोसी मुल्कों की तुलना में भारत में चिकित्सा सेवाओं को डिजिटल बनाने का काम बहुत धीमी गति से आगे बढ़ रहा है। खुशी की बात है कि इस स्थिति में भारी बदलाव होने जा रहा है- PeopleHealth की स्थापना इसी लक्ष्य को सामने रखकर की गई है!

image


इस अनोखे मंच के बारे में अधिक जानकारी हासिल करने के उद्देश्य से YourStory ने PeopleHealth के जनक श्री जी कृष्णमूर्ति से पूछा कि ग्राहकों को बेहतर सेवाएँ प्रदान करने की दिशा में उनके क्या लक्ष्य हैं।

(YS) PeopleHealth के संस्थापक सदस्यों और इस विचार को मूर्त रूप देने वाले प्रमुख व्यक्तियों के बारे में बताएँ। 

(GK) PeopleHealth.in देश की पहली ऑनलाइन चिकित्सा पोर्टल साइट या चिकित्सा बाज़ार है, जहाँ चिकित्सा सेवाएँ खरीदी बेची जाती हैं। यह मंच लोगों को यह सुविधा प्रदान करता है कि वे विभिन्न चिकित्सा सेवाओं के बीच तुलना कर सकें और पूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद अपने लिए उचित चिकित्सकीय निर्णय ले सकें। इस लक्ष्य के साथ कि चिकित्सा सेवाओं को ग्राहकों के लिए अधिक सौहार्दपूर्ण बनाते हुए भारतीय चिकित्सा परिदृश्य में आमूल-चूल परिवर्तन किया जाए, PeopleHealth की शुरुआत नवंबर 2004 में हुई थी। स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में सीमित आर्थिक संसाधनों के बावजूद हमने ऐसी सुविधा मुहैया की है, जो आज तक भारत में देखने में नहीं आई थी।

image


भारत में स्वास्थ्य सेवा का क्षेत्र व्यवस्था संबंधी बहुत सी चुनौतियों का सामना कर रहा है, जिनमें सेवाओं की गुणवत्ता में कमी, कीमतों में अंधाधुंध इज़ाफा और अधिकांश भारतीय नागरिकों के लिए इन सेवाओं की अनुपलब्धता मुख्य समस्याएँ हैं। लेकिन स्वास्थ्य सेवाओं में पूंजी निवेश बढ़ाकर उनकी गुणवत्ता में इजाफा किया जा सकता है तथा वितरण प्रणाली में सुधार लाकर उसे सर्वसाधारण के लिए सुलभ बनाया जा सकता है और इस तरह बहुत से दूसरे विकासशील देशों द्वारा महसूस की गई समस्याओं को टालने का सुअवसर भी हमें उपलब्ध है।

PeopleHealth ग्राहक को ध्यान में रखकर बनाया गया एक सेवा संस्थान है, जो स्वास्थ्य सेवा के विभिन्न पहलुओं के बीच सहज तालमेल स्थापित करता है।

(YS) PeopleHealth की शुरुआत करने की प्रेरणा आपको कहाँ से प्राप्त हुई?

(GK) पहले स्वास्थ्य सेवाएँ कुल मिलाकर बहुत बिखरी हुई थीं। इसे विडंबना ही कहा जाएगा कि त्रुटिपूर्ण सम्प्रेषण और प्रशासनिक प्रक्रियाओं में पारदर्शिता की कमी के कारण पैदा होने वाली असंगति के चलते इलाज के बाद स्वास्थ्य सेवाओं की सबसे ज़्यादा ज़रूरत पड़ती है। फिर किसी भी परिवर्तन का असर सबसे ज़्यादा स्वास्थ्य सेवाओं में ही देखने में आता है। लोगों के जीवन में बदलाव लाने की तीव्र इच्छा के कारण स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में काम करने का निर्णय लेना आसान हो गया और यही इच्छा PeopleHealth की स्थापना का प्रेरणा स्रोत बनी।

(YS) PeopleHealth किस तरह ग्राहकों को अस्पताल और डॉक्टर मुहैया करवाता है?

(GK) हमने उपभोक्ता और स्वास्थ्य सेवाएँ मुहैया कराने वालों और दूसरे मध्यस्थों के बीच का फासला समाप्त करके चिकित्सकीय सेवाएँ खरीदने का तरीका ही बदल दिया है। अब वे आसानी के साथ विभिन्न चिकित्सकीय सेवाओं के बीच तुलना करके अपने लिए उपयुक्त सेवाएँ चुन सकते हैं। भविष्य में ग्राहक के अनुकूल स्वास्थ्य सेवाएँ विकसित करने के काम में PeopleHealth सबसे प्रमुख भूमिका अदा करेगा। आज एक उपभोक्ता के रूप में हमारे द्वारा खरीदी जाने वाली ज़्यादातर सेवाएँ हमारे ग्राहकों की सुविधा को ध्यान रखकर निर्मित होती हैं, जब कि स्वास्थ्य सेवा एक ऐसी सेवा है, जहाँ भुगतान करने वाले के नियंत्रण में कुछ भी नहीं होता।

(YS) PeopleHealth का और अधिक विस्तार करने की आपकी क्या योजनाएँ हैं?

(GK) ग्राहक और चिकित्सक बिरादरी के बीच की दूरी पाटने के उद्देश्य से PeopleHealth द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं के विभिन्न पहलुओं की भली प्रकार से जाँच-पड़ताल की गई है और दोनों के बीच तालमेल बेहतर बनाने के उद्देश्य से एक पोर्टल बनाया है, जो तेज़ गति और दक्षता के साथ काम करेगा। फिलहाल वह 7 शहरों में काम कर रहा है और सिर्फ एक मुश्त कारपोरेट क्षेत्र या संगठित क्षेत्र के ग्राहकों को अपनी सेवाएँ मुहैया कर रहा है। चरण बद्ध तरीके से इन सेवाओं को बढ़ाकर उन्हें शल्यचिकित्सकीय और चिकित्सकीय जाँचों से संबन्धित सेवाओं से भी जोड़ दिया जाएगा।

(YS) बाज़ार में फिलहाल आपके सामने कौन और किस तरह के प्रतिद्वंद्वी मौजूद हैं?

(GK) असल में मध्यवर्ती या दूसरी सभी चिकित्सा सेवाओं को जोड़ने वाली सुविधाएँ प्रदान करने वाला बाज़ार अभी बहुत शुरुआती दौर में है और वहाँ कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है। सिर्फ बैंगलोर ही 2000 करोड़ का विशाल बाज़ार है जो इन सेवाओं को ग्रहण करने के लिए पर्याप्त परिपक्व है। क्योंकि हम मध्यवर्ती सेवाएँ उपलब्ध कराने वाले पहले संगठन हैं और हम चिकित्सा सेवा प्रदान करने में आने वाली सभी दिक्कतों को जानते हैं तथा उसके सभी पहलुओं से परिचित है, हमें पूरा विश्वास है कि हम इस सेवा का चलन स्थापित करने में अग्रणी सिद्ध होंगे और इस क्षेत्र के विकास में प्रमुख भूमिका निभाएँगे। बाद में जब और प्रतिस्पर्धी मैदान में उतरेंगे तो इस क्षेत्र का विकास और भी ज़्यादा तीव्र गति से होगा।

(YS) जिनके पास इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है, उनके लिए क्या आप कोई योजना बना रहे हैं, जिससे आपकी सेवाएँ उन्हें भी उपलब्ध हो सकें?

(GS) जी, बिल्कुल। बहुत से ज़रूरतमंद ग्राहक हमें ऑफलाइन या टेलीफोन के ज़रिए अनुरोध करते रहते हैं कि उन्हें भी चिकित्सा सेवाओं की इस एकीकृत सुविधा का लाभ मिले। हम बैंगलोर के आसपास के कस्बों और देहातों में भी काम करते हैं और फिलहाल वहाँ हम दूसरे तकनीकी लोगों की सेवाएँ लेते हैं, जो हमारे और उपभोक्ता के बीच सेतु का काम करते हैं।

(YS) आपके मुताबिक PeopleHealth के सामने सबसे बड़ी चुनौती क्या है?

(GK) मेरी नज़र में चिकित्सा सेवाओं के क्षेत्र में मध्यवर्ती सुविधाएँ मुहैया कराने वाली सेवाओं को नियंत्रित करने या उन पर अंकुश लगाने वाले सरकारी नियम और कानून सबसे बड़ी चुनौती हैं। लेकिन जैसे-जैसे सबको इस बात का पता चल रहा है कि मध्यवर्ती सेवाएँ चिकित्सा और स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं के विभिन्न हितग्राहियों और हिस्सेदारों के बीच पुल का काम कर रही हैं और इससे उपभोक्ताओं को द्रुत गति से बेहतर सेवा का चुनाव करने में मदद मिल रही है, यह आशंका भी अब समाप्त होती जा रही है। सेवाएँ मुहैया कराने वाले विभिन्न आपूर्तिकर्ताओं के बीच होने वाली प्रतिद्वंद्विता और मूल्यों को लेकर आपसी खींचतान अब एकमात्र चिंता नज़र आती है।

(YS) देश में उभरती दूसरी स्वास्थ्य सेवाओं के मुक़ाबले आपकी सेवाएँ किस तरह बेहतर हैं?

(GK) इस मामले में हम पूरे विश्वास के साथ कह सकते हैं कि PeopleHealth द्वारा ये सेवाएँ मुहैया कराने का विचार अपने आपमें मौलिक है और इस क्षेत्र में वह अग्रणी है। मध्यवर्ती सेवाओं में काम करने वाली शायद ही कोई दूसरी संस्था होगी जिसे विभिन्न चुनौतियों का सामना करते हुए लगातार 10 साल चिकित्सा क्षेत्र के हर पहलू का ज्ञान और उसमें सफलतापूर्वक काम करने का अनुभव होगा।

(YS) क्या पूंजी निवेशकों द्वारा इस उपक्रम में निवेश हेतु आपसे संपर्क किया गया है? और क्या आप इस संभावना के प्रति सहज हैं कि कोई निवेशक आपके आपकी परियोजना का अधिग्रहण कर सकता है?

(GK) बहुत से निवेशकों ने हमें अपनी परियोजना के प्रेजेंटेशन हेतु निमंत्रित किया है। हम अपने कार्य विस्तार के अनुपात में पूंजी निवेश में वृद्धि करने की प्रक्रिया शुरू कर चुके हैं। परियोजना की वर्तमान स्थिति को देखते हुए उसके अधिग्रहण की बात शायद ज़्यादा प्रासंगिक नहीं है।

(YS) भारत में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति के बारे में आप क्या महसूस करते हैं? और इन सेवाओं में मौजूद समस्याओं को आपका उत्पाद किस तरह हल कर सकता है?

(GK) भारत दुनिया का सबसे बड़ा देश है, जहाँ लोगों को स्वास्थ्य सेवाएँ स्वयं अपने पैसों से खरीदनी पड़ती हैं। वर्तमान में कीमतों और उपलब्धता के लिहाज से स्वास्थ्य सेवाओं में पारदर्शिता और स्पष्टता की बेहद कमी है। यदि लोग स्वयं जान-समझकर निर्णय लेने में सक्षम हो जाएँ तो स्वास्थ्य सेवाएँ अधिक उत्तरदायी बनेंगी और चुनाव करने का अधिकार और शक्ति नगद भुगतान करने वालों के हाथ में यानी उपभोक्ताओं के हाथ में होंगे।

PeopleHealth द्वारा प्रदत्त सुविधाओं की जानकारी हेतु आप PeopleHealthIndia.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Add to
Shares
4
Comments
Share This
Add to
Shares
4
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags