संस्करणों
विविध

मुंबई मेट्रो ने लंबी कतार को कहा बाय-बाय, पहला मोबाइल टिकट सिस्टम होगा लॉन्च

yourstory हिन्दी
28th Jul 2017
Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share

मुंबई में अब मेट्रो यात्रियों को टिकट खरीदने के लिए लंबे समय तक लाइन में लगकर टिकट खरीदने की जरुरत नहीं पड़ेगी। जरुरत है तो सिर्फ एक स्मार्टफोन की। जी हां, अगर आपके पास स्मार्टफोन है तो सिर्फ एक मोबाइल ऐप के जरिए आप मेट्रो की टिकट बुक कर सकते हैं।

फोटो साभार: Shutterstock

फोटो साभार: Shutterstock


मुंबई मैट्रो के यात्री अपने स्मार्टफोन पर मुंबई मेट्रो ऐप का उपयोग करके टिकट या मासिक पास भी खरीद सकते हैं।

मुंबई मेट्रो ने यह कदम 26 जुलाई को उठाया है जिसमें भारत की पहली मोबाइल टिकट प्रणाली 'ओनगो' की शुरुआत की घोषणा की गई है।

मुंबई में अब मेट्रो यात्रियों को टिकट खरीदने के लिए लंबे समय तक लाइन में लगकर टिकट खरीदने की जरुरत नहीं पड़ेगी। जरुरत है तो सिर्फ एक स्मार्टफोन की। जी हां, अगर आपके पास स्मार्टफोन है तो सिर्फ एक मोबाइल ऐप के जरिए आप मेट्रो की टिकट बुक कर सकते हैं। मुंबई मेट्रो ने यह कदम 26 जुलाई को उठाया है जिसमें भारत की पहली मोबाइल टिकट प्रणाली 'ओनगो' की शुरुआत की घोषणा की गई है। मुंबई मेट्रो के एक अधिकारी ने 'द इंडियन एक्सप्रेस' को बताया कि यह प्रणाली एएफसी (ऑटोमेटेड फेयर कलेक्शन) गेट्स को अपने मोबाइल फोन में इस्तेमाल करके यात्रियों की मदद करेगी।

कैसे काम करेगा ये सिस्टम

यात्री अपने स्मार्टफोन पर मुंबई मेट्रो ऐप का उपयोग करके टिकट या मासिक पास खरीद सकते हैं। एक बार जब वे अपने मोबाइल वॉलेट या ई-वॉलेट का इस्तेमाल करके भुगतान करते हैं, तो एक क्यूआर कोड जनरेट होगा। गेट के संवेदक फिर इस कोड को स्कैन करेगा और उन्हें प्लेटफॉर्म तक पहुंचने दें। मुंबई मेट्रो के प्रवक्ता के मुताबिक, 'यह नई सुविधा, देश में हर व्यक्ति या यात्री को मेट्रो से जोड़ने में मदद करेगी। उससे एक नया अनुभव प्रदान कराएगी। हम भविष्य में ग्राहकों को और अधिक लाभ देने का प्रयास करेंगे।'

ऐप एक फायदे अनेक

'ओनगो', मेट्रो स्टेशन पर लंबी लाइन में लगे लोगों को काफी मदद देगा, उनके लिए ये एक राहतपूर्ण कार्य होगा। इस ऐप के अन्य फायदे भी होंगे जैसे कि यात्रियों को एक हफ्ते पहले यात्रा करने के लिए यात्रा के लिए एक क्यूआर कोड उत्पन्न कर सकते हैं। साथ ही भुगतान भागीदारों के ऐप्स के माध्यम से टिकट भी खरीद सकते हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, 'दुनिया में बड़े-बड़े देश जैसे लंदन, न्यूयॉर्क और सिंगापुर आदि आवागमन के लिए इसी तरह के लोकप्रिय कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। यात्रियों द्वारा प्रतिदिन 15,000 से अधिक स्मार्टकार्ड खरीदे जाते हैं। इस प्रणाली के आने से लगभग 1.60 लाख यात्रियों को लंबी कतारों का सामना नहीं करना पड़ेगा। इससे यात्रियों को फायदा होगा।'

इस मोबाइल टिकट सिस्टम को जल्द ही दिल्ली और कोलकाता मेट्रो में भी पेश करेंगी और ये अपने यात्रियों को सुविधा प्रदान कराएगी। यह प्रणाली अभी परीक्षण के अपने अंतिम चरण में है और अगस्त के मध्य तक शुरू की जाएगी।

ये भी पढ़ें,

रिक्शा चलाने वाला मजदूर पिग फार्मिंग से बन गया करोड़पति

Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags