संस्करणों
विविध

युवा नेता प्रियांक खड़गे के भाषण से हुई टेकस्पार्क्स 2017 की शुरुआत

22nd Sep 2017
Add to
Shares
42
Comments
Share This
Add to
Shares
42
Comments
Share

खड़गे ने कहा कि कई सवाल मैं खुद से पूछता हूं कि एक नेता के तौर पर वह तकनीक में विजेता बनना चाहते हैं और ऐसे प्रोग्रामों का नेतृत्व करना चाहते हैं।

कर्नाटक राज्य के आईटी मिनिस्टर प्रियांक खड़गे

कर्नाटक राज्य के आईटी मिनिस्टर प्रियांक खड़गे


योरस्टोरी की संस्थापक श्रद्धा शर्मा ने स्वागत वक्तव्य के दौरान कहा कि स्टार्टअप और बिजनेस इंडस्ट्री के लोगों की योजनाएं समाज के लिए महत्वपूर्ण हैं। 

खड़गे ने बताया कि उनके ऊपर काफी दबाव रहता है कि कोई भी स्टार्ट अप फेल न होने पाए। इसीलिए राज्य सरकार के प्रॉजेक्ट्स में बड़े-बड़े कॉर्पोरेट्स के बजाय स्टार्ट अप को भी काम दिया जाए। 

कर्नाटक के सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्री प्रियांक खड़गे ने बेंगुलुरु में आयोजित योरस्टोरी द्वारा आयोजित स्टार्टअप सम्मेलन में जॉर्ज बर्नाड शॉ के की बात को हाईलाइट करते हुए कहा कि, 'बुद्धिमान इंसान खुद को दुनिया के हिसाब से ढाल लेता है, लेकिन अविवेकी व्यक्ति इस कोशिश में लगा रहता है की दुनिया उसके हिसाब से ढल जाए। इसलिए सारा विकास अविवेकी इंसान पर निर्भर करता है।' योरस्टोरी के प्रमुख वार्षिक आयोजन के आठवें संस्करण में बोलते हुए खड़गे ने कहा, 'आप सभी के लिए काम करते हैं, यह हर एक इंसान के लिए मायने रखता है। आपका हर एक आइडिया मायने रखता है और कर्नाटक सरकार इसके हिसाब से पॉलिसी में परिवर्तन करने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस दो दिवसीय समारोह में फाइनेंस टेक्नॉलजी, ई-कॉमर्स, फैशन, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस और इंटरनेट सहित अन्य क्षेत्रों के लोग अपनी बात शेयर करते हुए दिखाई देंगे। योरस्टोरी की संस्थापक श्रद्धा शर्मा ने स्वागत वक्तव्य के दौरान कहा कि स्टार्टअप और बिजनेस इंडस्ट्री के लोगों की योजनाएं समाज के लिए महत्वपूर्ण हैं। इस मौके पर खड़गे ने कहा कि कर्नाटक सरकार स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए तत्पर है। उन्होंने कहा कि हम एक मात्र ऐसे राज्य हैं जिसने स्टार्ट अप इंडस्ट्री को 35 करोड़ की राशि दी है। हालांकि उन्होंने स्टार्टअप शुरू करने वाले लोगों से जनभावना के तहत काम करने की अपील की और कहा कि पैसे बर्बाद न करें।

खड़गे ने कहा कि कई बार बड़ी फंडिंग के बाद भी लोगों के पास पैसे नहीं बचते क्योंकि वे लापरवाही से पैसे खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि हम आपको समर्थन करने के लिए तैयार हैं। प्रियांक ने कहा, 'राज्य सरकार ने हाल ही में इलेवेट100 नाम के प्रोग्राम के तहत 1700 आवेदन स्वीकार किए हैं। इन 1700 में से 100 स्टार्ट अप्स को राज्य सरकार की तरफ से मेंटरशिप और फंडिंग प्रदान की जाएगी।' उन्होंने कहा कि हर एक प्रोग्राम राज्य सरकार और स्टार्टअप से जुड़ा है तो उसकी मदद की जाएगी। उन्होंने कहा कि निडर उद्यमियों को अगर वैसा पर्यावरण नहीं मिलेगा तो वे कैसे काम कर पाएंगे।

योरस्टोरी की फाउंडर श्रद्धा शर्मा

योरस्टोरी की फाउंडर श्रद्धा शर्मा


श्रद्धा शर्मा ने स्वागत वक्तव्य के दौरान कहा कि स्टार्टअप और बिजनेस इंडस्ट्री के लोगों की योजनाएं समाज के लिए महत्वपूर्ण हैं।

खड़गे ने कहा कि कई सवाल मैं खुद से पूछता हूं कि एक नेता के तौर पर वह तकनीक में विजेता बनना चाहते हैं और ऐसे प्रोग्रामों का नेतृत्व करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हम बेंगलुरु के अलावा भी बाकी कई शहरों में स्टार्ट अप और कई सारी इंडस्ट्री लगाने के बारे में सोच रहे हैं। इसके लिए राज्य सरकार की नीति उद्यमियों को प्रोत्साहित करती है। अकेले बेंगलुरु शहर में 7200 से ज्यादा स्टार्टअप संचालित होते हैं। मंत्री ने कहा कि सरकार कई सारे टेक्नॉलजी पार्क बनाने के बारे में पहल कर रही है। उन्होंने कहा कि हम टैक्स में छूट देते हैं लेकिन उद्यमिता को अवैध प्रोत्साहन नहीं देते हैं। कर्नाटक सरकार ने हाल ही में 61 स्टार्टअप्स में निवेश किया है।

उन्होंने कहा कि देश के कई अन्य राज्यों ने हमारी नीतियों की नकल करने की कोशिश की लेकिन वे सफल नहीं हो पाए। क्योंकि जैसी नीति कर्नाटक सरकार अपनाती है उस माइंड से काम कर पाना सभी राज्यों के बस में नहीं है। खड़गे ने बताया कि उनके ऊपर काफी दबाव रहता है कि कोई भी स्टार्ट अप फेल न होने पाए। इसीलिए राज्य सरकार के प्रॉजेक्ट्स में बड़े-बड़े कॉर्पोरेट्स के बजाय स्टार्ट अप को भी काम दिया जाए। योरस्टोरी के इस कार्यक्रम में कई सारी स्टार्टअप कंपनियों के फाउंडर और सीईओ हिस्सा ले रहे हैं। टेक्स्पार्क्स देश का प्रीमीयर स्टार्टअप कॉन्फ्रेंस है।

यह भी पढ़ें: 22 साल की उम्र में कैंसर को हराकर भारत की पहली एविएशन बुकिंग वेबसाइट बनाने वाली कनिका टेकरीवाल

Add to
Shares
42
Comments
Share This
Add to
Shares
42
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags