5G स्‍पेक्‍ट्रम ऑक्‍शन में नए खिलाड़ी अडानी की एंट्री, असर स्‍टॉक मार्केट पर भी दिखा

भारती एयरटेल और जियो के शेयरों में गिरावट

5G स्‍पेक्‍ट्रम ऑक्‍शन में नए खिलाड़ी अडानी की एंट्री, असर स्‍टॉक मार्केट पर भी दिखा

Monday July 11, 2022,

3 min Read

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अडानी समूह की एक कंपनी 5G टेलीकॉम स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी में बोली लगाने की तैयारी कर रही है. हालांकि अडानी समूह ने कहा है कि उनका सार्वजनिक टेलीकॉम सर्विस में आने का कोई इरादा नहीं है. वो इस 5G स्‍पेक्‍ट्रम का इस्‍तेमाल अपने बिजनेस से जुड़े वेंचर्स और एयरपोर्ट को निजी नेटवर्क उपलब्‍ध कराने के लिए करने वाले हैं. लेकिन बावजूद इसके 5G टेलीकॉम सर्विसेज की दुनिया में एक बड़े खिलाड़ी की एंट्री की अटकलों भर से बाजार में आज तेज उतार-चढ़ाव देखने को मिला है.

आगामी 26 जुलाई से भारत के पहले 5G ऑक्‍शन की नीलामी शुरू होने वाली है. इस नीलामी में शामिल होने के लिए वोडाफोन आइडिया, एयरटेल, जियो और अडानी समूह ने अपने आवेदन भर दिए हैं. पहले इस ऑक्‍शन को लेकर ज्‍यादा सुगबुगाहट नहीं थी कि इस मार्केट  के मौजूदा खिलाडि़यों के ही ऑक्‍शन में शामिल होने की संभावना थी. बाजार में तीनों की स्थिति भी तकरीबन स्‍पष्‍ट ही है. लेकिन अडानी की एंट्री से पूरा खेल बदलता हुआ जान पड़ रहा है.

फिलहाल सार्वजनिक टेलीकॉम सर्विस की दुनिया में तीन ही बड़े खिलाड़ी हैं. भारती एयरटेल, वोडाफोन और बिड़ला का जॉइंट वेंचर Vi और मुकेश अंबानी का Jiyo.

ऐसे में अगर अडानी समूह पब्लिक टेलीकॉम सर्विस की दुनिया में कदम रखता है तो बाजार में हलचल होना स्‍वाभाविक है. यह हलचल अब दिखने भी लगी है. आज 11 जुलाई को भारती एयरटेल के शेयरों में 5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. हालांकि अडानी समूह ने अपनी सफाई पेश कर दी थी, लेकिन इसका स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर उल्‍टा असर ही पड़ा.  

टेलीकॉम सर्विस की दुनिया किसी बड़े बदलाव की उम्‍मीद और दबाव में दिख रही है. अडानी समूह आज भारत के सबसे अमीर और ताकतवर बिजनेस समूहों में से एक है. उसका टेलीकॉम सर्विस की दुनिया में कदम रखना मौजूदा कंपनियों के लिए बहुत सुखद संकेत नहीं है. इससे बाजार में प्रतिस्‍पर्द्धा बढ़ेगी.

आज सुबह 10 बजे के आसपास BSE पर भारती एयरटेल के शेयरों में 4.52 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और इसी के साथ वह लुढ़ककर 663.75 रुपए पर पहुंच गया. इतना ही नहीं, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के शेयर में भी 0.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. रिलायंस का शेयर टूटकर 2383.95 रुपए पर पहुंच गया. हालांकि वोडाफोन के शेयरों पर इसका कुछ असर नहीं दिखाई दिया. वह 8.46 रुपए पर ही बना रहा.

हालांकि भारती एयरटेल और जियो के मुकाबले वोडाफोन के शेयरों की कीमत पहले से बहुत कम है और बाजार में उनकी स्थिति बहुत अच्‍छी नहीं है.    


Edited by Manisha Pandey