रेस्तरां और F&B ब्रांडों को डिजिटल बना रहा है जयपुर स्थित SaaS प्लेटफॉर्म FUDR

2 CLAPS
0

भारत में रेस्तरां अभी भी मुख्य रूप से पुराने चलन यानी की फिजिकल मेनू, मैनुअल ऑर्डरिंग और एड-हॉक मार्केटिंग पर निर्भर हैं।

ऐसे में छोटे खिलाड़ियों के लिए, ये बंधन ग्राहकों तक पहुंचने और उन्हें बनाए रखने में और चुनौतियां पेश करते हैं। यहां तक कि लास्ट-मील लॉजिस्टिक्स एग्रीगेटर भी भारी कमीशन लेते हैं और रेस्तरां को अपने खुद के डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर रूट खोलने से रोकते हैं।

इसके अलावा, COVID-19 महामारी ने साबित कर दिया कि आज एक F&B ब्रांड चलाना केवल एक रसोई और एक रेस्तरां के प्रबंधन से कहीं अधिक है। ग्राहकों की गहरी समझ हासिल करने के लिए ब्रांड्स को सोशल मीडिया पर एक मजबूत उपस्थिति और एक मजबूत डिजिटल बुनियादी ढांचे की जरूरत है।

इन गैप्स में एक व्यावसायिक अवसर को महसूस करते हुए, भाइयों आयुष और अक्षत खंडपुर ने प्रेम लोकेश और शोभित मारवाह के साथ 2019 के अंत में फुडर (Fudr) लॉन्च किया।

जयपुर में स्थित, FUDR एक SaaS स्टार्टअप है जो व्यवसायों को कई डिजिटल चैनलों के माध्यम से ग्राहकों के साथ जुड़ने में मदद करता है। यह F&B ब्रांडों को अपने ग्राहकों के बारे में अधिक जानने और डेटा-संचालित मार्केटिंग करने में भी मदद करता है।

आयुष योरस्टोरी को बताते हैं, “यह संरचित दृष्टिकोण ज्यादातर डोमिनोज और स्टारबक्स जैसी बड़ी चेन तक सीमित है। हम भारत में छोटे और मध्यम F&B आउटलेट्स के लिए एक नो-कोड प्लेटफॉर्म के माध्यम से तकनीकी परिष्कार का समान स्तर ला रहे हैं।”

भारतीय F&Bs के लिए एक 'Shopify' का निर्माण

FUDR के सह-संस्थापक और सीईओ आयुष कहते हैं, “हम अक्सर कहते हैं कि हम F&B के लिए Shopify का निर्माण कर रहे हैं। हमारा प्लेटफॉर्म रेस्तरां को डायरेक्ट टू कस्टमर चैनल के निर्माण, उन्हें बेहतर तरीके से जानने, डेटा-संचालित प्रतिधारण और पुन: लक्ष्यीकरण कार्यक्रमों का निर्माण करने और एक ही नो-कोड प्लेटफॉर्म के माध्यम से टारगेट डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से नए ग्राहकों तक पहुंचने की अनुमति देता है।"

FUDR के टूल्स के सूट का उद्देश्य रेस्तरां को ऑनलाइन बढ़ने में मदद करना है। रेस्तरां मालिक ऑनलाइन फॉर्म के माध्यम से बुनियादी डिटेल प्रदान करके प्लेटफॉर्म पर अपनी ऑनबोर्डिंग यात्रा शुरू करते हैं। फिर, स्टार्टअप रेस्तरां के डिजिटल वर्जन का निर्माण करते हुए उनके मेनू को कॉन्फ़िगर करता है।

व्यवसाय के मालिक सोशल मीडिया, गूगल मैप्स और व्हाट्सएप पर ग्राहकों के साथ अपने ऑनलाइन रेस्तरां का लिंक साझा कर सकते हैं और इन चैनलों से ऑर्डर प्राप्त करना शुरू कर सकते हैं। डाइन-इन ऑप्शन वाले रेस्तरां के लिए, स्टार्टअप क्यूआर कोड-आधारित डिजिटल ऑर्डरिंग भी सेट करता है।

FUDR का उद्देश्य ग्राहकों के साथ रेस्तरां कैसे इंटरैक्ट करते हैं, इसके आसपास एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करना है। इसमें चार प्रमुख चरण शामिल हैं।

डिजिटल ऑर्डरिंग: पहले चरण में, यह F&B ब्रांड्स को डिजिटल D2C चैनल बनाने और उनके अपनाने में मदद कर रहा है।

गेस्ट इनसाइट: FUDR बेहतर समझ के लिए डेटा-आधारित इनसाइट प्रदान करते हुए, रेस्तरां और ग्राहकों के बीच सूचना गैप को पाट रहा है।

रिटेंशन (Retention): स्टार्टअप व्यवसायों को डेटा-संचालित लॉयल्टी/मेंबरशिप प्रोग्राम और रीटारगेटिंग कैंपेन बनाकर उनके वफादार ग्राहक आधार को बढ़ाने में मदद करता है।

आउटरीच: यह डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से ब्रांडों को नए ग्राहकों तक पहुंचने में मदद करता है।

ओमनीचैनल डिजिटल ऑर्डरिंग और क्यूआर-आधारित टेबल ऑर्डरिंग के माध्यम से, FUDR व्यवसायों को अधिक ऑर्डर उत्पन्न करने और ऑर्डर रिपीट करने वाले ग्राहकों को जीतने में सक्षम बनाता है। स्टार्टअप का दावा है कि इसने रेस्तरां को उनके औसत टिकट साइज को बढ़ाने में भी मदद की है।

इसके अलावा, इसने इन आउटलेट्स को सही संख्या में कर्मचारियों को रखने, मेनू पर पैसे बचाने और औसत टर्नअराउंड समय को कम करने में मदद की है।

रेवेन्यू मॉडल और ग्राहक

15 सदस्यों (चार संस्थापकों सहित) की एक टीम के साथ, FUDR का रेवेन्यू मॉडल लेनदेन और सब्सक्रिप्शन फीस का एक संयोजन है। यह तीन प्रमुख प्लान ऑफर करता है - बेसिक, प्लस और सुप्रीम - 500 रुपये से 2,000 रुपये प्रति माह के बीच।

बेसिक प्लान रेस्तरां को डिजिटल रेस्तरां बनाने में मदद करता है; प्लस प्लान व्यवसायों को ग्राहकों को बेहतर तरीके से जानने और डेटा-संचालित रिटेंशन और रीटारगेटिंग प्रोग्राम शुरू करने में मदद करने के लिए सेवाओं को जोड़ने की अनुमति देता है; सुप्रीम प्लान टारगेट मार्केटिंग के माध्यम से रेस्तरां के ब्रांड और आउटरीच के निर्माण के लिए और सेवाओं को जोड़ता है।

आयुष का कहना है कि स्टार्टअप की GTM रणनीति 100 प्रतिशत डिजिटल है, और FUDR वर्तमान में ग्राहकों को प्राप्त करने के लिए Google, YouTube, Instagram और Facebook पर इनबाउंड रिक्वेस्ट और मार्केटिंग कैंपेन पर केंद्रित है।

वे कहते हैं, “हम विभिन्न शहरों में ब्लॉगर्स और प्रभावशाली लोगों के साथ एक्टिव कनेक्शन भी बना रहे हैं और पीओएस सिस्टम और रेस्तरां एसोसिएशन के साथ साझेदारी कर रहे हैं। हम हर महीने 300 रेस्तरां जोड़ने की राह पर हैं।'

स्टेटिस्टा डेटा से पता चलता है कि भारतीय रेस्तरां उद्योग में संगठित क्षेत्र में सात मिलियन और असंगठित क्षेत्र में 23 मिलियन खिलाड़ी हैं, जिससे FUDR के लिए काम करने के लिए एक पर्याप्त बाजार उपलब्ध है।

आयुष का दावा है कि स्टार्टअप का भारत में कोई सीधा प्रतिद्वंदी नहीं है। इसके बजाय, यह अमेरिकी खिलाड़ियों चाउनो और ओलो को अपने प्रतिस्पर्धियों के रूप में मानता है, जबकि घरेलू खिलाड़ी डाइनआउट और टैगटाल्क FUDR के समान कुछ सेवाएं प्रदान करते हैं।

वर्तमान में, स्टार्टअप 80+ शहरों में 800 रेस्तरां के साथ काम कर रहा है। यह अपने प्लेटफॉर्म पर वार्षिक रेस्तरां बिक्री में $3 मिलियन की कमाई करने का दावा करता है।

FUDR टियर I शहरों जैसे मुंबई, पुणे, बैंगलोर, Tier II और Tier III शहरों जैसे जयपुर, नागपुर, चंडीगढ़, सहारनपुर, सिलीगुड़ी, जम्मू-कश्मीर, पांडिचेरी, में रेस्तरां के साथ काम करता है।

आयुष कहते हैं, “यहां तक कि केदारनाथ के पास 12,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित आउटलेट, या केकरी (राजस्थान) और थेक्कडी (केरल) जैसे छोटे शहर हमारे प्लेटफॉर्म का उपयोग कर रहे हैं। यह महानगरों से बहुत आगे है। गोल्डन ट्यूलिप, रैडिसन और प्लेबॉय जैसे ब्रांड से लेकर प्रसिद्ध छोटे-मोटे आउटलेट तक, सभी FUDR का इस्तेमाल अपने डिजिटल बैकबोन के रूप में कर रहे हैं।”

फंडिंग और आगे का रास्ता

सितंबर 2021 में, FUDR ने यूएस-आधारित एक्सेलेरेटर प्रोग्राम एक्सपर्ट डोजो के माध्यम से अपने प्री-सीड राउंड में $280,000 की फंडिंग जुटाई। इस राउंड में आदित्य सांघी (पंच इंक के सह-संस्थापक और पूर्व सीटीओ), शशांक देशपांडे (मैनेजिंग पार्टनर, पेंटाथलॉन वेंचर्स), और दिलप्रीत सिद्धू (माइंड मर्चेंट के सीईओ और लॉरबिट के सह-संस्थापक) जैसे एंजेल निवेशकों की भागीदारी देखी गई।

एक्सपर्ट डोजो में FUDR के ज्वाइन होने पर टिप्पणी करते हुए, एक्सपर्ट डोजो के संस्थापक सीईओ, ब्रायन मैक महोन ने कहा, "एक अमेरिकी ग्रोथ एक्सीलेटर के रूप में, हमने सबसे पहले देखा है कि यह मॉडल कैसे बढ़ता है और हम इस प्लेबुक को FUDR की रणनीति में लाएंगे। हमारा मानना है कि FUDR भारत में F&B प्रतिष्ठानों के लिए डिजिटल लिंक बनने के लिए विकसित होगा। संस्थापकों के पास एक सिद्ध ट्रैक रिकॉर्ड है और उनकी जीटीएम योजना कमाल की है। हम FUDR के लिए एक महत्वपूर्ण विकास भागीदार बनने की आशा करते हैं।"

आयुष कहते हैं, “हमने पिछले दो महीनों में प्लेटफॉर्म पर रेस्तरां की संख्या दोगुनी से अधिक कर दी है। इस साल के अंत तक, हम 2,000 ब्रांडों को टारगेट कर रहे हैं, और अगले कुछ वर्षों में 50,000 का पीछा कर रहे हैं।”

Edited by Ranjana Tripathi

Latest

Updates from around the world