अमेजन ने अपनी भारत की पेमेंट्स यूनिट में इन्वेस्ट किये 450 कोड़ रुपये

अमेजन ने अपनी भारत की पेमेंट्स यूनिट में इन्वेस्ट किये 450 कोड़ रुपये

Monday June 24, 2019,

2 min Read

Amazon Pay

सांकेतिक तस्वीर

अमेरिका की खुदरा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन ने भारत में अपनी भुगतान इकाई अमेजन पे में 450 करोड़ रुपये का निवेश किया है। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के पास जमा कराए गए दस्तावेजों के अनुसार अमेजन पे (इंडिया) ने 10 रुपये मूल्य के 45 करोड़ शेयर अमेजन कॉरपोरेट होल्डिंग्स और अमेजन.कॉम.आईएनसीएस लि.को आवंटित किए हैं।


बिजनेस इंटेलिजेंस प्लेटफार्म टॉफलर से प्राप्त दस्तावेजों के अनुसार आवंटन की तारीख छह जून, 2019 है। अमेजन कॉरपोरेट होल्डिंग्स ने 449.95 करोड़ रुपये डाले हैं जबकि शेष राशि अमेजन.कॉम.आईएनसीएस लि. से हासिल हुई है। यह फंडिंग ऐसे समय में की गई है जब पेटीएम, फ्लिपकार्ट के स्वामित्व वाली फोनपे, गूगल पे और अन्य कंपनियां देश के तेजी से बढ़ते डिजिटल भुगतान बाजार में भारी निवेश कर रही हैं।


रजिस्ट्रार ऑफ कंपनी को दिए दस्तावेज के मुताबिक अमेजन ने जनवरी में अमेजन पे में 300 करोड़ रुपये डाले थे। यह फंडिंग सिंगापुर और मॉरीशस स्थित ग्रुप के जरिए आई है। अमेजन पे (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड को वित्तीय वर्ष 2018 में 334 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। बीते वर्ष की तुलना में यह 88 फीसदी अधिक था। इसके पहले अमेजन पे को 178 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।


भारत में डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में कई सारी कपनियां उतर चुकी हैं इस वजह से रेवेन्यू बढ़ने के बावजूद इन कंपनियों को घाटा सहना पड़ रहा है। अमेजन पे ने 2018 वित्तीय वर्ष में 389 करोड़ रुपये का राजस्व इकट्ठा किया था। वहीं 2017 में एक अधिग्रहण की वजह से उसका रेवेन्यू 4.1 करोड़ रुपये था।