Auto Expo 2023: 3 साल बाद लग रहा है गाड़ियों का मेला, ये बड़ी कंपनियां नहीं करेंगी शिरकत

By yourstory हिन्दी
January 10, 2023, Updated on : Tue Jan 10 2023 06:16:56 GMT+0000
Auto Expo 2023: 3 साल बाद लग रहा है गाड़ियों का मेला, ये बड़ी कंपनियां नहीं करेंगी शिरकत
ऑटो एक्सपो का यह एडिशन 11 और 12 जनवरी को ‘प्रेस डेज’ के साथ शुरू होगा. 13 से 18 जनवरी तक यह एक्सपो आम लोगों के लिए खुलेगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश की प्रमुख वाहन प्रदर्शनी (ऑटो एक्सपो) का आयोजन करीब तीन साल बाद किया जा रहा है. ऑटो एक्सपो 2023, 11 जनवरी से शुरू होगा. कोविड महामारी की वजह से वाहनों के इस द्विवार्षिक मेले का आयोजन 2022 में टल गया था. हालांकि, इस बार कुछ प्रमुख वाहन कंपनियां ‘ऑटो एक्सपो’ (Auto Expo) में भाग नहीं ले रही हैं. इन कंपनियों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, स्कोडा, फॉक्सवैगन और निसान के साथ लग्जरी वाहन कंपनियां मर्सिडीज-बेंज, BMW और ऑडी शामिल हैं.


ग्रेटर नोएडा में आयोजित होने वाले ऑटो एक्सपो 2023 में मारुति सुजुकी, हुंडई, टाटा मोटर्स, किआ इंडिया, टोयोटा किर्लोस्कर और एमजी मोटर इंडिया जैसी कंपनियां हिस्सा ले रही हैं. वाहन प्रदर्शनी में भाग लेने वाली अन्य कंपनियों में अशोक लेलैंड, वोल्वो आयशर कमर्शियल वेहिकल्स, जेबीएम ऑटो, एसएमएल इसुजु, कमिंस, कीवे और सन मोबिलिटी शामिल हैं. इस बार ऑटो एक्सपो 75 नए उत्पादों के लॉन्च और अनवीलिंग के साथ 5 ग्लोबल लॉन्च का गवाह बनेगा. ऑटो एक्सपो का यह एडिशन 11 और 12 जनवरी को ‘प्रेस डेज’ के साथ शुरू होगा. 13 से 18 जनवरी तक यह एक्सपो आम लोगों के लिए खुलेगा.

टूव्हीलर्स और EV

इसके अलावा हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो और टीवीएस मोटर कंपनी जैसे प्रमुख दोपहिया विनिर्माताओं की मौजूदगी एथनॉल पवेलियन में उनके ‘फ्लेक्स फ्यूल’ प्रोटोटाइप वाहनों के प्रदर्शन तक सीमित रहेगी. EV की बात करें तो पैसेंजर व्हीकल्स सेगमेंट में BYD India, Vayve Mobility, Pravaig Dynamics हिस्सा ले रही हैं. वहीं इलेक्ट्रिक टूव्हीलर व थ्रीव्हीलर सेगमेंट में Greaves Cotton, Tork Motors, Wardwizard Innovations, Motovolt Mobility और LML अपने प्रॉडक्ट डिस्प्ले करेंगी.


न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, वाहन विनिर्माताओं के संगठन सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के एक अधिकारी का कहना है कि 2020 के पिछले एडिशन की तुलना में इस बार उद्योग प्रतिभागियों की संख्या अधिक होगी. मोटर शो में 46 वाहन विनिर्माताओं के साथ उद्योग के करीब 80 हितधारक भाग ले रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन की ओर बढ़ते रुझान के बीच इस बार वाहन मेले में बड़ी संख्या में स्टार्टअप कंपनियों की भागीदारी रहेगी. ये स्टार्टअप मुख्य रूप से इलेक्ट्रिक दोपहिया, तिपहिया और वाणिज्यिक वाहन के विनिर्माण के क्षेत्र में हैं.

मर्सिडीज बेंज और स्कोडा क्यों नहीं ले रहीं हिस्सा

एक्सपो में हिस्सा नहीं लेने वाली कंपनियों ने शो की प्रासंगिकता का उल्लेख किया है. मर्सिडीज बेंज इंडिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) संतोष अय्यर का कहना है, ‘‘हम काफी साल से इस एक्सपो में हिस्सा लेते रहे हैं. हमने देखा है कि मेले में आने वाले ग्राहकों की हमारे जैसे लग्जरी ब्रांड में कम रुचि रहती है. इस वजह से हमने मेले में भाग नहीं लेने का फैसला किया. हम ग्राहकों के साथ संपर्क के लिए और तरीके अपनाएंगे.’’


स्कोडा ऑटो इंडिया के ब्रांड निदेशक पीटर सॉल्क के मुताबिक, कंपनी ने भारत में अपने उत्पादों को उतारने के लिए अपनी समयसीमा के हिसाब से चलने का आंतरिक फैसला किया है. ऐसे में हम वाहन प्रदर्शनी में भाग नहीं ले रहे हैं. बता दें कि पूर्व में कई वाहन कंपनियां आयोजन स्थल की दूरी और भागीदारी की ऊंची लागत को लेकर सवाल उठाती रही हैं.

ऑटो एक्सपो 2023 -कंपोनेंट्स भी हो रहा आयोजित

वाहन कलपुर्जा प्रदर्शनी-2023 (Auto Expo 2023 - Components) भी तीन साल के बाद 12-15 जनवरी, 2023 के बीच राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित होने जा रहा है. इस एक्सपो में 800 से अधिक कंपनियां भाग लेंगी. इस प्रदर्शनी का आयोजन भारतीय वाहन कलपुर्जा विनिर्माता संघ (एसीएमए), भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) और सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) मिलकर करते हैं. प्रदर्शनी में कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इजराइल, इटली, जापान, पोलैंड, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, स्विट्जरलैंड, ताइवान, थाइलैंड, ब्रिटेन और अमेरिका सहित 15 देशों की कंपनियां भाग ले रही हैं. इस बार प्रतिभागियों की संख्या 2020 में पिछले आयोजन की तुलना में 200 अधिक है.


Edited by Ritika Singh