संस्करणों

किराये के ग्रीनहाउस में सब्जियों की पौध उगा रहे हैं हरियाणा के किसान

योरस्टोरी टीम हिन्दी
9th Nov 2015
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

पीटीआई


साभार-shutterstock.com

साभार-shutterstock.com


हरियाणा के करनाल के निकट घरौंदा में सब्जियों के भारत-इस्राइली उत्कृष्टता केन्द्र की पेशकश ग्रीनहाउस किराया सेवा, हरियाणा के किसानों में काफी लोकप्रिय हो रही है, जो मामूली शुल्क अदा करके वर्ष में 60 लाख पौध उगा रहे हैं।

ग्रीनहाउस वह ढांचा है जहां नियंत्रित जलवायु वातावरण में पौधों के बीज :पौध: को उगाया जाता है। इस केन्द्र की स्थापना वर्ष 2011 में हुई थी जिसमें आधा एकड़ में ग्रीनहाउस सुविधा केन्द्र है और प्रति पौध किसानों से एक दो रपये शुल्क लिया जाता है। यह केन्द्र किसानों और स्थानीय विशेषज्ञों को अपने नियमित होने वाली कार्यशालाओं में सब्जी की पैदावार बढ़ाने के लिए ग्रीनहाउस, ड्रिप सिंचाई और फर्टिगेशन पद्धति के लिए इस्राइली विशेषज्ञता की पेशकश करता है।

सब्जियों के इस उत्कृष्टता केन्द्र में बागवानी विभाग के उपनिदेशक सत्येन्द्र यादव ने कहा, कार्यशालाओं से सीखने के बाद किसानों ने इन प्रौद्योगिकियों को बड़े पैमाने पर अपनाना शुरू कर दिया है। वे वर्ष 2011 से ग्रीनहाउस सुविधाओं को इस्तेमाल करते हुए पौधों को उगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसान करीब 60 लाख पौधे अब वर्ष भर में उगा रहे हैं जबकि वर्ष 2011 में पांच लाख पौध ही उगाये जाते थे। उन्होंने कहा कि पंजाब, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश के किसान भी इस सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हैं।

ग्रीनहाउस सुविधा केन्द्र में पौध की देखरेख के लिए यह केन्द्र किसानों से मामूली शुल्क वसूल करता है। जो किसान अपना खुद का बीज लेते हैं उससे केन्द्र एक रपये वसूल करता है और अगर वे केन्द्र से बीज लेते हैं तो दो रुपये का शुल्क लिया जाता है। किसान मिर्च, टमाटर, शिमला मिर्च, फूलगोभी इत्यादि जैसी विभिन्न सब्जियों के पौध उगाते हैं। वे इन पौधों को बाद में ग्रीनहाउस से ले जाकर अपने खेतों में रोपते हैं।

इस केन्द्र से इसके लाभ की जानकारी लेने के बाद किसानों द्वारा अपना खुद का ग्रीनहाउस स्थापित करने के बारे में पूछने पर यादव ने कहा, ग्रीनहाउस को स्थापित करना महंगा सौदा है। केन्द्र के द्वारा प्रदत्त ग्रीनहाउस स्थान में पौध को उगाना कहीं अधिक सस्ता सौदा बैठता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा और पंजाब के कुछ उद्यमियों ने ग्रीनहाउस ढांचा को स्थापित करने की इच्छा जताई है जिसमें आधे एकड़ भूमि में एक सुविधा केन्द्र स्थापित करने में करीब 80 लाख रुपये की लागत आती है।

सब्जियों का घरौंदा उत्कृष्टता केन्द्र, भारत.इस्राइल कृषि परियोजना के के रूप में स्थापित किया गया है। अभी तक परियोजना के तहत प्रस्तावित 26 में से नौ राज्यों में सब्जियों और फलों के 15 केन्द्र स्थापित किये गये हैं।

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags