संस्करणों
प्रेरणा

हर प्रॉब्लम का सिर्फ एक सॉल्यूशन ‘GetMyPeon’

वडापाव की डिलिवरी से लेकर एयरपोर्ट पर गेस्ट रिसीव करने तक हर काम चुटकियों

Sahil
15th Jul 2015
1+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on

लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी को आसान बनाने और इसे क्रांतिकारी बनाने के मकसद से शुरू किया गया GetMyPeon मुंबई की एक इनोवेटिव और सेम-डे डिलेवरी सर्विस है। डेडिकेटेड प्रोफेशनल्स की टीम के साथ GetMyPeon लोगों को उनकी रोजमर्रा से जुड़ी विश्वसनीय और किफायती सेवाएं उपलब्ध कराती है।

1 जुलाई 2015 को GetMyPeon ने अपने ऑपरेशंस के 3 साल पूरे कर लिए। ‘गेट थिंग्स डन’ उनकी टैगलाइन है। GetMyPeon किसी स्पेसिफिक फूड स्टाल से वडा-पाव की डिलेवरी से लेकर क्लाइंट के किसी दोस्त को एयरपोर्ट पर रिसीव करने, क्लाइंट्स के दादा-दादी को किसी डॉक्टर के क्लीनिक ले जाने जैसी तमाम सर्विस को प्रोवाइड कराती है। GetMyPeon ने एक ही दिन में सर्विस पहुंचाने का नया तरीका ढूढ़ निकाला है।

GetMyPeon को 2.5 लाख डॉलर की सीड-फंडिंग

2012 में अपने जन्म के बाद से GetMyPeon ने हाल ही में 2.5 लाख डॉलर की पहली सीड फंडिंग रिसीव किया है। GetMyPeon के फाउंडर भरत अहिरवार इस फंडिंग के बारे में बताते हैं- “GetMyPeon को लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी को आसान बनाने के मकसद से शुरू किया गया। अब ये एक रिलायबल, अफोर्डेबल, डिपेंडेबल और हाइली एवेलेबल सर्विस बन चुकी है। कोई भी इससे मुंबई में पर्सनल या ऑफिसियल काम से जुड़ी सर्विस ले सकता है। चाहे केक, पार्सल्स, गिफ्ट्स, वेडिंग कार्ड्स के पिक-अप की बात हो या कूरियर या फिर अपनी कार, बाइक की सर्विसिंग करानी हो या फिर एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशनों से गेस्ट्स रिसीव करना हो, हम इन सभी सर्विस को ऑफर करते हैं। इस फंडिंग से हमें अपने ऑपरेशंस को एक नई ऊंचाई पर पहुंचाने में मदद मिलगी।”

मिले वाले फंड को अनिवार्य रूप टेक्नोलॉजी (फ्रंट इंड एंड बैक इंड), व्हिकल्स, और ज्यादा फील्ड कर्मचारियों की भर्ती, मोबाइल प्लेटफॉर्म और भौगोलिक विस्तार जैसे इंफ्रास्ट्रक्चर में इनवेस्ट किया जाएगा।

image


GetMyPeon की ग्रोथ

GetMyPeonकी ग्रोथ स्टोरी काफी इंट्रेस्टिंग है। 2012 में अपनी शुरूआत के साथ GetMyPeon ने 35 हजार से ज्यादा टास्क को अंजाम दिया है और मुंबई, ठाणे, वाशी में 15 हजार से ज्यादा क्लाइंट्स को अपनी सेवाएं दी है। इस सम 60 से ज्यादा फील्ड एक्जिक्यूटिव की टीम है और GetMyPeon अब हर रोज 150-200 टास्क को अंजाम दे रहा है जिसकी फीस 200 रुपये से 1500 रुपये के बीच है। 2012 में इस सर्विस को सिर्फ फेसबुक और ट्विटर पेज के जरिये लॉन्च किया गया, वेबसाइट तो बाद में मिड-2013 में लॉन्च हुई। फिलहाल GetMyPeon के फेसबुक पेज पर 4500 से ज्यादा फॉलोवर्स हैं। महज 20 हजार रुपये की पूंजी से शुरू हुए GetMyPeon ने कामयाबी की एक शानदार ऊंचाई को छुआ है।

GetMyPeon क्लाइंट्स की जरूरतों के हिसाब से हाइली कस्टमाइज्ड सर्विस ऑफर करती है। कुछ ऑफर की जाने वाली सर्विसेज में पिक अप एंड ड्रॉप (फूड, पार्सल्स, चेक्स, लॉन्ड्री, केक्स, वेडिंग इवाइट्स, डॉक्यूमेंट्स, लेटर्स, गेस्ट्स, कारें और बाइक्स), रिपेयरिंग, गेस्ट को एयरपोर्ट से रिसीव करने, इलेक्ट्रिसिटी और फोन बिल्स आदि को जमा करने के लिए आदमी हायर करने की सुविधा शामिल है।

कॉल्स और ईमेल्स के जरिये ऑर्डर लेने के परंपरागत तरीके के अलावा GetMyPeon व्हाट्सऐप, मोबाइल मैसेंजर और ट्विटर के ट्वीट्स के जरिए भी ऑर्डर स्वीकार करता है।

कॉम्पटिशन और फ्यूचर प्लान

फिलहाल अभी तक तो भारत में इस क्षेत्र में कोई डायरेक्ट कॉम्पटिशन नहीं है। मगर Timesavers और Grofers इनमें से कुछ सेवाओं को ऑफर करती हैं और वो मार्केटप्लेस बनाने की कोशिश कर रही हैं। इस क्षेत्र में कॉम्पटिशन के संबंध में भरत कहते हैं- “GetMyPeon इसलिए टिका हुआ है क्योंकि हम मार्केटप्लेस नहीं हैं। फील्ड में हमारी अपनी प्रशिक्षित और कुशल टीम है जो हर काम को 90 मिनट के भीतर पूरा करने की गारंटी देती है। हम क्लाइंट के रिक्वेस्ट के आधार पर कस्टमाइज्ड सर्विस देते हैं और हम शहर में किसी क्लाइंट की पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों तरह की हर जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।”

जहां तक फ्यूचर प्लान्स की बात है, GetMyPeon जल्द ही एक ऐप लॉन्च करेगा और देश के तीन अन्य शहरों बेंगलुरु, पुणे और दिल्ली में अपना विस्तार करेगा। इसके अलावा इस साल के आखिर तक अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार की योजना है।

image


1+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Report an issue
Authors

Related Tags

Authors

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें