इन राज्यों में कोरोना संक्रमण रिकवरी रेट है काफी ऊपर, हालांकि राजधानी दिल्ली लिस्ट में नहीं है शामिल

By yourstory हिन्दी
June 18, 2020, Updated on : Thu Jun 18 2020 04:01:30 GMT+0000
इन राज्यों में कोरोना संक्रमण रिकवरी रेट है काफी ऊपर, हालांकि राजधानी दिल्ली लिस्ट में नहीं है शामिल
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस समय देश में कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां एक्टिव केसों के मुक़ाबले रिकवर हो चुके केसों की संख्या अधिक है।

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र



कोरोना वायरस अभी देश में पैर पसार रहा है। बीते कुछ दिनों से देश में रोजाना 10 हज़ार से अधिक कोरोना वायरस संक्रमण के मामले देखने को मिल रहे हैं। बुधवार शाम तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण का कुल आंकड़ा 3 लाख 58 हज़ार पार कर चुका था।


देश में इसी के साथ रिकवरी के मामले भी तेजी से बढ़ते हुए नज़र आ रहे हैं। आज जहां देश में 1 लाख 57 हज़ार से अधिक एक्टिव केस हैं, वहीं रिकवर हो चुके लोगों की संख्या 1 लाख 89 हज़ार के पार जा चुकी है। देश में कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां एक्टिव केसों के मुक़ाबले रिकवर हो चुके केसों की संख्या अधिक है।


महाराष्ट्र देश में सबसे अधिक कोरोना वायरस प्रभावित राज्य है, जहां इस समय 50 हज़ार से अधिक एक्टिव केस हैं, जबकि राज्य में अब तक 57 हज़ार से अधिक लोग रिकवर हो चुके हैं। इसी तरह इस सूची में दूसरे नंबर पर काबिज तमिलनाडु में भी 21 हज़ार से अधिक एक्टिव केसों की तुलना में 27 हज़ार रिकवर हो चुके मामले हैं।


इसके बाद 6 हज़ार एक्टिव केसों की तुलना में 17 हज़ार रिकवर हो चुके मामलों के साथ गुजरात का नंबर आता है, जबकि राजधानी दिल्ली अभी इस लिस्ट में शामिल नहीं है, जहां 26 हज़ार से अधिक एक्टिव केस हैं और सिर्फ 16 हज़ार लोग रिकवर हुए हैं।


अधिक रिकवरी रेट की सूची में आगे उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उड़ीसा, तेलंगाना, जम्मू और कश्मीर, पंजाब, असम, उत्तराखंड, झारखंड, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश, मेघालय और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह शामिल है। ये सभी आंकड़े बुधवार शाम 7 बजे तक के हैं।


देश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकारें कड़े कदम उठा रही हैं, जबकि फिलहाल कई जगहों पर छूट भी दी जा चुकी है।