इस गर्भवती महिला के लिए 'देवदूत' बनी यूपी पुलिस, मदद करने वाले अधिकारी के नाम पर रखा नवजात बेटे का नाम

By yourstory हिन्दी
March 27, 2020, Updated on : Fri Mar 27 2020 10:01:30 GMT+0000
इस गर्भवती महिला के लिए 'देवदूत' बनी यूपी पुलिस, मदद करने वाले अधिकारी के नाम पर रखा नवजात बेटे का नाम
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना महामारी (COVID-19) से जंग में डॉक्टर्स के अलावा अगर कोई सबसे अधिक काम कर रहा है तो वह पुलिस प्रशासन है। पुलिस प्रशासन पर लोगों को समझाते हुए सरकार के लॉकडाउन आदेशों को सख्ती से लागू करने की जिम्मेदारी है। वह ऐसा कर भी रहे हैं। इस समय देश के सभी कोनों से पुलिस प्रशासन की अलग-अलग तस्वीरें सामने आ रही हैं। कई जगहों से पुलिस की सख्ती की खबरें सामने आईं तो कहीं से पुलिस की दरियादिली की।


k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: Hindustan)



कर्नाटक में लोगों को घरों में रखने के लिए पुलिस प्रशासन बल का सहारा ले रहा है तो राजस्थान के जयपुर में पुलिस की बेजुबान पक्षियों को दाना डाल रही है। देश में लॉकडाउन की हालत में पुलिस से जुड़ी सभी को खुश करने वाली एक खबर सामने आई है। एक प्रेग्नेंट महिला ने अपने नवजात बेटे का नाम उस पुलिस अधिकारी के नाम पर रखा है जिसने महिला के पति को आधी रात में नोएडा से बरेली भेजने की व्यवस्था की।





पूरा मामला कुछ इस प्रकार है

दरअसल बरेली में प्रेग्नेंट महिला तमन्ना अली के पति अनीस खान कुछ दिन पहले काम से नोएडा गए थे। इसी बीच पीएम मोदी ने 21 दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा कर दी। गर्भवती तमन्ना घर में अकेली थीं। इस कारण दोनों ही परेशान थे। अनीस नोएडा से वापस घर नहीं आ पा रहे थे और तमन्ना कहीं जा नहीं पा रही थीं।


इसी बीच तमन्ना ने सोशल मीडिया पर अपनी परेशानी बताते हुए विडियो पोस्ट किया। यह विडियो घूमते-फिरते बरेली के एसएसपी शैलेष पांडे के पास पहुंचा। उन्होंने पहले तमन्ना से बात की और फिर तत्काल नोएडा एडीएसपी रणविजय सिंह को पूरा मामला बताकर तुरंत मदद करने के लिए कहा।

इसी बीच रणविजय ने तमन्ना से बात की और अनीस की लोकेशन के बारे में पूछा। बाद में रणविजय सिंह ने गाड़ी की व्यवस्था की, उसे सभी लीगल परमिशन दिलवाकर अनीस को नोएडा से बरेली भिजवाया। अनीस को अपने पास देखकर तमन्ना रोने लगीं। इसके बाद अनीस ने रणविजय सिंह से कहा कि अगर मुझे बेटा हुआ तो उसका नाम रणविजय रखूंगा।


हुआ भी कुछ ऐसा ही, अनीस पापा बने और उसका नाम रणविजय खान रखा गया। इसके बाद तमन्ना ने विडियो संदेश के जरिए सभी को धन्यवाद दिया।


विडियो संदेश में तमन्ना ने कहा,

'खाकी में आप लोग भगवान हैं। आज खाकी ने मुझे दूसरी जिंदगी दी है। इन्हीं के कारण आज मैं जिंदा हूं। उन्होंने बरेली कमिश्नर, बरेली पुलिस, बरेली एसपी, कमिश्नर नोएडा और खासतौर पर एडिशनल एसपी (एडीएसपी) रणविजय सिंह को स्पेशल थैंक्स।'