कोरोनावायरस: साढ़े दस हजार कामगारों को वित्तीय मदद मुहैया कराएंगे आईआईटी-खड़गपुर के पूर्व छात्र

By भाषा पीटीआई
April 24, 2020, Updated on : Fri Apr 24 2020 08:01:30 GMT+0000
कोरोनावायरस: साढ़े दस हजार कामगारों को वित्तीय मदद मुहैया कराएंगे आईआईटी-खड़गपुर के पूर्व छात्र
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोलकाता, आईआईटी- खड़गपुर के पूर्व विद्यार्थियों ने असंगठित क्षेत्र के उन 10 हजार 500 कामगारों को वित्तीय सहायता मुहैया कराने के लिये एक कोष बनाया है, जो अपनी आजीविका के लिए परिसर पर आश्रित हैं और अब लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। यह जानकारी संस्थान ने बृहस्पतिवार को एक बयान जारी कर दी।


h

आईआईटी-खड़गपुर (फोटो क्रेडिट: shiksha.com)


संस्थान ने कहा कि छह महीने तक वित्तीय सहायता हासिल करने वाले लाभार्थियों में ढाबों के दैनिक मजदूर, छात्रावासों के वार्ड ब्वॉय, कपड़े धोने वाले, चाय की दुकान चलाने वाले, रिक्शाचालक, घरेलू सहायक और निर्माण कार्यों में संलग्न मजदूर शामिल हैं।


बयान में कहा गया है कि यह कोष 1967 बैच के छात्र विनोद गुप्ता ने शुरू किया है, जो अपनी समाजसेवा के लिए प्रसिद्ध हैं।


आईआईटी- खड़गपुर के निदेशक प्रोफेसर वीरेन्द्र के. तिवारी ने कहा,

‘‘लोगों की सहायता के लिए यह कोष शुरू करने की खातिर विनोद गुप्ता को धन्यवाद।’’


बयान में कहा गया है कि अमेरिका में समूह के अध्यक्ष रणबीर गुप्ता के नेतृत्व में आईआईटी-केजीपी फाउंडेशन दान एकत्रित कर रहा है।


इसने कहा कि फाउंडेशन एक करोड़ 85 लाख रुपये एकत्रित कर चुका है जिसमें 76 लाख रुपये विनोद गुप्ता ने दिए हैं।



Edited by रविकांत पारीक