संस्करणों
विविध

प्रो कबड्डी लीग: पटना पाइरेट्स ने बिहार से चुने 3 उदीयमान खिलाड़ी

yourstory हिन्दी
5th Sep 2018
Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share

मौजूदा चैम्पियन फ्रेंचाइजी पटना पाइरेट्स ने मंगलवार को हाल ही में आयोजित ट्रायल सेशन से बिहार से तीन उदीयमान खिलाड़ियों के चयन की घोषणा की है। फ्रेंचाइजी के मुताबिक इन खिलाड़ियों का चयन ‘प्रैक्टिस विद पाइरेट्स’ पहल के तहत किया गया है।

पटना पाइरेट्स के खिलाड़ी 

पटना पाइरेट्स के खिलाड़ी 


आने वाले समय में पीकेएल सीजन-6 के लिए पटना पाइरेट्स टीम दिल्ली में अपना कैम्प लगाएगी और इसी कैम्प के दौरान ये तीन खिलाड़ी राम मेहर सिंह और उनकी योग्य कोचिंग स्टाफ से कबड्डी के विशेष गुर सीखेंगे।

वीवो प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) का खिताब तीन बार जीत चुकी मौजूदा चैम्पियन फ्रेंचाइजी पटना पाइरेट्स ने मंगलवार को हाल ही में आयोजित ट्रायल सेशन से बिहार से तीन उदीयमान खिलाड़ियों के चयन की घोषणा की है। फ्रेंचाइजी के मुताबिक इन खिलाड़ियों का चयन ‘प्रैक्टिस विद पाइरेट्स’ पहल के तहत किया गया है। पटना पाइरेट्स ने हाल ही में राज्य से उदीयमान खिलाड़ियों के चयन के लिए इस पहल की शुरुआत की थी।

फ्रेंचाइजी का कहना है कि चुने गए खिलाड़ी दिल्ली में क्लब के अर्जुन पुरस्कार विजेता कोच राम मेहर सिंह की देखरेख में प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।‘प्रैक्टिस विद पाइरेट्स’ पहल से चुने गए खिलाड़ियों के नाम अमन भारती, रवींद्र कुमार और प्रेमजीत कुमार हैं। इन खिलाड़ियों ने मुख्य कोच राम मेहर सिंह को काफी प्रभावित किया है।

आने वाले समय में पीकेएल सीजन-6 के लिए पटना पाइरेट्स टीम दिल्ली में अपना कैम्प लगाएगी और इसी कैम्प के दौरान ये तीन खिलाड़ी राम मेहर सिंह और उनकी योग्य कोचिंग स्टाफ से कबड्डी के विशेष गुर सीखेंगे और खुद को कड़ी प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार करेंगे। कबड्डी के खेल की उच्चस्तरीय प्रतिस्पर्धा के लिए खुद को तैयार करने के साथ-साथ ये तीनों खिलाड़ी कैम्प के दौरान क्लब के नामचीन स्टार खिलाड़ियों से रू-ब-रू होंगे।

‘प्रैक्टिस विद पाइरेट्स’ पहल के दौरान प्रतिभागियों की मानसिक शक्ति, शारीरिक शक्ति, सुधार करने की इच्छा और खेल को पूरी भावना के साथ आगे ले जाने की उनकी इच्छाशक्ति के आधार पर मापा गया। फ्रेंजाइजी के इस पहल को राज्य में जबरदस्त रेस्पांस मिला। बड़ी संख्या में कबड्डी खिलाड़ियों ने इसके लिए पंजीकरण कराया। इसके बाद राम मेहर सिंह की देखरेख में इनका ट्रायल हुआ और इनमें से तीन लड़कों को सामने लाया जा सका।

यह भी पढ़ें: ड्यूटी के दौरान DCP पिता और IPS बेटी की हुई मुलाकात तो पिता ने किया सैल्यूट

Add to
Shares
2
Comments
Share This
Add to
Shares
2
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें