संस्करणों
विविध

सत्ता और गुमनामी की दिलचस्प कहानी

अमेरिका में ड्राई क्लीनर चलाती है उत्तर कोरियाई नेता किंग जोंग-उन की मौसी

29th May 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

उत्तर कोरिया के प्रमुख नेता किम जोंग-उन की मौसी न्यूयार्क में गुमनामी में अपना जीवन बिता रही हैं और 1998 में देश छोड़ने के बाद से वह यहाँ एक ड्राई क्लीनिंग चला रही हैं।

मीडिया की रिपोर्ट में बताया गया है कि को योंग-सुक अपने पति री गैंग और तीन बच्चों के साथ नाम बदल कर रह रही हैं। वह को योंग हुयी की बहन हैं जो उत्तर कोरिया के पूर्व नेता किम जोंग इल की पत्नियों में से एक और किम जोंग-उन की मां की बहन हैं।

फोटो- वाशिंगटन पोस्ट

फोटो- वाशिंगटन पोस्ट


उत्तर कोरिया के कम्युनिस्ट शासन के करीबी दंपति को स्विटजरलैंड भेज दिया गया था। दंपति को किम जोंग-उन समेत शाही परिवार के सदस्यों की देखभाल के लिए भेजा गया, था जो स्विट्जरलैंड में पढ़ाई कर रहे थे।

‘को’ ने न्यूयार्क में अपने घर पर वाशिंगटन पोस्ट को दिये एक साक्षात्कार में किम के बारे बताया, ‘‘वह समस्या पैदा करने वाला नहीं था, लेकिन वह तुनकमिजाज था और उसमें बर्दाश्त करने की क्षमता की कमी थी।’’ उन्होंने बताया, ‘‘जब उसकी मां उससे कहने की कोशिश करतीं कि उसने काफी खेल लिया है और पढ़ाई नहीं की है तो वह कुछ बोलता नहीं, लेकिन भूख हड़ताल जैसे अन्य तरीके अपनाकर विरोध जताता।’’

‘को’ ने बताया कि किम का जन्म पहले की जानकारी के अनुसार 1982 या 1983 में नहीं हुआ था, बल्कि उनका ज्न्म 1984 में हुआ था। इसका मतलब यह हुआ कि जब वर्ष 2011 में उन्होंने अपने पिता से पद्भार लिया था तब वह सिर्फ 27 वर्ष के थे।

‘को’ का अपना बेटा भी उसी साल पैदा हुआ था और वे दोनों साथ खेलते थे।

उन्होंने बताया, ‘‘वह और मेरा बेटा बचपन में साथ खेलते थे।’’ उन्होंने बताया, ‘‘मैंने दोनों के डायपर बदले हैं।’’ ‘को’ ने बताया कि किम की दिलचस्पी बॉस्केटबॉल में थी।

यह स्पष्ट नहीं है कि ‘को’ अमेरिका क्यों आ बसीं।

(पीटीआई)

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags