इनरवियर बनाने वाली इस कंपनी को हुआ 'नुकसान', शेयर बेच-बेच कर निकलने लगे निवेशक

By Anuj Maurya
November 14, 2022, Updated on : Mon Nov 14 2022 09:38:21 GMT+0000
इनरवियर बनाने वाली इस कंपनी को हुआ 'नुकसान', शेयर बेच-बेच कर निकलने लगे निवेशक
डॉलर इंडस्ट्रीज (Dollar Industries) को तगड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. कंपनी का नेट प्रॉफिट लगभग 60 फीसदी गिरा है. कंपनी के शेयरों पर इसका असर साफ देखा जा सकता है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इनरवियर बनाने वाली कंपनी डॉलर इंडस्ट्रीज (Dollar Industries) को तगड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. वैसे कंपनी को सीधा नुकसान तो नहीं हुआ है, लेकिन मुनाफा आधे से भी अधिक गिर चुका है. इस तिमाही में कंपनी का नेट प्रॉफिट लगभग 60 फीसदी गिरा है, वहीं कंपनी की बिक्री में भी करीब 12 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है.

क्या रहे नतीजे?

इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानी जुलाई-सितंबर तिमाही में डॉलर इंडस्ट्रीज का मुनाफा 60.49 फीसदी घटकर 17.29 करोड़ रुपये रह गया है. पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 43.76 करोड़ रुपये था. इस तिमाही में कंपनी की सेल्स में भी 12.48 फीसदी की गिरावट आई है, जिसके बाद कंपनी का रेवेन्यू 341.92 करोड़ रुपये रह गया है.

क्यों हुआ ये नुकसान?

डॉलर इंडस्ट्रीज ने इस नुकसान पर कहा है कि इसके लिए हौजरी सेक्टर में आई सुस्ती जिम्मेदार है. यह सेक्टर कपास और धागे जैसी इनपुट की चीजों की कीमतों में उतार-चढ़ाव का खामियाजा भुगत रहा है. कॉटन और यार्न की कीमतों में लगातार गिरावट देखी गई है. इसकी वजह से इस तिमाही में कंपनी को इन्वेंट्री लॉस झेलना पड़ा है. हालांकि, कंपनी का मानना है कि यह नुकसान अस्थाई है. अभी कंपनी के पास 8 ब्रांड आउटलेट हैं और इस वित्त वर्ष के अंत तक करीब 20-25 ऐसे स्टोर खोलने की प्लानिंग है.

क्या है कंपनी के शेयर का हाल?

पिछले हफ्ते शुक्रवार को डॉलर इंडस्ट्रीज का शेयर 6.08% तक गिरकर 454.30 रुपये बंद हुआ. इसी साल 20 जनवरी को कंपनी के शेयर का भाव 665.70 रुपये पर था. पिछले साल 20 दिसंबर को डॉलर इंडस्ट्रीज का शेयर 397.30 रुपये का था. सोमवार, 14 नवंबर को दोपहर 12 बजे तक कंपनी का शेयर लगभग 1.55 फीसदी गिर गया और 446 रुपये के लेवल तक चला गया.