शेयर बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, 6 दिन बाद सेंसेक्स और निफ्टी लुढ़के

RBI की शुक्रवार को जारी होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा से पहले बैंक और रियल्टी क्षेत्र के शेयर स्थिर रहे.
0 CLAPS
0

शेयर बाजार (Stock Markets) में पिछले छह दिन से जारी तेजी पर गुरुवार को विराम लग गया. बैंक और ऊर्जा शेयरों में मुनाफावसूली से BSE Sensex 51.73 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक (MPC Meet) के नतीजे शुक्रवार को जारी होने वाले हैं. इससे पहले निवेशकों ने सतर्क रुख अपनाया.

उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 51.73 अंकों की गिरावट के साथ 58298.80 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 58712.66 का उच्च स्तर और 57577.05 का निचला स्तर छुआ.

NTPC 3% से ज्यादा टूटा

सेंसेक्स के शेयरों में एनटीपीसी, भारतीय स्टेट बैंक, एक्सिस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, पावरग्रिड और कोटक महिंद्रा बैंक प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. एनटीपीसी का शेयर 3 प्रतिशत से ज्यादा टूटा. दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में सन फार्मा, नेस्ले इंडिया, इन्फोसिस, डॉ. रेड्डीज, विप्रो और महिंद्रा एंड महिंद्रा शामिल हैं. सनफार्मा और नेस्ले इंडिया के शेयरों में 2 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी आई.

Nifty50 का हाल

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 6.15 अंकों की गिरावट के साथ 17382 पर बंद हुआ. निफ्टी के सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट और तेजी का मिला जुला रुख देखने को मिला. फार्मा शेयरों में सबसे ज्यादा 2.37 प्रतिशत की तेजी आई. सिप्ला, नेस्ले इंडिया, सन फार्मा, इन्फोसिस, अपोलो हॉस्पिटल्स टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर एनटीपीसी, टाटा कंज्यूमर, कोल इंडिया, श्री सीमेंट और एसबीआईरा टॉप लूजर्स रहे.

RBI की शुक्रवार को जारी होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा से पहले बैंक और रियल्टी क्षेत्र के शेयर स्थिर रहे. एशिया के अन्य बाजारों और यूरोपीय बाजारों में तेजी के साथ प्रमुख सूचकांकों को काफी हद तक नुकसान से उबरने में मदद मिली.

वैश्विक बाजारों की कैसी रही चाल

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में ज्यादातर में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख रहा. अमेरिकी बाजार बुधवार को बढ़त में रहे. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 765.17 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

रुपया 17 पैसे कमजोर

निराशाजनक वृहत आर्थिक आंकड़ों और अमेरिका-चीन के बीच तनाव बढ़ने के बीच अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 17 पैसे कमजोर होकर 79.32 (अस्थायी) के भाव पर बंद हुआ. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.21 के स्तर पर खुला. कारोबार के अंत में यह अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 17 पैसे की गिरावट के साथ 79.32 प्रति डॉलर पर बंद हुआ. बुधवार को रुपया 62 पैसे टूटकर 79.15 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. चालू वित्तवर्ष में यह एक दिन के कारोबार में रुपये में आई सर्वाधिक गिरावट थी.