संस्करणों

तमिलनाडु में 24 और केरल में 5 करोड़पति मंत्री

27th May 2016
Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share

पीटीआई

तमिलनाडु सरकार के 24 मंत्री करोड़पति हैं एवं आठ के खिलाफ आपराधिक मामले चल रहे हैं जबकि केरल में पांच मंत्री करोड़पति हैं एवं 17 के विरूद्ध अपराधिक मामले दर्ज हैं। एसोसिएशन फोर डेमोक्रेटिक रिफोम्र्स :एडीआर: के अध्ययन से पता चला है, ‘‘ :तमिलनाडु में: 29 मंत्रियों में 24 करोड़पति हैं।

 इन मंत्रियों की औसत संपत्ति 8.55 करोड़ रूपए है। ’’ इस अध्ययन के अनुसार मुख्यमंत्री जयललिता के पास 113.73 करोड़ रूपए मूल्य की सबसे अधिक कुल घोषित संपत्ति है। उसके बाद वीरामणि के सी के पास 27.67 करोड़ रूपए और बेंजामिन पी के पास 23.02 करोड़ रूपए की संपत्ति है।

अध्ययन में कहा गया है, ‘‘सबसे कम घोषित संपत्ति वाले मंत्री अन्नाद्रमुक के उदयकुमार आर बी हैं जिनके पास 31.75 लाख रूपए की संपत्ति है। ’’ कुल 22 मंत्रियों ने अपनी देनदारियां घोषित की है। विजय भास्कर सी पर सर्वाधिक 9.91 करोड़ रूपए की देनदारी है।

image


एडीआर ने कहा, ‘‘29 मंत्रियों में आठ ने अपने विरूद्ध आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। जिन आठ मंत्रियों ने अपने विरूद्ध आपराधिक मामले होने की घोषणा की है उनमें चार ने अपने विरूद्ध गंभीर आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है।’’ मंत्रियों की शिक्षा अर्हता के संबंध में 17 मंत्री स्नातक या उच्च डिग्री धारी हैं जबकि 12 वीं पास या उससे कम पढ़े-लिखे 12 मंत्री हैं।

तमिलनाडु इलेक्शन वाच और एडीआर ने इन सभी 29 मंत्रियों के हलफनामों का विश्लेषण किया है। एक अन्य प्रेस विज्ञप्ति में एडीआर ने केरल इलेक्शन वाच के साथ मिलकर वहां के सभी 19 मंत्रियों के हलफनामों का विश्लेषण किया है।

एडीआर ने कहा, ‘‘19 मंत्रियों की औसत संपत्ति 78.72 लाख रूपए है। सबसे अधिक घोषित कुल संपत्ति वाले मंत्री माकपा के के बलान हैं, जिनके पास 2.36 करोड़ रूपए की संपत्ति है। ’’ संपत्ति के मूल्य के लिहाज से मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन 19 मंत्रियों में पांचवें नंबर पर हैं। उनके पास 1.07 करोड़ रूपए की संपत्ति है और उन पर 7.9 लाख रूपए की देनदारी है। विजयन को कल मुख्यमंत्री की शपथ दिलायी गयी।

Add to
Shares
0
Comments
Share This
Add to
Shares
0
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags