बिटक्वाइन और डॉजक्वाइन को भूल जाएंगे, यह क्रिप्टोकरेंसी साल 2021 में ही दे चुकी है 300 फीसदी रिटर्न

हाल ही में बिटक्वाइन और डॉजक्वाइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी अधिक चर्चा में रही हैं लेकिन एक अन्य क्रिप्टोकरेंसी ऐसी भी है जिसने सिर्फ साल 2021 में ही 300 प्रतिशत का रिटर्न निवेशकों को दिया है। इस खास क्रिप्टोकरेंसी का नाम है एथेरियम।
0 CLAPS
0

"एक ओर जहां एलोन मस्क जैसे दुनिया के दिग्गज व्यवसायी कई बार क्रिप्टोकरेंसी की पैरवी करते हुए देखे जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर क्रिप्टोकरेंसी आज निवेशकों को कई गुना अधिक रिटर्न देने वाला माध्यम भी बन गई है।"

बीते कुछ सालों से निवेश के लिए क्रिप्टोकरेंसी एक चर्चित माध्यम बनकर उभरा है। भारत समेत दुनिया भर में लोग क्रिप्टोकरेंसी पर भारी निवेश कर रहे हैं। एक ओर जहां एलोन मस्क जैसे दुनिया के दिग्गज व्यवसायी कई बार क्रिप्टोकरेंसी की पैरवी करते हुए देखे जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर क्रिप्टोकरेंसी आज निवेशकों को कई गुना अधिक रिटर्न देने वाला माध्यम भी बन गई है।

हाल ही में बिटक्वाइन और डॉजक्वाइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी अधिक चर्चा में रही हैं लेकिन एक अन्य क्रिप्टोकरेंसी ऐसी भी है जिसने सिर्फ साल 2021 में ही 300 प्रतिशत का रिटर्न निवेशकों को दिया है। इस खास क्रिप्टोकरेंसी का नाम है एथेरियम।

बनाया है रिकॉर्ड

क्रिप्टोकरेंसी एथेरियम ने सोमवार को अपनी कीमत के मामले में 3,017 डॉलर की नई ऊंचाई छू ली है। इसी के साथ एथेरियम इस साल की शुरुआत से अब तक अपने निवेशकों को 300 प्रतिशत का रिटर्न देने वाली क्रिप्टोकरेंसी भी बन गई है। रिटर्न के मामले में एथेरियम ने बहुचर्चित क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन को भी पीछे धकेल दिया है।

गौरतलब है कि बीते हफ्ते ही एक रिपोर्ट सामने आई थी कि यूरोपियन निवेश बैंक (ईआईबी) एथेरियम ब्लॉकचेन नेटवर्क पर एक डिजिटल बॉन्ड की बिक्री शुरू कर सकती है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि ईआईबी दो साल के लिए 100 मिलियन यूरो के डिजिटल बॉन्ड जारी करने की योजना पर काम कर रही है।

बिटक्वाइन से 95 फीसदी आगे

गौरतलब है कि एथेरियम ने 300 प्रतिशत उछाल के साथ भारतीय मुद्रा में लगभग 2.2 लाख रुपये का रिकॉर्ड दर्ज़ किया है और यह इसी दौरान बिटक्वाइन के रिटर्न से 95 प्रतिशत अधिक है। मालूम हो कि एथेरियम को बिटक्वाइन के बाद दूसरी सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी माना जाता है। सोमवार का दिन एथेरियम के साथ बिटक्वाइन के लिए भी काफी अच्छा साबित हुआ है, इस दौरान एक बड़ी उछाल के साथ बिटक्वाइन की कीमत लगभग 58 हज़ार डॉलर यानी करीब 43 लाख रुपये के आस-पास देखी गई है।

ओपेन सोर्स ब्लॉकचेन सॉफ्टवेयर एथेरियम को साल 2014 में शुरू किया गया था। मालूम हो कि इसके शुरुआती डेवलपमेंट का काम क्राउडफंडिंग के जरिए किया गया था। खबर लिखे जाने तक एक एथेरियम क्वाइन की कीमत 2 लाख 43 हज़ार रुपये से भी अधिक दर्ज़ की गई है।

क्रिप्टोकरेंसी में दान

भारत इस समय कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और इस बीच एथेरियम के सह-संथापक विटालिक बुटेरिन ने हाल ही में भारत के लिए 100 ईथर (ETH) और 100 मेकर (MKR) का दान किया है। इसकी कुल कीमत 4.5 करोड़ रुपये के आस-पास है। विटालिक ने अपने दान के संबंध में एथरस्कैन से जुड़े लिंक भी शेयर किए हैं जिनके जरिए उनके दान की राशि का पता लगाया जा सकता है।

हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ब्रेट ली ने भी कोरोना काल में भारत के लोगों की तरफ मदद का हाथ बढ़ाते हुए एक बिटक्वाइन का दान किया था। ब्रेट ली का यह दान भारत के अस्पतालों में ऑक्सिजन सप्लाई बढ़ाने के काम आएगा। गौरतलब है कि अपने कई इंटरव्यू में भारत के प्रति लगाव जता चुके ब्रेट ली भारत को अपना दूसरा घर कहते हैं।

Edited by Ranjana Tripathi

Latest

Updates from around the world