कोई भी बिजनेस लोन लेने से पहले पूछें ये 7 जरूरी सवाल

बैंक से लोन लेने के लिए क्रेडिट स्‍कोर उतना ही जरूरी है, जितना चाय बनाने के लिए चायपत्‍ती. बाकी सारी अर्हताएं पूरी होने के बाद भी खराब क्रेडिट स्‍कोर आपका काम बिगाड़ सकता है.
0 CLAPS
0

यदि आप कोई नया बिजनेस शुरू करने की योजना बना रहे हैं और उसके लिए छोटी या बड़ी अवधि का लोन लेना चाहते हैं तो आपके जेहन में 7 बुनियादी सवाल जरूर आते होंगे. जैसेकि कितना लोन मिल सकता है, कहां से मिल सकता है, लोन लेने की अर्हताएं क्‍या हैं, कितन स्थितियों में बैंक लोन देने से इनकार कर सकते हैं. आइए हम बताते हैं आपको कौन से हैं वो 7 जरूरी सवाल और उनके जवाब.

 

सवाल- लोन लेने के लिए क्रेडिट स्‍कोर का कितना महत्‍व है? नया बिजनेस शुरू करने के लिए यदि इंस्टेंट बिजनेस लोन (Instant Business Loan) लेना हो तो कम से कम कितना क्रेडिट स्‍कोर होना चाहिए?

उत्तर- किसी भी बैंक या फायनेंशियल इंस्‍टीट्यूशन से लोन लेने के लिए कम से कम 700 क्रेडिट स्‍कोर होना जरूरी है. 750 और उससे ऊपर का क्रेडिट स्‍कोर अच्छा माना जाता है. क्रेडिट स्‍कोर जितना ज्‍यादा होता है, आसानी से लोन मिलने की संभावना उतनी बढ़ जाती है.

सवाल- बिज़नेस लोन (Business Loan) को चुकाने के लिए कितना समय मिलता है यानि भुगतान की अवधि कितनी होती है?

उत्तर- बिजनेस लोन के भुगतान की कोई निश्चित अवधि नहीं होती. यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितना बड़ा और कितने समय का लोन ले रहे हैं. यदि आप शॉर्ट टर्म लोन ले रहे हैं तो भुगतान की अवधि 12 से 14 महीने तक हो सकती है. यदि आप चाहें तो ईएमआई ज्‍यादा रखकर छह से आठ महीने में भी लोन चुका सकते हैं. वहीं यदि लोन की राशि ज्‍यादा है तो भुगतान की अवधि पांच साल तक की हो सकती है.

सवाल- बिजनेस लोन लेने के लिए न्‍यूनतम आयु सीमा कितनी है?

उत्तर- बिजनेस लोन लेने की आयु सीमा भी वही है, जो वोट देने की है. हालांकि ऑनलाइन कुछ स्रोतों पर यह गलत जानकारी दी गई है कि लोन लेने की न्‍यूनतम आयु 21 वर्ष है. भारत में 18 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी व्‍यक्ति बिजनेस लोन लेने के लिए आवेदन कर सकता है.

सवाल- अगर आप पहले से कोई बिजनेस चला रहे हैं और उसे बढ़ाने के लिए लोन लेना चाहते हैं तो क्‍या मौजूदा बिजनेस कोई न्‍यूनतम टर्नओवर होना जरूरी है ?

उत्तर- जी हां, न्‍यूयतम टर्नओवर होना जरूरी है, लेकिन यह नियम सभी बैंकों का अलग-अलग है. आमतौर पर यदि आपके बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख से ऊपर है तो आप बिजनेस लोन के लिए आवेदन दे सकते हैं. लेकिन 10 लाख टर्नओवर के साथ-साथ सालाना न्‍यूनतम आय दो लाख रु. होना जरूरी है. साथ ही यह भी अनिवार्य है कि बिजनेस पिछले दो सालों से प्रॉफिट में हो. यदि बिजनेस घाटे में चल रहा है तो लोन मिलने में दिक्‍कत हो सकती है. 

सवाल- किसी नए बिजनेस के लिए लोन लेने जाएं तो उस पर GST का क्या असर होता है?

उत्तर- जो व्‍यवसाय GST के दायरे में आते हैं, उन पर बिजनेस लोन मिलने में आसानी होती है. GST ज्‍यादा होने का अर्थ है ज्‍यादा मुनाफा. ऐसे बिजनेस पर बैंक भी आसानी से भरोसा करते हैं.     

सवाल- बिजनेस लोन की प्री-क्लोज़र और पार्ट-पेमेंट फीस कितनी होती है?

उत्तर- हर बैंक की  प्री-क्लोज़र और पार्ट-पेमेंट फीस अलग-अलग होती है. यह इस पर‍ निर्भर है कि आपने किस बैंक से लोन लिया है. कुछ बैंक इसके लिए कोई पैसा चार्ज नहीं करते. लेकिन आमतौर पर यह अमाउंट लोन अमाउंट का 4  से 5 प्रतिशत तक हो सकता है.  

सवाल- क्‍या भारत सरकार की कोई लोन योजनाएं हैं?

उत्तर- भारत सरकार नए व्‍यवसायों को प्रेरित करने के लिए कुछ सरकारी लोन योजनाएं चलाती है. जैस‍ेकि मुद्रा योजना, सिडबी लोन, CGTMSE, PMEGP, स्टैंड-अप इंडिया, स्टार्ट-अप इंडिया, 59 मिनट में PSB लोन, NSIC और नाबार्ड इत्‍यादि. इसकी विस्‍तृत जानकारी आपको भारत सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर मिल जाएगी.

Edited by Manisha Pandey

Latest

Updates from around the world