स्थानीय उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों से बड़े उद्योगों और MSME को हुआ लाभ: पीयूष गोयल

By रविकांत पारीक
February 26, 2022, Updated on : Sat Feb 26 2022 04:06:56 GMT+0000
स्थानीय उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों से बड़े उद्योगों और MSME को हुआ लाभ: पीयूष गोयल
केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने स्केल समिति की बैठक की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने कहा, "सरकारी प्रयासों से देश में अधिक से अधिक रोजगार के अवसर पैदा होंगे।"
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री, पीयूष गोयल ने कहा, उद्योग ने स्थानीय उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा किए गए कई प्रयासों को हाथों-हाथ लिया है, जिससे न केवल बड़े उद्योगों को बल्कि एमएसएमई को भी लाभ हुआ है। स्थानीय उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ाने और निर्यात को आगे बढ़ाने पर संचालन समिति (स्केल) की आज यहां समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि इन प्रयासों से देश में अधिक से अधिक रोजगार सृजन हो रहा है।


बैठक के दौरान गोयल ने दुनिया भर में वैल्यू चेन में मौजूदा अवरोधों के बीच विनिर्माण के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में स्थानीय उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए नवीन तरीकों की खोज करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इससे उभरती वैश्विक वैल्यू चेन में भारत की उपस्थिति बढ़ेगी।


ऑटो कंपोनेंट्स, व्हाइट गुड्स (एसी, इलेक्ट्रॉनिक्स और टीवी), सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग, प्लास्टिक, फर्नीचर, साइकिल और ई-साइकिल, बैटरी, चमड़ा और जूते और मत्स्य पालन सहित विभिन्न क्षेत्रों के उद्योग और निर्यात प्रतिनिधियों ने इस विचार-विमर्श में भाग लिया।


एमओएस (वाणिज्य और उद्योग) सोम प्रकाश, सचिव, डीपीआईआईटी, अनुराग जैन और राजीव सिंह ठाकुर, अपर सचिव, डीपीआईआईटी ने बैठक में भाग लिया। बैठक में भाग लेने वाले स्केल समिति के सदस्यों में डॉ. पवन गोयनका (अध्यक्ष, स्केल समिति), चंद्रजीत बनर्जी, सीआईआई के महानिदेशक, अरुण चावला, महानिदेशक, फिक्की, दीपक सूद, महासचिव, एसोचैम, दीपक बागला सीईओ, इन्वेस्ट इंडिया, सलिल सिंघल, अध्यक्ष और एमडी, पीआई इंडस्ट्रीज, शेषगिरी राव, जेएमडी और ग्रुप सीएफओ, जेएसडब्ल्यू स्टील, अनिल अग्रवाल, अपर सचिव, डीपीआईआईटी, डॉ. अमिय चंद्रा, अपर डीजीएफटी, मनीष शर्मा, अध्यक्ष, फिक्की इलेक्ट्रॉनिक्स और व्हाइट गुड्स मैन्युफैक्चरिंग कमेटी और अध्यक्ष और सीईओ, पैनासोनिक इंडिया प्रा. लिमिटेड, विक्रम एस किर्लोस्कर वाइस चेयरमैन, टोयोटा किर्लोस्कर मोटर, जलज दानी, अध्यक्ष, एडवरब टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड और सह-प्रवर्तक, एशियन पेंट्स लिमिटेड और मनमीत के. नंदा, संयुक्त सचिव, स्केल और ब्रांड इंडिया सेल, डीपीआईआईटी (सदस्य संयोजक, स्केल समिति) शामिल थे।