इस कंपनी की इतनी मोटी सैलरी, 220 कर्मचारी कमा रहे 1 करोड़ रुपये

वित्त वर्ष 2021-22 में ITC के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक संजीव पुरी को मिला कुल पारिश्रमिक 5.35 प्रतिशत बढ़कर 12.59 करोड़ रुपये हो गया.
0 CLAPS
0

ITC Group में वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान सालाना एक करोड़ रुपये से अधिक सैलरी पाने वाले कर्मचारियों की संख्या 44 प्रतिशत बढ़ गई. न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी की सालाना रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. आईटीसी की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2021-22 में प्रति माह 8.5 लाख रुपये या प्रति वर्ष एक करोड़ रुपये से ज्यादा सैलरी पाने वाले आईटीसी कर्मचारियों की कुल संख्या 220 थी. यह संख्या इससे पिछले वित्त वर्ष में 153 थी.

वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया, ‘‘220 ऐसे कर्मचारी थे, जो पूरे वित्त वर्ष में कार्यरत थे और जिन्हें इस दौरान कुल मिलाकर 102 लाख रुपये यानी प्रति माह 8.5 लाख रुपये या इससे अधिक पारिश्रमिक मिला.’’

ITC के MD का वेतन कितना

आईटीसी ने बताया कि वित्त वर्ष 2021-22 में आईटीसी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक संजीव पुरी को मिला कुल पारिश्रमिक 5.35 प्रतिशत बढ़कर 12.59 करोड़ रुपये हो गया. इसमें 2.64 करोड़ रुपये की कंसोलिडेटेड सैलरी, 49.63 लाख रुपये के अनुलाभ/अन्य लाभ और 7.52 करोड़ रुपये का परफॉर्मेंस बोनस शामिल है.

वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया कि पुरी का वेतन सभी कर्मचारियों के पारिश्रमिक के औसत के मुकाबले 224 गुना था. पुरी का सकल पारिश्रमिक वित्त वर्ष 2020-21 में 11.95 करोड़ रुपये था. आईटीसी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर बी सुमंत और आर टंडन दोनों को वित्त वर्ष 2021-22 में 5.76 करोड़ रुपये का पारिश्रमिक मिला. वहीं एक अन्य एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर एन आनंद के मामले में यह आंकड़ा 5.60 करोड़ रुपये रहा.

कुल कितने कर्मचारी

आईटीसी के कर्मचारियों की कुल संख्या 31 मार्च, 2022 तक 23,829 थी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 8.4 प्रतिशत कम है. कर्मचारियों की इस संख्या में 21,568 पुरुष और 2261 महिलाएं हैं. इसके अलावा कंपनी में स्थायी कर्मचारियों से अलग और 25,513 कर्मचारी भी हैं. 31 मार्च 2021 को आईटीसी में कुल कर्मचारी 26017 थे.