LinkedIn ने लॉन्च किया नया फीचर, फेक प्रोफाइल पर लगेगी रोक

By रविकांत पारीक
October 27, 2022, Updated on : Thu Oct 27 2022 07:53:41 GMT+0000
LinkedIn ने लॉन्च किया नया फीचर, फेक प्रोफाइल पर लगेगी रोक
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रोफेशनल सोशल मीडिया साइट LinkedIn ने अपने यूजर्स के लिए एक खास फीचर लॉन्च किया है. यह फीचर फेक प्रोफाइल की पहचान करेगी में कारगर साबित होगा. पिछले कुछ वर्षों में सोशल मीडिया पर फेक प्रोफाइल और स्पैमिंग जैसी समस्याएं काफी बढ़ गई है, और फेक यूजर्स का पता लगाना हमेशा प्लेटफॉर्म और यूजर्स के लिए एक गंभीर बात रही है. इसी समस्या से निपटने के लिए LinkedIn ये नया फीचर लेकर आया है.


LinkedIn का "About this profile" फीचर यूजर्स को उनकी प्रोफाइल के बारे में अतिरिक्त जानकारी देगा. LinkedIn एआई-जनरेटेड प्रोफाइल प्रॉम्प्ट्स और ग्राफिक्स का उपयोग करेगा ताकि यूजर्स के लिए प्रोफाइल की जांच करना और यह तय करना आसान हो सके कि वे प्रोफाइल ओरिजिनल है या स्पैम. इसके साथ ही यह फीचर यह भी बताएगा कि प्रोफाइल कब बनाई गई थी, इसे आखिरी बार कब अपडेट किया गया था आदि.


LinkedIn यूजर अब नए टूल की सहायता से धोखेबाजों के संभावित रेड फ्लैग्स पर एम्प्लॉयमेंट हिस्ट्री, प्रोफाइल में बदलाव के साथ-साथ अन्य चीजों की जांच कर सकेंगे. आने वाले हफ्तों में, लिंक्डइन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस फीचर को शुरू कर देगा.


अपने नेटवर्क को अधिक सुरक्षित रखने के लिए एक अहम कदम के रूप में लिंक्डइन अब फ़्लैग किए गए प्रोफाइल और फर्जी प्रोफाइल अकाउंट को खत्म कर रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि LinkedIn ने "ऑटोमैटिक डिफेंस का इस्तेमाल करते हुए 96% फर्जी अकाउंट पहले ही डिलीट कर दिए है." साथ ही आप यह पता लगा सकते हैं कि कोई अकाउंट कब बनाया गया था, इसे अंतिम बार कब अपडेट किया गया था, और "About this profile" फ़ंक्शन का उपयोग करके किसी वर्किंग ईमेल या फ़ोन नंबर से इसकी पुष्टि की गई है या नहीं.


साल 2021 की दूसरी छमाही में, इसने रजिस्ट्रेशन के समय 11.9 मिलियन फेक अकाउंट्स को हटा दिया और दूसरे यूजर्स द्वारा रिपोर्ट किए जाने से पहले इसने 4.4 मिलियन फेक अकाउंट्स को हटाया था.


बीते हफ्ते ही Linkedin ने बड़ी कार्रवाई करते हुए करीब छह लाख प्रोफाइल को डिलीट किया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये सभी अकाउंट Apple के कर्मचारी के तौर पर बनाए गए थे, जबकि हकीकत में इन अकाउंट का Apple से कोई संबंध ही नहीं था और ना ही इनमें से कोई Apple के साथ काम कर रहा था. एक झटके में इतने अकाउंट के गायब होने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि Apple ने एक रात में इतनी बड़ी छंटनी कर दी है, जबकि वास्तव में ये फर्जी प्रोफाइल थे.


इससे पहले एक दिन में अमेजन में फर्जी तौर पर काम करने वाले लिंक्डइन प्रोफाइल पर भी बड़ी कार्रवाई हुई जिसके बाद अमेजन के कर्मचारी के तौर पर प्रोफाइल वालों की संख्या 12 लाख से घटकर 8,38,601 हो गई.


LinkedIn ने अपने एक बयान में कहा है कि फर्जी प्रोफाइल पर कार्रवाई के बाद यह संख्या कम हुई है. इससे पहले क्रिप्टो एक्सचेंज कंपनी Binance ने कहा था कि लिंकडिन पर 7,000 प्रोफाइल Binance के कर्मचारी के तौर पर मौजूद हैं, जिनमें 50 फीसदी फर्जी हैं. ऐसे में आपके लिए बहुत जरूरी है कि सोच-समझकर ही LinkedIn पर किसी से जुड़ें और अब ये देखना होगा कि LinkedIn का ये नया फीचर फेक प्रोफाइल पर नकेल कसने में कितना अहम साबित होता है?

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें