लॉकडाउन: बेटी से मिलने आए बुजुर्ग को पुलिस ने क्यों भेजा वृद्धाश्रम?

लॉकडाउन: बेटी से मिलने आए बुजुर्ग को पुलिस ने क्यों भेजा वृद्धाश्रम?

Thursday April 23, 2020,

2 min Read

बुजुर्ग अपनी बेटी से मिलने उसके घर आया था, लेकिन अचानक लॉकडाउन की घोषणा हो गई और वह वहीं फस गया।

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र



कोरोना वायरस के चलते लागू हुए देशव्यापी लॉकडाउन के चलते देश के तमाम हिस्सों में लोग फसे हुए हैं और अपने घरों को जाने को बेताब हैं, इस बीच एक बुजुर्ग के साथ लॉकडाउन में ऐसा वाकया हुआ, जिसकी उन्होने कल्पना भी नहीं की होगी।


हुए यूं कि 80 साल के बुजुर्ग रमेश चंद्र शर्मा अपनी बेटी से मिलने के लिए लुधियाना से भरतपुर आए थे, इसी बीच लॉकडाउन की घोषणा हो गई और वे वहीं अटक गए। इस दौरान उनकी बेटी ने उन्हे अपने पास रखने से इंकार कर दिया और उनका बेटा उन्हे पंजाब से लेने आ नहीं सका।


ऐसे में पुलिस ने रमेश की मदद करते हुए उन्हे वैकल्पिक तौर पर वृद्धाश्रम में भर्ती करवाया है, जबकि प्रताड़णा के आरोप में पुलिस ने दामाद को गिरफ्तार कर लिया है।


पुलिस के अनुसार रमेश के बेटे से बात कर उनका ऑनलाइन पास भी बनवाया गया था, लेकिन उनका बेटा उन्हे लेने नहीं आया।


गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोत्तरी देखी जा रही है, वहीं देश में लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है।


खबर लिखे जाने तक देश में कोरोना वायरस के कुल 21455 मामले सामने आए हैं, जबकि 4382 लोग इससे रिकवर भी हुए हैं।