बुजुर्ग किसान पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'मोतीबाग' ऑस्कर के लिये नामित

बुजुर्ग किसान पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'मोतीबाग' ऑस्कर  के लिये नामित

Wednesday September 18, 2019,

2 min Read

डाक्यूमेंट्री फिल्म 'मोतीबाग' में पहाड़ के पलायन, पर्यावरण, जल संरक्षण को लेकर बुजुर्ग की जीवटता को मार्मिक रूप से सामने रखा गया है। फिल्म ने देश के कोने-कोने में लोक जीवन को दिखाया। केरल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय डॉक्यूमेंट्री फिल्म महोत्सव में ‘मोतीबाग’ को प्रथम पुरस्कार भी मिला है।

m

उत्तराखंड के किसान विद्यादत्त के जीवन संघर्ष पर बनी डाक्यूमेंट्री फिल्म 'मोतीबाग' को आस्कर पुरस्कारों के लिये नामित किया गया है । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज यहां यह जानकारी देते हुए डाक्यूमेंट्री फिल्म के निर्देशक निर्मल चंद्र डंडरियाल को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, उन्होंने इस फिल्म के आस्कर अवार्ड के लिये नामित होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि यह फिल्म युवाओं को अपने गांव में रहकर सेवा करने की प्रेरणा देने के साथ ही वहां से पलायन रोकने की दिशा में भी सहायक होगी। यह फिल्म प्रदेश के सुदूर पहाड़ी जिले पौड़ी गढवाल के किसान विद्यादत्त के जीवन संघर्ष पर बनी है ।


उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि हमारा पारम्परिक व्यवसाय कृषि तथा पशुपालन रहा है तथा इन क्षेत्रों में राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनायें सचालित की जा रही हैं । उन्होंने युवा किसानों से योजनाओं का लाभ लेकर कृषि एवं उद्यान को आर्थिकी का प्रभावी संसाधन बनाने तथा पलायन रोकने में अहम भूमिका निभाने की अपील भी की।





‘मोतीबाग’ अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित लॉस एंजलिस शहर में प्रदर्शित होगी। उत्तराखंड की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के बीच पौड़ी गढ़वाल जिला बसा है। जिले के विकास खंड कल्जीखाल स्थित सांगुडा गांव में बुजुर्ग किसान विद्या दत्त शर्मा विगत 52 वर्षों से पहाड़ की सजीवता को संजोए हुए हैं। गांव के इस बुजुर्ग के जीवन संघर्ष को डॉक्यूमेंट्री फिल्म में पिरोया गया है, जिसका नाम ‘मोतीबाग’ है।


फिल्म में पहाड़ के पलायन, पर्यावरण, जल संरक्षण को लेकर बुजुर्ग की जीवटता को मार्मिक रूप से सामने रखा गया है। डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘मोतीबाग’ ने देश के कोने-कोने में लोक जीवन को दिखाया। केरल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय डॉक्यूमेंट्री फिल्म महोत्सव में ‘मोतीबाग’ को प्रथम पुरस्कार मिला है।


प्रसिद्ध गढ़वाली फिल्म निर्देशक गणेश वीरान ने कहा,

पहाड़ की माटी में रचे-बचे रंग, धरती पुत्र के जीवन संघर्ष पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘मोतीबाग’ ऑस्कर के लिए चयनित हुई है। उत्तराखंड के लिए यह गौरव का क्षण है। हमें पूरी उम्मीद है कि ‘मोतीबाग’ की महक ऑस्कर पुरस्कार के रूप में अनमोल सौगात लेकर आएगी।