इस वीडियो टेक स्टार्टअप ने एक साल में की 2000+ वर्चुअल इवेंट्स की मेजबानी, Reliance, Amazon, Flipkart जैसी कंपनियां हैं इसकी क्लाइंट्स

एंटरप्राइज वीडियो टेक स्टार्टअप मल्टीटीवी (MultiTV) ने महामारी शुरू होने के बाद से स्टार्टअप्स, बड़े कॉरपोरेट्स और ट्रेड बॉडीज के लिए 2,000+ वर्चुअल इवेंट्स की मेजबानी की है। एक साल में इसका रेवेन्यू 300 फीसदी बढ़ा है।
0 CLAPS
0

सीरियल उद्यमी विकास समोटा ने अपना पहला स्टार्टअप 2010 में स्थापित किया था। इससे पहले उन्होंने अमेरिका में एटीएंडटी में इंजीनियर के रूप में तीन साल तक काम किया था।

उनकी कंपनी, साइबरलिंक्स ने हर मोबाइल प्रोडक्ट्स को डेवलप किया था। दरअसल में, मल्टी टीवी की उत्पत्ति तब हुई जब वह साइबरलिंक्स में सर्विस बिजनेस चला रहे थे।

विकास ने YourStory को बताया, "हमने महसूस किया कि वीडियो अगली बड़ी चीज हो सकती है, और हमें उद्यमों के लिए एक बहुत ही सरल, परेशानी मुक्त वीडियो समाधान की आवश्यकता है।"

2015 की बात है, जब विकास भारत में वापस आए थे और अपने गुरुग्राम मुख्यालय से मल्टीटीवी की स्थापना कर रहे थे। 10 कर्मचारियों की टीम के साथ, स्टार्टअप ने 2016 में अपना पहला प्रोडक्ट लॉन्च किया।

अब, मल्टीटीवी क्या हल करती है?

संस्थापक बताते हैं, “हम एक ठोस वीडियो टेक प्लेटफॉर्म की कमी को दूर करना चाहते थे। 2016 में, हमने नए जमाने की मीडिया कंपनियों, जैसे SonyLIV, Ditto TV [जो ZEE5 बन गई] और कई अन्य कंपनियों के साथ अपना पहला केस शुरू किया। ये कंपनियां अपने बिजनेस मॉडल को पारंपरिक टीवी प्रसारण से OTT, और उन टेलीकॉम ऑपरेटरों [वोडाफोन, आइडिया] में बदल रहे थे जो एक सेवा के रूप में वीडियो स्ट्रीमिंग की पेशकश करना चाहते थे।"

प्रोडक्ट ऑफरिंग और अलग-अलग इस्तेमाल

MultiTV ने एक फुल-स्टैक वर्टिकल इंटीग्रेटेड वीडियो टेक प्लेटफॉर्म बनाया है जो इंडस्ट्रीज में विभिन्न प्रकार के उपयोग में काम आ सकता है।

इनमें ओटीटी स्ट्रीमिंग, लाइव ब्रॉडकास्टिंग, वर्चुअल कॉन्फ्रेंस, प्रदर्शनियां, वेबिनार, ऑनलाइन व्यापार मेले, प्रोडक्ट लॉन्च, सेल्स ईवेंट्स, कॉर्पोरेट एजीएम, COVID-19 फंडरेसर, डिजिटल संगीत कार्यक्रम, खेल आयोजन आदि शामिल हैं।

यह स्टार्टअप Creator (व्हाइट-लेबल ओटीटी सॉल्यूशन) beLIVE (ऑल-इन-वन लाइव वर्चुअल और ऑनलाइन इवेंट प्लेटफॉर्म), Streamline (वीडियो ट्रांसकोडिंग और एन्कोडिंग सॉल्यूशन) और Pulse (लाइव टीवी विज्ञापन प्लेटफॉर्म) सहित प्रोडक्ट्स की लंबी फेहरिस्त के माध्यम से अपने क्लाइंट्स के लिए व्यक्तिगत वीडियो अनुभव पूरा करता है।

अपने प्लेटफॉर्म-एज-ए-सर्विस (PaaS) मॉडल के बारे में बात करते हुए विकास कहते हैं,

“हमने ब्रॉडकास्टर्स को सॉल्यूशन देना शुरू किया और दो से तीन वर्षों में, हमने एक फुल-स्टैक टेक प्लेटफॉर्म बनाया, जिसका इस्तेमाल दोनों, ब्रॉडकास्टर्स और अन्य उद्यमों द्वारा किया जा सकता है। हमने जो बड़े बदलाव देखे हैं उनमें से एक यह है कि वीडियो अपनाने में तेजी आ रही है, और वीडियो स्ट्रीमिंग/देखना अधिक व्यक्तिगत होता जा रहा है।"

MultiTV अपने टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म के जरिए प्रति माह कंटेंट के 1 मिलियन वीडियो पेश करता है

महामारी के चलते हुई जबरदस्त ग्रोथ

2019 के मध्य तक, मल्टीटीवी ने फॉर्च्यून 500 कंपनियों सहित 50 से अधिक एंटरप्राइज क्लाइंट को सर्विस प्रदान की थी। इसका राजस्व सालाना 100 प्रतिशत बढ़ रहा था।

लेकिन, फिर आया 2020 और इसकी ग्रोथ आसमान छूने लगी।

जैसे ही COVID-19 के प्रकोप के बाद दुनिया पूरी तरह से वर्चुअल हो गई, मल्टीटीवी के Paa समाधान की मांग बढ़ गई। व्यावहारिक रूप से हर व्यावसायिक कार्यक्रम लगभग रातोंरात ऑनलाइन हो गया।

स्टार्टअप का ग्राहक आधार 5 गुना बढ़कर 250+ क्लाइंट हो गया, और महामारी के एक वर्ष के भीतर राजस्व में 300 प्रतिशत की वृद्धि हुई। विकास कहते हैं, "कई व्यवसायों ने जिन्होंने कभी डिजिटल होने की कल्पना नहीं की थी, महामारी के बाद उन्हें अपने व्यवसायों को डिजिटाइज करने के लिए मजबूर होना पड़ा।"

उन्होंने आगे बताया, “COVID-19 की शुरुआत के बाद से, हमने भारतीय और वैश्विक कंपनियों के लिए 2,000 से अधिक वर्चुअल इवेंट संचालित किए हैं। हमने एजीएम, डिजिटल कॉन्सर्ट, एक्सपो, जॉब फेयर और कामों में मेजबानी की है। हमने एक दर्जन देशों में 10,000+ स्पीकर्स को जुड़ते हुए देखा है, और लगभग 10 मिलियन लोग इन लाइव कार्यक्रमों में शामिल हुए हैं।"

Infographic: YS Design

आज, मल्टीटीवी 50+ मिलियन उपभोक्ताओं को वीडियो सर्व करता है और प्रति माह एक मिलियन घंटे से अधिक वीडियो कंटेंट को प्रोसेस करता है। कंपनी यह भी दावा करती है कि भारत में दैनिक ओटीटी दर्शकों की संख्या का 20 प्रतिशत से अधिक इसकी वीडियो प्लेटफॉर्म्स द्वारा संचालित है।

इसके कुछ ग्राहकों में एशियन पेंट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, बीपीसीएल, ऑडी, होंडा जैसी लेगेसी कंपनियां शामिल हैं; इसके अलावा सीआईआई, आईएफएफआई और टीआईई जैसे व्यापार और उद्योग निकाय; फ्लिपकार्ट, अमेजॉन, सैमसंग, श्याओमी, माइक्रोसॉफ्ट, सिस्को जैसे स्टार्टअप और तकनीकी दिग्गज; SonyLIV, MX Player, Voot, 9XM, और अन्य जैसी मनोरंजन कंपनियाँ भी शामिल हैं।

विकास बताते हैं, “हमारा अपना वीडियो डेटा सेंटर और अर्थ स्टेशन है। तकनीक के अलावा, हम ग्राहकों को उच्चतम स्तर की डेटा सुरक्षा और गोपनीयता प्रदान करते हैं।”

मल्टीटीवी दोतरफा राजस्व मॉडल पर काम करती है। एंटरप्राइज ग्राहकों से प्लेटफॉर्म के लिए या तो मंथली सब्सक्रिप्शन लिया जाता है, या वे प्रति ईवेंट भुगतान करते हैं।

विकास ने खुलासा किया, "हमारी सेवाओं का लाभ 100 डॉलर के मामूली शुल्क पर लाइव इवेंट के लिए लिया जा सकता है और ये कीमत फुल-स्टैक सब्सक्रिप्शन के लिए एक मिलियन डॉलर तक जा सकती है - जो हमारा सबसे बड़ा ग्राहक भुगतान करता है।"

MultiTV ने सरकार के साथ-साथ उद्योग निकायों जैसे CII, IFFI, TIE आदि के लिए कार्यक्रमों की मेजबानी की है।

भविष्य का रोडमैप और प्लेटफॉर्म-एज-ए-सर्विस (PaaS) अवसर

वर्चुअल इवेंट, ओटीटी स्ट्रीमिंग और लाइव वीडियो स्पेस में उछाल पर सवार होकर, मल्टीटीवी अगले तीन वर्षों में 100 मिलियन डॉलर के कारोबार का लक्ष्य बना रहा है।

संस्थापक कहते हैं, “वीडियो तकनीक का इस्तेमाल कर व्यवसायों के डिजिटलीकरण की दिशा में अभियान अविश्वसनीय गति से होने जा रहा है। केपीएमजी ने भविष्यवाणी की थी कि 2022 तक [व्यवसायों की] राजस्व वृद्धि का 80 प्रतिशत डिजिटल ऑफरिंग और संचालन से आएगा। ऐसा कोई कारण नहीं है कि अब कंपनियां परिवर्तन की ओर नहीं बढ़ना चाहेंगी, और वे हमारे जैसे भागीदारों की ओर रुख कर रही हैं ताकि उन्हें उन कदमों में मदद मिल सके।”

मल्टीटीवी को उम्मीद है कि उसका ग्राहक आधार और राजस्व 2020 तक दोगुना हो जाएगा। यह अंतरराष्ट्रीय विस्तार के लिए "बिल्डिंग ब्लॉक्स" भी लगा रहा है। विकास कहते हैं, "इस साल हमारी टीम का साइज दोगुना होकर 150 हो जाएगा। हम अमेरिका और यूरोपीय बाजारों में सेल्स और मार्केटिंग के लिए सीनियर ग्लोबल टैलेंट को काम पर रखने की प्रक्रिया में हैं।"

स्टार्टअप ने अब तक निपुण साहनी (अपोलो ग्लोबल में पार्टनर) के नेतृत्व में केवल एक एंजेल राउंड की फंडिंग उठाई है। वह मैनेजमेंट के एडवाइजर और मेंटॉर के रूप में भी काम करते हैं।

इसके प्रतिस्पर्धियों में हुबिलो, एयरमीट, ब्रेला और अन्य शामिल हैं। हालांकि, उनके विपरीत, मल्टीटीवी प्रोडक्ट आईपी का मालिक है, जो यह मानता है कि केपीएमजी के अनुसार 2026 तक 164.3 बिलियन डॉलर के वैश्विक PaaS बाजार में प्रतिस्पर्धात्मक लाभ के रूप में काम करेगा।

विकास ने बाजार के अवसर के बारे में बताते हुए अंत में कहा, “महामारी के कारण तकनीक को अपनाना शानदार रहा है और, हमारे विचार में, अपरिवर्तनीय है। व्यवसायों ने महसूस किया है कि विश्व स्तर पर विस्तार व आगे रहने के लिए, उन्हें वीडियो तकनीक में निवेश करना होगा। और हम महामारी के बाद भी ग्रोथ मोड में बने रहेंगे।”

Edited by Ranjana Tripathi

Latest

Updates from around the world