ट्विटर हेडक्वॉर्टर में रखे सामानों की नीलामी कर रहे मस्क, बर्ड स्टैच्यू से लेकर कॉफी मशीन की लग रही बोली

By yourstory हिन्दी
December 13, 2022, Updated on : Tue Dec 13 2022 06:13:59 GMT+0000
ट्विटर हेडक्वॉर्टर में रखे सामानों की नीलामी कर रहे मस्क, बर्ड स्टैच्यू से लेकर कॉफी मशीन की लग रही बोली
सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक ये नीलामी 17-18 जनवरी तक चलेगी. इस नीलामी में सैन फ्रांसिस्को स्थित कंपनी के हेडक्वॉर्टर में रखी चीजों से लेकर स्मृति चिन्ह को भी शामिल किया जाएगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एलन मस्क ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म Twitter को खरीदने के बाद सबसे पहले कॉस्ट कटिंग काम अपने हाथों में लिया. कई फैसलों के बाद मस्क अब हेडक्वॉर्टर में रखी चीजों को बेच कर कंपनी के लिए फंड जुटाने की तैयारी कर रहे हैं.


सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक मस्क 17 जनवरी को ट्विटर के हेडक्वॉर्टर की चीजों को नीलाम करने की प्लानिंग बना रहे हैं. इस नीलामी में सैन फ्रांसिस्को स्थित कंपनी के हेडक्वॉर्टर में रखी चीजों से लेकर स्मृति चिन्ह को भी शामिल किया जाएगा.


जिन सामानों की नीलामी होनी है उन्हें हेरिटेज ग्लोबल पार्टनर बेचेगी. ये सामान बिडस्पॉटर की वेबसाइट पर लिस्ट हो चुके हैं. नीलामी 17 जनवरी 2023 से शुरू होगी और 18 जनवरी तक चालू रहेगी.


जिन चीजों को नीलामी के लिए रखा गया है उनमेंः ट्विटर के लोगो वाली बड़े आकार की एक चिड़िया का स्टैच्यू है, एक प्रोजेक्टर, आईमैक डिस्प्ले, एस्प्रेसो मशीन, सीट और किचनवेयर की चीजें हैं.


नीलामी में इंडस्ट्रियल किचन इक्विपमेंट जैसे फ्रीज और पिज्ज अवन भी सामिल हैं. शुरुआती बोली 25 से 50 डॉलर की रेंज में शुरू हो सकती है.


हालांकि नीलामी का कामकाज देखने वाली कंपनी हेरिटेज ग्लोबल पार्टनर्स के हेड निक डोव ने मीडिया से कहा है कि उन लोगों ने ट्विटर को खरीदने के लिए 44 अरब डॉलर दिए हैं. हम कुछ कुर्सियां, डेस्क और कम्प्यूटर बेच रहे हैं.


अगर किसी को लगता है कि कुछ कम्प्यूटर्स और कुर्सियों को बेचकर कंपनी के लिए पैसे जुटाए जा रहे हैं तो ये सोचना बेवकूफी ही होगी.


आपको बता दें कि मस्क ट्विटर को खरीदने के बाद से ही कॉस्ट कटिंग को लेकर कई फैसले कर रहे हैं. उनके आते ही हजारों एंप्लॉयीज को नौकरी से निकाला गया.


टीम को क्लाउड सर्विसेज में कटौती, एक्स्ट्रा सर्वर स्पेस को कम करके इंफ्रास्ट्रक्चर पर होने वाला सालाना खर्च घटाकर 1 अरब डॉलर तक की कॉस्ट कंटिंग करने का आदेश दिया गया.


जिसकी वजह से कई पूर्व एंप्लॉयीज ने मस्क के इस कदम को श्रम कानूनों का उल्लंघन बताते हुए उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया था.


मस्क ने 4 नवंबर को कहा था, कई एक्टिविस्ट एडवर्टाइजर्स को हमारे प्लैटफॉर्म पर ऐड नहीं देने के लिए भड़का रहे हैं और इस वजह से ट्विटर के रेवेन्यू में भारी कमी आई है. 


कुछ समय पहले ही एलन मस्क ने ट्विटर के हेडक्वॉर्टर में बने रूम में सोने की जगह का इंतजाम करने का आदेश दिया था. साथ ही एंप्लॉयीज को सैन फ्रांसिस्को के ऑफिस से काम करने को कहा था. उनके इस कदम की भी काफी आलोचना हुई थी.


Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close