National Sports Day : महिला खिलाडि़यों की जिंदगी पर बनी बॉलीवुड की ये पांच फिल्‍में सबको जरूर देखनी चाहिए

बॉलीवुड की ये पांच कल्‍ट फिल्‍में उन महिलाओं की जिंदगी पर आधारित हैं, जिन्‍होंने रूढि़यों को तोड़कर और समाज से लड़कर खेल की दुनिया में अपना और देश का नाम रौशन किया है.

National Sports Day : महिला खिलाडि़यों की जिंदगी पर बनी बॉलीवुड की ये पांच फिल्‍में सबको जरूर देखनी चाहिए

Monday August 29, 2022,

4 min Read

हर साल आज के दिन यानी 29 अगस्‍त को नेशनल स्‍पोर्ट्स डे मनाया जाता है. खेल की दुनिया की महान शख्सियतों की मेहनत, उनके जज्‍बे और खेल भावना का सम्‍मान करने का यह दिन है. पिछले कुछ सालों में बहुत सारी महिला खिलाडि़यों ने भी स्‍पोर्ट्स में अभूतपूर्व उपलब्धियां हासिल की हैं. ओलिंपिक से लेकर कॉमनवेल्‍थ खेलों तक महिला खिलाडि़यों ने धड़ाधड़ मेडल जीतकर देश का नाम रौशन किया है. इनमें से बहुत सी खिलाड़ी ऐसी भी हैं, जो समाज, परिवार और पितृसत्‍ता की बेडि़यों को तोड़कर इस मुकाम तक पहुंची हैं.  

बॉलीवुड में इनमें से कुछ महिला खिलाडि़यों पर बेहतरीन बायोग्राफिकल फिल्‍में बनी हैं. आइए आज बात करते हैं ऐसी ही पांच फिल्‍मों के बारे में, जो महिला खि‍लाडि़यों के जीवन पर आधारित हैं.

शाबास मिथु

मिथाली राज भारतीय महिला क्रिकेट का जाना-माना नाम हैं. अर्जुन अवॉर्ड, पद्मश्री और मेजर ध्‍यानचंद खेल रत्‍न अवॉर्ड से सम्‍मानित मिथाली की जिंदगी पर आधारित है श्रीजीत मुखर्जी निर्देशित 2022 की यह फिल्‍म ‘शाबास मिथु.’ मिथाली राज 1999 से लेकर 2022 तक इंडिया महिला क्रिकेट टीम की कैप्‍टन रहीं, जिनके खाते में खेल की अनगिनत उपलब्धियां दर्ज हैं. इंटरनेशनल विमेन क्रिकेट में 20 साल का शानदार कॅरियर पूरा करने वाली वह पहली भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ी हैं.

इस फिल्‍म में तापसी पन्‍नू ने मिथाली राज की भूमिका निभाई है. फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर भले कमाल न कर पाई हो, लेकिन प्रशंसकों और समीक्षकों का इसे भरपूर प्‍यार मिला है.

कहां देख सकते हैं – यह फिल्‍म अभी नेटफ्लिक्‍स पर देखी जा सकती है.

मैरी कॉम

2014 में एशियन गेम्‍स में गोल्‍ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी और छह बार वर्ल्‍ड एम्‍योर बॉक्सिंग चैंपियनशिप जीतने वाली बॉक्‍सर मैरी कॉम के जीवन पर आधारित है यह फिल्‍म. नाम है मैरी कॉम. 2014 में रिलीज हुई और ओमंग कुमार के निर्देशन में बनी इस फिल्‍म में केंद्रीय भूमिका निभाई है प्रियंका चोपड़ा ने. इस फिल्‍म को नेशनल फिल्‍म अवॉर्ड, फिल्‍मफेयर अवॉर्ड समेत ढेर सारे सम्‍मानों से नवाजा गया है. 

कहां देख सकते हैं – यह फिल्‍म अमेजन प्राइम पर देखी जा सकती है.

साइना

2021 में आई यह बायोग्राफिकल फिल्‍म बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल की जिंदगी पर आधारित है. फिल्‍म का निर्देशन किया है अमोल गुप्‍ते ने. 17 मार्च, 1990 को हरियाणा के हिसार में जन्‍मी साइना को भारतीय बैडमिंटन की गोल्‍डन गर्ल कहा जाता है. अब तक 24 इंटरनेशनल मैच जीत चुकी साइना एक समय दुनिया की नंबर 1 बैडमिंटन खिलाड़ी रह चुकी हैं. प्रकाश पादुकोण के बात खेल में इस ऊंचाई तक पहुंचने वाली वह दूसरी भारतीय खिलाड़ी और पहली महिला खिलाड़ी हैं. उन्‍होंने ओलिंपिक में तीन बार भारत का प्रतिनिधित्‍व किया है और दूसरी बार ब्रॉन्‍ज मेडल जीतकर लौटी हैं.

national sports day 2022  5 biopic films of bollywood based on life of indian sportswomen

अर्जुन अवॉर्ड, पद्मभूषण और मेजर ध्‍यानचंद खेल रत्‍न अवॉर्ड से सम्‍मानित साइना नेहवाल के जीवन पर बनी यह बायोग्राफिकल फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर खास कमाल नहीं दिखा पाई, लेकिन इसे समीक्षकों और दर्शकों का भरपूर प्‍यार मिला है.

कहां देख सकते हैं – यह फिल्‍म अमेजन प्राइम पर देखी जा सकती है.

साड़ की आंख

2019 में अनुराग कश्‍यप ने एक फिल्‍म प्रोड्यूस की, जिसके निदेशक थे तुषार हीरानंदानी. फिल्‍म का नाम था सांड़ की आंख. यह फिल्‍म ऐसी दो महिलाओं के जीवन पर आधारित है, जिनके खेल जीवन की शुरुआत जिंदगी के 60 बरस पूरे करने के बाद हुई. चंद्रो तोमर और प्रकाश तोमर को हरियाणा की शूटर दादियों के नाम से जाना जाता है. ये दोनों दुनिया की सबसे उम्रदराज शार्पशूटर हैं, जो अब तक 30 से ज्‍यादा नेशनल चैंपियनशिप्‍स जीत चुकी हैं. एक बार न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स को दिए एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने कहा था कि उनके हाथों में ताकत घर के काम करने, बोझा उठाने और मेहनत करने से आई है.

इस फिल्‍म में भूमि पेडनेकर और तापसी पन्‍नू ने लीड भूमिकाएं निभाई हैं. फिल्‍म को दर्शकों ने खूब सराहा है. मामूली बजट में बनी यह फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर भी सफल रही है.

कहां देख सकते हैं – यह फिल्‍म Zee5 पर देखी जा सकती है.

दंगल  

महिला खिलाडि़यों के जीवन पर बनी बॉलीवुड की अब तक ही सबसे सफल फिल्‍म है आमिर खान की दंगल, जिसका निर्देशन किया है नीतेश तिवारी ने. 2016 में आई यह फिल्‍म हरियाणा की दो कुश्‍ती चैंपियंस गीता और बबीता फोगाट की जिंदगी पर आधारित है, जिन्‍हें हरियाणा की फोगाट सिस्‍टर्स के नाम से जाना जाता है. फिल्‍म में बहुत महत्‍वपूर्ण भूमिका उनके पिता महावीर सिंह फोगाट की भी है, जिन्‍होंने तमाम प्रतिकूल परिस्थितयों और समाज के भारी विरोध के बावजूद अपनी बेटियों को कुश्‍ती की ट्रेनिंग दी, उन्‍हें लड़कों के साथ कुश्‍ती लड़वाई और अपनी बेटियों को इस मुकाम तक पहुंचाया, जहां उन्‍होंने अपने पिता के साथ-साथ देश का भी नाम रौशन किया. ये दोनों बहनें कॉमनवेल्‍थ खेलों में गोल्‍ड मेडल जीत चुकी हैं.   

कहां देख सकते हैं – यह फिल्‍म नेटफ्लिक्‍स पर देखी जा सकती है.


Edited by Manisha Pandey