हैदराबाद में नहीं होंगे एनआरसी-सीएए विरोध प्रदर्शन! पुलिस ने स्थिति कर दी स्पष्ट

By yourstory हिन्दी
December 27, 2019, Updated on : Fri Dec 27 2019 10:31:38 GMT+0000
हैदराबाद में नहीं होंगे एनआरसी-सीएए विरोध प्रदर्शन! पुलिस ने स्थिति कर दी स्पष्ट
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एनआरसी-सीएए को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच हैदराबाद पुलिस ने अब इन प्रदर्शनों लिए अनुमति देने से इंकार कर दिया है। गौरतलब है कि पुलिस का यह बयान तब सामने आया है जब हैदराबाद में 28 दिसंबर को सीएए के विरोध में एक विशाल मार्च प्रस्तावित है।

protest

(चित्र साभार: डेली वर्ल्ड)


एनआरसी और सीएए को एक ओर जहां देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, वहीं देश के कई हिस्सों से हिंसक झड़प की खबरें भी लगातार सामने आ रही है। कई हिस्सों में पुलिस पर अधिक बल प्रयोग के आरोप लगे, तो कहीं पर प्रदर्शनकारियों पर पुलिस के ऊपर हमला करने के भी आरोप सामने आए हैं।


इन सब के बीच अब हैदराबाद पुलिस ने शहर की सड़कों पर एनआरसी और सीएए के विरोध में किसी भी तरह की रैली व विरोध प्रदर्शन की अनुमति देने से इंकार कर दिया है।


हैदराबाद पुलिस कमिश्नर अंजनी कुमार ने यह स्पष्ट किया है हैदराबाद पुलिस की तरफ से इस तरह के विरोध प्रदर्शन करने की अनुमति किसी को नहीं दी जाएगी।


कुमार ने कहा है कि

“हम सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन करने कि अनुमति किसी को नहीं दे रहे हैं।”





गौरतलब है कि शहर में बीते कुछ दिनों से सड़कों पर प्रदर्शन करने के लिए पुलिस की तरफ से कोई अनुमति जारी नहीं की जा रही है, हालांकि बीते शनिवार एआईएमआईएम के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पार्टी मुख्यालय में सीएए के विरोध में एक विशाल विरोध का आयोजन किया था।


पुलिस का तर्क है कि विरोध-प्रदर्शन के चलते सड़कों पर भीषण जाम की स्थिति पैदा हो जाती है, जिसके चलते आम लोगों को ख़ासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस समस्या को ध्यान में रखता हुए पुलिस की तरफ से कोई अनुमति जारी नहीं की जा रही है।


इसके इतर 28 दिसंबर को तेलंगाना और आंध्रप्रदेश की जाइंट एक्शन कमेटी ने ‘मिलियन मार्च’ का आह्वान किया है। यह मार्च नेकलेस रोड से दोपहर 2 बजे से शुरू होना प्रस्तावित हुआ है। अब ऐसे में पुलिस की अनुमति के बगैर यह मार्च कैसे आयोजित होता है, इस पर अभी संशय बरकरार है।


मार्च के आयोजनकर्ताओं का दावा है कि इस मार्च को 40 से अधिक संगठन अपना समर्थन दे रहे हैं, हालांकि पुलिस ने अपनी तरफ से स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा है कि अभी तक किसी भी तरह की अनुमति जारी नहीं की गई है। पुलिस ने इस दौरान आम जनता से इस तरह की अफवाहों से दूर रहने की अपील की है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close