पूर्वी राज्यों से अपने साथ 2 लाख व्यापारियों को जोड़ेगी पेटीएम, 2020 के लिए कंपनी ने तय किया है लक्ष्य

By yourstory हिन्दी
January 17, 2020, Updated on : Fri Jan 17 2020 11:31:30 GMT+0000
पूर्वी राज्यों से अपने साथ 2 लाख व्यापारियों को जोड़ेगी पेटीएम, 2020 के लिए कंपनी ने तय किया है लक्ष्य
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश की दिग्गज ऑनलाइन पेमेंट कंपनी पेटीएम ने साल 2020 में देश के पूर्वी राज्यों से अपने साथ दो लाख से अधिक व्यापारियों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है। पेटीएम ने हाल ही में व्यापारियों के लिए 'ऑल इन वन' क्यूआर कोड भी जारी किया है।

paytm

(सांकेतिक चित्र सोर्स: इंटरनेट)



पेटीएम ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा है कि वो पूर्वी भारत हिस्से से अपने साथ दो लाख से अधिक व्यापारियों को जोड़ेगी। कंपनी ने इसके लिए मुख्यता पश्चिम बंगाल, असम, झारखंड और उड़ीसा जैसे राज्यों चुना है।

पेटीएम ने हाल ही में व्यापारियों के लिए ‘ऑल इन वन’ क्यूआर कोड जारी किया है, जिसके साथ एक ही कोड की मदद से पेटीएम वालेट और यूपीआई और रुपे कार्ड के जरिये पेमेंट की जा सकती है। इस सुविधा के लिए कंपनी 0 प्रतिशत शुल्क ले रही है।


पेटीएम के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सौरभ शर्मा के अनुसार पूर्वी भारत में कंपनी ने बीते 12 महीनों में 150 प्रतिशत की ग्रोथ हासिल की है। कंपनी अपने उत्पादों के साथ नए बैंकिंग और वित्तीय उत्पाद जोड़ने की तरफ आगे बढ़ रही है।


पेटीएम ने व्यापारियों के लिए ‘पेटीएम फॉर बिजनेस’ ऐप जारी किया है, जिसके तहत कंपनी व्यापारियों को सभी माध्यमों से पेमेंट ले सकने में सक्षम बनाने का काम कर रही है।


हालांकि पेटीएम ने आम यूजर्स को साल की शुरुआत में ही झटका दे दिया था। पेटीएम यूजर्स को अपनी वालेट में एक महीने के भीतर 10 हज़ार रुपये से अधिक डालने पर 2 प्रतिशत का शुल्क देना होगा।


इसके साथ ही पेटीएम ने अपने ग्राहकों को अब 24 घंटे NEFT के जरिये फंड ट्रांसफर का भी एलन किया है, हालांकिन यूपीआई और IMPS के जरिये यह सुविधा पहले से ही यूजर को उपलब्ध है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close